संयोग: सुषमा स्वराज ने आखिरी ट्वीट में PM मोदी से कहा- जीवन में इस दिन को देखने की कर रही थी प्रतीक्षा...

संयोग: सुषमा स्वराज ने आखिरी ट्वीट में PM मोदी से कहा- जीवन में इस दिन को देखने की कर रही थी प्रतीक्षा...

abdul bari | Publish: Aug, 07 2019 06:00:00 AM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

उनके गुर्दों का प्रत्यारोपण करीब तीन वर्ष पहले किया गया था। हालांकि वह उससे उभर गई थीं। इस बीच सूचना मिलते ही केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, राजनाथ ङ्क्षसह और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवद्र्धन समेत अनेक मंत्री और राजनेता एम्स पहुंचे। पीएम नरेंद्र मोदी ने स्वराज के निधन पर शोक जताते हुए कहा है कि राजनीति का एक गौरवशाली अध्याय समाप्त हो गया है।

जयपुर
भारतीय जनता पार्टी की दिग्गज नेता एवं पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का मंगलवार देर रात निधन ( sushma swaraj passed away ) हो गया। वह 67 वर्ष की थीं। स्वराज को रात करीब दस बजे हृदयाघात के बाद अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ( aiims ) में लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर लेकर बचाने का प्रयास किया, लेकिन उनके शरीर ने साथ नहीं दिया। उनके परिवार में पति स्वराज कौशल और एक पुत्री बांसुरी स्वराज हैं।


उनके गुर्दों का प्रत्यारोपण करीब तीन वर्ष पहले किया गया था। हालांकि वह उससे उभर गई थीं। इस बीच सूचना मिलते ही केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, राजनाथ सिंह और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवद्र्धन समेत अनेक मंत्री और राजनेता एम्स पहुंचे। पीएम नरेंद्र मोदी ने स्वराज के निधन पर शोक जताते हुए कहा है कि राजनीति का एक गौरवशाली अध्याय समाप्त ( bjp leader sushma swaraj death ) हो गया है।

 

 

निधन के कुछ घंटे पहले ट्वीट ( sushma swaraj twitter )

सुषमा जिंदगी के आखिरी दिन भी सोशल मीडिया पर सक्रिय रहीं। मौत से कुछ घंटे पहले ही उन्होंने ट्वीट कर ( sushma swaraj last tweet ) प्रधानमंत्री मोदी ( pm modi ) को जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा ( sushma swaraj last tweet article 370 ) खत्म किए जाने पर बधाई दी थी। आखिरी ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'प्रधानमंत्री जी- आपका हार्दिक अभिनंदन। मैं अपने जीवन में इस दिन को देखने की प्रतीक्षा कर रही थी। संयोग देखिए कि इस ट्वीट के कुछ घंटे बाद ही उनके निधन की खबर आई।

 

सबसे कम उम्र की कैबिनेट मंत्री


प्रखर वक्ता और विदुषी के रूप में पहचान बनाने वाली सुषमा स्वराज मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में विदेश मंत्री थीं। वह अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में भी मंत्री रही थीं। उससे भी पहले 1977 में केंद्रीय मंत्री बनी थीं और सबसे कम उम्र की कैबिनेट मंत्री का रिकॉर्ड बनाया था। वह दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री भी थीं।

प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Cm Ashok Gehlot ) ने ट्वीट करके उन्हें श्रद्धांजलि दी है।

 

दोपहर 3 बजे लोदी रोड स्थित क्रीमेटोरियम में अंतिम संस्कार

पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कहा, 'बुधवार सुबह 11 बजे उनका शव पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय लाया जाएगा। दोपहर 12 से 3 बजे तक उनका शव नेताओं, कार्यकर्ताओं और समर्थकों के अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। इसके बाद दोपहर 3 बजे लोदी रोड स्थित क्रीमेटोरियम में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।'

 

प्रदेश की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने भी सुषमा के निधन पर शोक जताया है।

Prev Page 1 of 2 Next

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned