पुष्पेंद्र यादव के परिजनों से मिलने पहुंच रहे अखिलेश यादव, कहा- जनता की आवाज को बूटों तले रौंद रही यूपी सरकार

पुष्पेंद्र यादव के परिजनों से मिलने पहुंच रहे अखिलेश यादव, कहा- जनता की आवाज को बूटों तले रौंद रही यूपी सरकार
सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि रात के अंधेरे में सत्ता की ताकत झोंककर पुष्पेंद्र यादव यादव का अंतिम संस्कार कर सरकार ने न्याय की चिता जलाई है

Hariom Dwivedi | Updated: 09 Oct 2019, 02:19:46 PM (IST) Jhansi, Jhansi, Uttar Pradesh, India

उत्तर प्रदेश के सभी फर्जी एनकाउंटर की जांच हाइकोर्ट के वर्तमान न्यायाधीश से कराई जाए- अखिलेश यादव

लखनऊ. झांसी रवाना होने से पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने पुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर (Puspendra Yadav) को लेकर योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में सत्ता का दंभ अब सिर चढ़कर बोल रहा है। सरकार जनता की आवाज को बूटों तले रौंदते हुए मनमानी पर उतर आयी है। संविधान और नैतिक मूल्यों को दरकिनार करते हुए भाजपा की प्रदेश सरकार (Yogi Sarkar) को भ्रम है कि उसके अवांछित आचरण की जनता उपेक्षा कर देगी या फिर मौन रहकर सह लेगी, ऐसा नहीं होगा। अत्याचारी जान लें इंसाफ की सुबह होकर रहेगी। आपको बता दें कि बीते दिनों झांसी में पुलिस एनकाउंटर में मारे गये पुष्पेंद्र यादव के परिजनों परिजनों से मिलने के लिए अखिलेश यादव बुधवार को रवाना हो गये हैं। झांसी में ही आज रात्रि विश्राम करेंगे। गौरलतब है कि 5 अक्टूबर को पुष्पेंद्र यादव को एनकाउंटर में पुलिस ने मार गिराने का दावा किया था।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि रात के अंधेरे में सत्ता की ताकत झोंककर पुष्पेंद्र यादव यादव का अंतिम संस्कार कर सरकार ने न्याय की चिता जलाई है। मामले में परिवारीजन और स्थानीय जनता मांग कर रही थी कि फर्जी एनकाउंटर करने वाले दारोगा धर्मेन्द्र सिंह के खिलाफ भी धारा 302 में रिपोर्ट लिखी जाये, तभी पुष्पेंद्र के शव को लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के सभी फर्जी एनकाउंटर की जांच हाइकोर्ट के वर्तमान न्यायाधीश से कराई जानी चाहिये।

पुष्पेंद्र यादव मामले में सपाइयों की गिरफ्तारी पर भड़के सपा नेता- देखें वीडियो

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned