जोधपुर में महाकफ्र्यू की अफवाह फैलाने पर FIR दर्ज, प्रशासन ने कहा फेक न्यूज से बचे

भीलवाड़ा की तर्ज पर जोधपुर में महाकफ्र्यू लगने की अफवाह से शहरवासी गुरुवार को घबरा गए। किराणा व जरूरत का सामान खरीदने के लिए दुकानों पर भीड़ उमड़ गई। पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार ने रात को स्पष्ट किया कि सुबह संक्रमण की संख्या अधिक आने पर आमजन में भ्रम फैल गया। हॉट स्पॉट क्षेत्रों में पहले से कफ्र्यू है।

By: Harshwardhan bhati

Published: 01 May 2020, 02:23 PM IST

जोधपुर. भीलवाड़ा की तर्ज पर जोधपुर में महाकफ्र्यू लगने की अफवाह से शहरवासी गुरुवार को घबरा गए। किराणा व जरूरत का सामान खरीदने के लिए दुकानों पर भीड़ उमड़ गई। पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार ने रात को स्पष्ट किया कि सुबह संक्रमण की संख्या अधिक आने पर आमजन में भ्रम फैल गया। हॉट स्पॉट क्षेत्रों में पहले से कफ्र्यू है। नए संक्रमण सामने आने पर प्रतापनगर, शास्त्रीनगर व चौहाबो के कुछ क्षेत्रों में बुधवार को और कफ्र्यू लगाया गया था।

पहले से जो व्यवस्था चल रही है, उसी के तहत सुरक्षा व अन्य व्यवस्था जारी रहेगी। पूरे शहर में कफ्र्यू नहीं लगाया जा रहा है। देर रात पुलिस ने भ्रामक व अफवाह वाले संदेश वायरल करने पर अज्ञात के खिलाफ महामंदिर थाने में एफआइआर दर्ज कर दो जनों को हिरासत में लिया। दरअसल, व्हॉट्सएेप व सोशल मीडिया के अन्य प्लेटफॉर्म पर दोपहर में एक संदेश वायरल होने लगा कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए भीलवाड़ा मॉडल की तर्ज पर जोधपुर में महा कफ्र्यू लगाया जा रहा है। शाम तक इसकी घोषणा की जाएगी।

यह संदेश आग की तरह वायरल हो गया। इस संबंध में पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार ने बताया कि बुधवार रात या गुरुवार सुबह संक्रमितों की संख्या अधिक आ गई। इनमें से अधिकांशत: संक्रमित पहले से क्वारंटाइन हैं। हॉट स्पॉट वाले क्षेत्रों में पहले से कफ्र्यू है। नए क्षेत्र में अधिक मामले सामने नहीं आए हैं। पहले जो सिस्टम चल रहा है उसी के तहत चलाया जा रहा है। जरूरत के हिसाब से संक्रमित क्षेत्र में प्रतिबंध लगाए जाते हैं। पूरे शहर में कफ्र्यू की स्थिति नहीं है। पुलिस उपायुक्त (पूर्व) धर्मेन्द्रसिंह यादव ने बताया कि महाकफ्र्यू की अफवाह का संदेश वायरल करने वाले का पता लगाया जा रहा है। एफआइआर दर्ज की गई है।

कोई महाकफ्र्यू नहीं, अफवाहों से बचें
शहर में बीते चौबीस घंटे के दौरान ही लगभग एक सौ कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद गुरुवार दोपहर से शहर में महाकफ्र्यू लगाने की तैयारी की अफवाह फैल गई। ऐसे में कई इलाकों में लोग जरूरत का सामान जुटाने के लिए घरों से बाहर निकल गए, जबकि महाकफ्र्यू जैसी किसी बात पर विचार तक नहीं हुआ। जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने भी शाम को इसे निराधार बताकर लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की अपील की। संक्रमण के इस दौर में 'राजस्थान पत्रिकाÓ सभी से घरों में ही रहने और सोशल मीडिया पर फैलने वाली अफवाहों से बचने की अपील करता है। हम जितना सख्ती से लॉकडाउन का पालन करेंगे, संक्रमण को काबू में करने में मदद मिलेगी।

साम्प्रदयिक माहौल बिगाडऩे का प्रयास, एक युवक गिरफ्तार
सूरसागर थाना पुलिस ने भूरटिया में सब्जी विक्रेता से खरीदारी के दौरान धर्म के आधार पर धमकाने व शारीरिक यातना देकर साम्प्रदायिक माहौल बिगाडऩे का प्रयास करने के मामले में गुरुवार को एक युवक को गिरफ्तार किया। थानाधिकारी किशनलाल के अनुसार कुत्तों का बाड़ा के पास गणेश कॉलोनी निवासी यासीन पुत्र लुकमान मंगलवार को ठेले पर सब्जी बेचने के लिए भूरटिया गया था, जहां भूरटिया निवासी राहुल परिहार ने उसे रोका और नाम व पते पूछे। फिर उसे सब्जी बेचने के लिए कॉलोनी में आने पर धमकियां भी दी। इसके साथ ही उसने सब्जी ठेलाधारक से उठक बैठक कराई और मोबाइल में वीडियो रिकॉर्ड कर लिया। प्रताडऩा का पता लगने पर पुलिस घटनास्थल पहुंची, लेकिन वहां कोई नहीं मिला। इस बीच, बुधवार देर रात सब्जी ठेला धारक को उठक-बैठक कराने का वीडियो वायरल हो गया। तब पुलिस ने गुरुवार को जांच कर भूरटिया गली-१ निवासी राहुल पुत्र राजेश परिहार को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने के प्रयास का मामला दर्ज किया।

Harshwardhan bhati
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned