scriptTerror of snakes in the houses of Rajasthan | राजस्थान के घरों में सांपों का आतंक | Patrika News

राजस्थान के घरों में सांपों का आतंक

बारिश में सांप बिलों से निकलकर घरों में घुस रहे हैं। राजधानी में रोजाना ऐसे कई मामले आ रहे हैं। इससे आमजन में भय की स्थिति बनी हुई है। इन सांपों को घरों से एनजीओ द्वारा रेस्क्यू कर दोबारा जंगल में छोड़ा जा रहा है। विशेषज्ञों के अनुसार बारिश का पानी बिल में घुसने, उमस व तापमान कम होने से सांप बाहर आ रहे हैं। वे आश्रय लेने के लिए सुरक्षित स्थान की तलाश में रिहायशी कॉलोनियों, बस्तियों, कार्यालयों में घुस रहे हैं।

जयपुर

Published: August 01, 2022 09:13:04 pm

बारिश में सांप बिलों से निकलकर घरों में घुस रहे हैं। राजधानी में रोजाना ऐसे कई मामले आ रहे हैं। इससे आमजन में भय की स्थिति बनी हुई है। इन सांपों को घरों से एनजीओ द्वारा रेस्क्यू कर दोबारा जंगल में छोड़ा जा रहा है। विशेषज्ञों के अनुसार बारिश का पानी बिल में घुसने, उमस व तापमान कम होने से सांप बाहर आ रहे हैं। वे आश्रय लेने के लिए सुरक्षित स्थान की तलाश में रिहायशी कॉलोनियों, बस्तियों, कार्यालयों में घुस रहे हैं।

Snakebite:बारिश के साथ बढ़े सर्पदंश के मामले, हर रोज तीन-चार मरीज हो रहे भर्ती
Snakebite:बारिश के साथ बढ़े सर्पदंश के मामले, हर रोज तीन-चार मरीज हो रहे भर्ती

एनजीओ के स्नैक कैचर मानसरोवर, मालवीय नगर, जवाहर नगर, राजापार्क, वैशाली नगर, प्रताप नगर समेत कई आवासीय इलाकों में रोजाना 25 से 30 सांप के रेस्क्यू कर रहे हैं। स्नैक कैचर सांपों को बेडरूम, बाथरूम, स्टोर रूम, गार्डन, पाइप लाइन, कूलर आदि से निकाल कर झालाना, गलता व पापड़ के हनुमान जी के जंगल में सुरक्षित छोड़ रही है। ऐसी स्थिति में मानसून में सावधानी बरतने की जरूरत है।

वन विभाग के पास कोई इंतजाम नहीं
सांप को रेस्क्यू करने में वन विभाग की रेस्क्यू टीम फेल साबित हो रही है। उनके पास कोई इंतजाम नहीं है। हर वर्ष विभाग एनजीओ के भरोसे रहता है। जयपुर चिडिय़ाघर के रेस्क्यू रेंजर मोहम्मद राशिद का कहना है कि उनके पास संसाधन नहीं है। कॉल आने पर एनजीओ को सूचना दे देते हैं, वो रेस्क्यू कर लाते हैं।

घबराएं नहीं, तुरंत अस्पताल लेकर जाएं

इस सीजन में सांप के काटने के मामले भी बढ़ जाते हैं। यहां कुछ घरों में ऐसे केस सामने आए, लेकिन समय रहते इलाज मिलने से पीड़ितों की जान बच गई। इस संबंध में चिकित्सकों का कहना है कि सांप काटने पर झाड़ फूंक के चक्कर में नहीं पड़े, पीड़ित को तुरंत अस्पताल लेकर जाएं।

सांप को मारना गलत, रेस्क्यू टीम को बताएं
होप एंड बियोण्ड संस्था के जॉय गार्डनर का कहना है कि घर में दिखने पर सांप को मारना गलत है। उसे देखते ही तुरंत एनजीओ या फिर वन विभाग को सूचना दें।

सबसे ज्यादा मिल रहे कोबरा
राजस्थान में सांपों की 38 प्रजातियां पाई जाती है। इनमें कोबरा, रसेल वाइपर, सॉ-स्केल्ड वाइपर प्रजातियां सबसे खतरनाक है। इन प्रजातियों के सांप घरों से रेस्क्यू किए जा रहे हैं। इनमें सबसे ज्यादा कोबारा ही मिल रहा है। हालांकि कई बार अन्य प्रजातियों के सांप भी मिलते है, जोकि जहरीले नहीं होते।

newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी (@aanandmani) राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है। लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार में पलटी बाजी, बीजेपी के सभी मंत्री देंगे इस्तीफा, RJD के साथ सरकार बनाने की तैयारी में नीतीश कुमारBihar Political Crisis Live Updates: CM नीतीश ने राज्यपाल से मांगा समय, रोहिणी आर्चाय का ट्वीट- राजतिलक की करो तैयारी आ रहे है लालटेनधारीबिहारः जदयू और भाजपा के बीच तकरार की वो पांच वजहें, जिससे टूटने के कगार पर पहुंची नीतीश कुमार सरकारMaharashtra Cabinet Expansion Live Updates: महाराष्ट्र कैबिनेट का शपथ ग्रहण समारोह खत्म, शिवसेना और बीजेपी के 18 विधायकों ने ली शपथताइवान का चीन समेत दुनिया को संदेश: चीन के सैन्य अभ्यास के तुरंत बाद ताइवान ने भी शुरू की Live Fire Artillery Drill, बज गए युद्ध के नगाड़े18 से 22 अक्टूबर तक गुजरात के गांधीनगर में दिखाई जाएगी भारत की सबसे बड़ी रक्षा प्रदर्शनी, गुजरात चुनाव से पहले बदली तारीखहिंदुओं को अल्पसंख्यक घोषित करना अदालत का काम नहीं: सुप्रीम कोर्टFBI का छापा : अमरीका में भी भारत की तरह छापेमारी, Donald Trump के फ्लोरिडा वाले घर पर FBI की रेड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.