लोगों को बचाना है, अपना गम भूकर जुट जाते हैं काम में

-पिता की मौत के बाद शाम को काम पर लौटा युवा...

झालावाड़ के सितारे .

By: harisingh gurjar

Published: 06 May 2021, 10:59 PM IST


हरि सिंह गुर्जर
झालावाड़.ये वह टीम है जो झालावाड़ मेडिकल कॉलेज के ऑक्सीजन प्लांट में दिन-रात काम कर रही है, आपके लिए, हम सबके लिए।
प्लांट की टैक्नीशियंस की 12 कार्मिक की टीम है जो दो शिफ्ट में कोरोना मरीजों को नियमित रूप से प्राणवायु पहुंचाने का काम कर रहे हैं। अभी कोरोना चरम पर होने से लोगों की सांसे पर अटेक कर रहा है, ऐसे में जिन लोगों का सेचुरेशन कम हो जाता है, उन्हे ऑक्सीजन दी जा रही है। लेकिन एसआरजी चिकित्सालय में सेंटर लाइन में ऑक्सीजन के प्वाइंट कम होने पर टीम ने दिन-रात काम कर 10 प्वाइंट तैयार कर तुरंत चालू किए। इसमें सबसे बड़ा सहयोग रहा प्लांटइंचार्ज इमरान खान का।

दिन में पिता की मौत,रात को ड्यूटी पर-
मेडिकल कॉलेज के ऑक्सीजन प्लांट इंचार्ज इमरान खान के पिता को अटैक आने से वह एसआरजी चिकित्सालय के आईसीयू वार्ड में भर्ती थे। इधर 30 अप्रेल को खान ऑक्सीजन प्लांट के लिए जयपुर ऑक्सीजन लेने गया हुआ था। पिता के इंतकाल की सूचना मिलने पर शाम को जनाजे में शामिल हुआ। अंतिम क्रिया के बाद रात आठ बजे ही इमरान ड्यूटी पर पहुंच गया। इधर यहां साथी ऑक्सीजन प्वाइंट तैयार करने में जुझ रहे थे। पिता की मौत के बाद कुछ ही घंटे बाद काम पर लौटने पर एसआरजी का स्टाफ इमरान को देख कर दंग रह गया। इमरान ने कहा कि जो जान जानी थी वो चली गई जो जिदंगी और मौत से जुझ रहे है उन्हे बचाना सबसे बड़ा फर्ज है। इमरान ऑक्सीजन प्लांट का एक्सपर्ट हैऐसे में इमरान ने पहुंचकर देर रात को ही साथियों के सहयोग से 10 प्वाइंट चालू करवाएं। जिनसे 10 कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन लगाई गई, ऐसे में मरीजों को काफी राहत मिली।

पिता जी के जाने का दद...र्लेकिन फर्ज भी निभाना था-
इमरान ने बताया कि 30 अप्रेल को सुबह 5 बजे जयपुर ऑक्सीजन लेने के लिए निकला हुआ था, उसी समय फोन आया कि पिता जी का इंतकाल हो गया। शाम को झालावाड़ पहुंचकर जनाजे में शामिल हुआ। रात को सेंटर लाइन में ऑक्सीजन लाइन डलवाकर 10 प्वाइंटचालू करवाएं। पिताजी के जाने का दर्द था, लेकिन इस महामारी ेंमें ऑक्सीजन के अभाव में किसी की जान नहीं जाएं यही कोशिश रहती है। पूरी टीम अच्छे से काम कर रही है। लोगों से अपील है कि कोरोना पॉजिटिव होने के बाद घबराएं नहीं इसका डटकर मुकाबला करें, घबराने से ऑक्सीजन की ज्यादा जरूरत पडऩे लगती है ऐसे में लेवल कम होने पर परेशानी बढ़ जाती है। अपने-आप को अच्छी सोचकर के साथ प्रभू की भक्ति में व्यस्त रखे, आराम करें, डॉक्टर द्वारा बताई दवाइयां समय पर लें, सब ठीक हो जाएंगे।

ये कोरोना वॉरियर्स की टीम-
इमरान खान- ऑक्सीजन प्लांट इंचार्ज
-विकास कश्यप
-राहुल मेघवाल
-कोमल प्रजापति
- मीहिर सेन
- राहुल
- लक्की सोनगरा
- मोहनलाल
- रघु बैरवा
- भावेश मीणा
- हितेश सौलंकी
- अफशान अली

harisingh gurjar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned