script झांसी में यूरिया की किल्लत: सुबह से किसान लगा रहे लाइन, शाम तक नहीं मिल पा रही खाद | Farmers are facing problems due shortage urea fertilizer in Jhansi | Patrika News

झांसी में यूरिया की किल्लत: सुबह से किसान लगा रहे लाइन, शाम तक नहीं मिल पा रही खाद

locationझांसीPublished: Nov 26, 2023 10:44:26 am

Submitted by:

Ramnaresh Yadav

बुंदेलखंड में किसान खेतों में बीज बो चुका है। अब अच्छी फसल के लिए खाद की जरूरत है। लेकिन उसकी झांसी में बड़ी किल्लत हो रही है। सुबह से शाद तक किसान लाइन में खड़ा हो रहा है। फिर भी खाद की व्यवस्था नहीं हो पा रही है।

shortage of fertilizer in jhansi
खाद के लिए लाइन में खड़े किसान।
यूपी के झांसी में किसानों को इन दिनों खाद की जरूरत है, लेकिन पीसीएफ केन्द्रों पर पर्याप्त मात्रा में खाद नहीं रहने से किसानों को परेशानी का सामना करना पडता है। खाद के लिये किसान दिनभर लाइन में लगे रहते हैं और अधिकतर किसानों का जब नंबर आता है तो खाद खत्म हो जाती है। एक-एक बोरी के लिये किसानों को जद्दोजहद करनी पड़ रही है। कड़कड़ाती ठंड में सुबह से ही किसान खाद के लिये लाइन में लगने को मजबूर हो रहे हैं।

सुबह 6 बजे से लग रही लाइन

डीएपी खाद, यूरिया के लिए ग्रामीण अंचलों के किसान मऊरानीपुर पीसीएफ केन्द्र पर सुबह 6 बजे से लाइन लगाकर खड़े हो जाते हैं। पीसीएफ खुलने के बाद पता चलता है की केन्द्र पर डीएपी खाद उपलब्ध नहीं है। खाद वितरण के लिए बनाई गई सोसाइटियों में डीएपी खाद न मिलने से अधिकांश किसान मऊरानीपुर पीसीएफ केन्द्र पर सुबह ही आ जाते हैं। किसान हफ्तों से एक-एक बोरी डीएपी खाद के लिए सोसाइटियों, पीसीएफ केन्द्रों के चक्कर लगा रहे हैं। खाद न मिलने से किसान परेशान हैं।

हर साल की तरह हो रहे परेशान

हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी खाद की मारामारी हो गई है। पीसीएफ केन्द्र पर हफ्तों से लाइन लगाए किसानों को खाद नहीं मिल पा रही है। किसान खाद को लेकर आए दिन शिकायत कर रहे हैं। खेत मे यदि समय पर खाद नहीं डाली गई तो फसल बर्बाद हो जाएगी।

ट्रेंडिंग वीडियो