script Year Ender 2023 : राजस्थान में जब जिंदा जल गए थे 5 लोग, जानिए बड़े सड़क हादसों के बारे में | Year Ender 2023: Major road accidents in Rajasthan in the year 2023 | Patrika News

Year Ender 2023 : राजस्थान में जब जिंदा जल गए थे 5 लोग, जानिए बड़े सड़क हादसों के बारे में

locationजयपुरPublished: Dec 24, 2023 03:51:30 pm

Submitted by:

Rakesh Mishra

Year Ender 2023 : अब महज एक सप्ताह ही बचा है और इसके बाद कैलेंडर बदल जाएगा और साल 2024 हमारे सामने होगा। बीतता साल राजस्थान को कई खट्टी मीठी यादें दे गया। हालांकि कुछ यादें ऐसी भी हैं, जिनसे कई परिवारों की आंखों में आंसू आ गए। दरअसल यहां हम बात प्रदेश में हुए भीषण सड़क हादसों की कर रहे हैं, जिसमें कई घरों के चिराग बुझ गए।

road_accident.jpg
Year Ender 2023 : अब महज एक सप्ताह ही बचा है और इसके बाद कैलेंडर बदल जाएगा और साल 2024 हमारे सामने होगा। बीतता साल राजस्थान को कई खट्टी मीठी यादें दे गया। हालांकि कुछ यादें ऐसी भी हैं, जिनसे कई परिवारों की आंखों में आंसू आ गए। दरअसल यहां हम बात प्रदेश में हुए भीषण सड़क हादसों की कर रहे हैं, जिसमें कई घरों के चिराग बुझ गए।

जब एक साथ हुई इतने पुलिसकर्मियों की मौत
नवंबर महीने में राजस्थान के चुरू जिले में भीषण सड़क हादसा हुआ। इस हादसे में 5 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई, वहीं दो अन्य घायल हो गए। पुलिसकर्मियों की गाड़ी सुजानगढ़ सदर थाना क्षेत्र में सड़क पर खड़े ट्रक से टकरा गई। पुलिस ने बताया कि पुलिसकर्मी एक चुनावीसभा में ड्यूटी के लिए तारानगर जा रहे थे। हादसे में नागौर जिले के खींवसर थाना के पुलिसकर्मी रामचंद्र, कुंभाराम, थानाराम, लक्ष्मण सिंह और सुरेश की मौत हो गई थी।
जब एक साथ गई 11 लोगों की जान
सितंबर महीने में भरतपुर जिले में बड़ा सड़क हादसा हुआ था। यहां एक ट्रक की टक्कर से बस में सवार 11 लोगों की मौत हो गई थी। एक दर्जन से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। यात्रियों से भरी बस गुजरात से मथुरा की तरफ जा रही थी। जयपुर-आगरा हाइवे पर नदबई थाना इलाके में जयपुर आगरा नेशनल हाईवे पर हन्तरा पुल पर बस खराब हो गई। ड्राइवर ने बस को खड़ा किया और ठीक करने की कोशिश करने लगा। तभी पीछे से आए ट्रक ने बस में टक्कर मार दी। मरने वालों में 6 महिलाएं और पांच पुरुष थे।
एक झटके में खत्म हो गया परिवार
अक्टूबर महीने में हनुमागढ़ जिले में सड़क हादसा हुआ। यहां हनुमानगढ़ के टाउन थाना क्षेत्र के नोरंगदेसर के पास की कार और ट्रक में भीषण टक्कर हो गई। इसमें कार सवार 7 लोगों की मौत हो गई। इस दर्दनाक सड़क हादसे में मरने वाले सभी लोग एक ही परिवार के सदस्य थे। ओवरटेक करते समय कार और ट्रक की आमने-सामने की भिड़ंत हुई। हादसे में मां, दो बेटे, दो बहुएं, पोता और पोती की मौत हो गई। सभी मृतक टाउन थाना क्षेत्र के नोरंगदेसर गांव के रहने वाले थे।
जब काल बनकर टूटा ट्रक, इतनों की ली जान
अक्टूबर महीने में ही एक ट्रक काल बनकर टूटा और 7 लोगों को मौत की नींद सुला दिया। दरअसल ये भीषण हादसा डूंगपुर के बिछीवाड़ा थाना क्षेत्र के रतनपुर बॉर्डर के पास हुआ। ट्रक और क्रूजर के बीच जोरदार भिड़ंत के बाद घटनास्थल पर चीख पुकार मच गई। खबरों के अनुसार बिछीवाड़ा थाना क्षेत्र में नेशनल हाइवे 48 रतनपुर बॉर्डर पर एक ट्रक ने आगे चल रही क्रुजर को रौंद दिया। इसके बाद क्रूजर पलट गई। इस दर्दनाक हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई, जबकि 10 लोग घायल हो गए है।
यह भी पढ़ें

Year Ender 2023 : इस साल वो बड़ी घटनाएं, जिसने शर्म से झुकाया राजस्थान का सिर

जब जिंदा जल गए थे 5 लोग
जून महीने में जयपुर ग्रामीण के दूदू थाना क्षेत्र में जयपुर-अजमेर राष्ट्रीय राज मार्ग पर एक ट्रक ने सड़क किनारे खड़े दो अन्य ट्रकों को टक्कर मार दी, जिसके बाद लगी आग मे पांच लोग जिंदा जल गए। इस हादसे के बाद मवेशियों को ले जा रहे ट्रक सहित तीन ट्रकों में आग लग गई और आग में 12 मवेशियों की भी मौत हो गई। इस हादसे में हरियाणा निवासी पवन (28), संजू (18), धर्मवीर (34) और बिहार जिले के छपरा के जन विजय (35) और बिजली (26) की मौत हो गई। पुलिस ने बताया था कि सड़क के किनारे दो ट्रक खड़े थे। हरियाणा से पुणे मवेशियों को ले जा रहे ट्रक ने उनमें से एक को टक्कर मार दी। यह हादसा संभवत: चालक के नींद में गाड़ी चलाने के कारण हुआ था।

ट्रेंडिंग वीडियो