script गोगामेड़ी की हत्या के आरोपियों की तलाश के बीच दिल्ली में लॉरेंस गैंग के 2 शार्प शूटर गिरफ्तार | Two members of Lawrence Bishnoi gang nabbed in Delhi Vasant Kunj | Patrika News

गोगामेड़ी की हत्या के आरोपियों की तलाश के बीच दिल्ली में लॉरेंस गैंग के 2 शार्प शूटर गिरफ्तार

locationजयपुरPublished: Dec 09, 2023 12:46:09 pm

Submitted by:

santosh Trivedi

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड मामले में पुलिस ने 6 दिसंबर देर रात 72 घंटे में शूटरों को पकड़ने का आश्वासन दिया था। लेकिन अभी तक दोनों पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।

delhi_police.jpg

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड मामले में पुलिस ने 6 दिसंबर देर रात 72 घंटे में शूटरों को पकड़ने का आश्वासन दिया था। लेकिन अभी तक दोनों पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। एसआईटी और जयपुर कमिश्नरेट पुलिस शूटरों की तलाश में राजस्थान के कई जिलों और हरियाणा, पंजाब और दिल्ली में कई ठिकानों पर दबिश दे रही है। इस दौरान 200 से अधिक संदिग्धों को पकड़कर पूछताछ की गई। इनमें शूटरों की भागने में मदद करने वाले भी हैं।


जयपुर कमिश्नरेट पुलिस ने मंगलवार को हुई वारदात के बाद दोनों शूटरों की पहचान की थी। एक आरोपी का नाम रोहित राठौड़ है। रोहित मकराना का रहने वाला बताया जा रहा है। वहीं दूसरे का नाम नितिन फौजी है। नितिन हरियाणा के महेंद्रगढ़ का रहने वाला बताया जा रहा। फिलहाल दोनों फरार हैं। सुखदेव गोगामेड़ी की पत्नी की ओर से दर्ज करवाई गई एफआईआर में लॉरेंस बिश्नोई को भी नामजद करवाया है। पुलिस हत्याकांड के संबंध में पूछताछ करने के लिए लॉरेंस बिश्नोई को प्रॉडक्शन वारंट पर जेल से गिरफ्तार कर पूछताछ के लिए जयपुर ला सकती है।


सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड मामले में पुलिस शूटरों के परिचित व लॉरेंस गैंग के गुर्गों की धरपकड़ कर रही है। लॉरेंस गैंग के बीकानेर के कालू थाना क्षेत्र निवासी गैंगस्टर रोहित गोदारा और गोगामेड़ी के बीच किसी बात को लेकर व्यक्तिगत रंजिश थी। हत्या के बाद रोहित गोदारा ने हमला करवाने की जिम्मेदारी ली है। इसी बीच दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने वसंत कुंज इलाके में मुठभेड़ के बाद लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बरार गैंग के दो शार्प शूटरों को अरेस्ट किया है। दोनों हरियाणा के रहने वाले हैं। बताया जा रहा है कि इनमें से एक नाबालिग है, जो रोहतक जिले में सशस्त्र डकैती मामले में शामिल रहा है।

यह भी पढ़ें

मैंने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को नहीं मरवाया, आनंदपाल सिंह की बेटी चीनू का बयान, देखें वीडियो


दूसरा बदमाश अनीश भी रोहतक जिले में कई आपराधिक मामलों में शामिल रहा है। अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक दोनों शूटर वसंत कुंज इलाके में एक्सटॉर्शन के लिए जा रहे थे। पुलिस ने दोनों से हथियार भी बरामद किए हैंं। पुलिस ने बताया कि उन्हें गैंगस्टर अनमोल बिश्नोई के कहने पर पंजाब की जेल में बंद अमित से निर्देश मिले थे। अनमोल बिश्नोई लॉरेंस बिश्नोई का रिश्ते का भाई है और संदेह है कि वह कनाडा में छिपा हुआ है। लॉरेंस बिश्नोई गुजरात की साबरमती जेल में बंद है। दोनों शूटर्स के गोगामेड़ी मामले से कोई तार तो नहीं जुड़ा है। यह पुलिस पूछताछ के बाद ही पता चलेगा।


ट्रेंडिंग वीडियो