Corona Update: शादी समारोह में फूटा कोरोना बम, 135 लोग संक्रमित, मचा हड़कंप

Janjgir Champa Coronavirus Update: छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में एक शादी समारोह में उस वक्त हड़कंप मच गया जब वहां कोरोना बम फूट गया। समारोह में शामिल होने आए अब तक 135 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं।

By: Ashish Gupta

Published: 16 Apr 2021, 03:26 PM IST

जांजगीर-चांपा. छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में एक शादी समारोह (Coronavirus cases found in Marriage Program) में उस वक्त हड़कंप मच गया जब वहां कोरोना बम फूट गया। समारोह में शामिल होने आए अब तक 135 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। सभी संक्रमितों का होम आइसोलेशन में इलाज चल रहा है। फिलहाल गांव को पूरी तरह से सील कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में कोरोना से बिगड़े हालात: वक्त पर ऑक्सीजन नहीं मिलने से 6 मरीजों ने तोड़ा दम

दरअसल, यह मामला जांजगीर-चांपा जिले के सक्तिगुड़ी गांव का है। यहां एक से पांच अप्रैल के बीच गांव के कंवर परिवार में शादी थी। खबरों के अनुसार दूल्हा - दुल्हन दोनों सक्तिगुड़ी गांव के ही रहने वाले हैं। दूल्हा - दुल्हन एक ही क्षेत्र के निवासी होने की वजह से गांव के अधिकांश लोग शादी समारोह में शामिल हुए थे। सात अप्रैल को गांव में पहला संक्रमित मिला। इसके बाद धीरे-धीरे एक-एक कर लोग संक्रमित होते गए। बता दें कि गांव की कुल आबादी 500 के करीब है, जिसमॅ अब तक कुल 135 लोग संक्रमित हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें: कोरोना से इतनी बढ़ गई मौतें कि शवों को श्मशान ले जाने कम पड़ गई एम्बुलेंस, करना पड़ा ट्रकों का इस्तेमाल

बता दें कि छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति अब भयावह हो गई है। हालात ऐसे हैं कि गुरुवार को मात्र एक दिन में ही छह लोगों की कोरोना से मौत हो गई। साथ ही 1000 से ज्यादा नए संक्रमित मिले है। इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि कोरोना के गंभीर मरीजों को बेड के लिए इंतजार करना पड़ रहा है, क्योंकि अधिकांश को आक्सीजन की जरूरत पड़ रही है। आक्सीजन वाले बेड की कमी है।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में कोरोना आउट ऑफ कंट्रोल, 13 दिन में 122807 संक्रमित, एक हजार से ज्यादा मौत

जिले में 80 साल का सर्वसुविधायुक्त कोविड तैयार किया गया हैं। जहां आक्सीजन, वेंटिलेटर सहित अन्य अत्याधुनिक मशीनें है। यहां हर रोज बेड फुल हो जा रहे हैं। साथ ही अधिकांश मरीज करीब 60 मरीज आक्सीजन के भरोसे हैं। बाकी अन्य वेंटिलेटर व अन्य मशीन के भरोसे हैं। अगर कोई और गंभीर आ रहे हैं तो थोड़ा सामान्य मरीज को आकांक्षा कोविड केयर सेंटर में शिफ्ट किया जा रहा है। गंभीर मरीज को यहां फिर भर्ती किया जा रहा है।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned