कालेधन पर सख्त हैं पीएम मोदी, जाएगी मध्यप्रदेश के इस मंत्री की कुर्सी!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कालेधन के खिलाफ कड़े तेवरों को देख अब मध्यप्रदेश के मंत्री संजय पाठक की कुर्सी जा सकती है। भाजपा की गोपनीय समिति की गुप्त जांच में प्रथमदृष्टया मंत्री पाठक की संलिप्तता पाई गई है। 


नई दिल्ली/भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कालेधन के खिलाफ कड़े तेवरों को देख अब मध्यप्रदेश के मंत्री संजय पाठक की कुर्सी जा सकती है। भाजपा की गोपनीय समिति की गुप्त जांच में प्रथमदृष्टया मंत्री पाठक की संलिप्तता पाई गई है। राजनीतिक गलियारों में माना जा रहा है कि मंत्री पाठक की कुर्सी जाना तय है।


मध्यप्रदेश के कटनी का हवाला मामला दिल्ली तक छाया रहा। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से लेकर भाजपा के राष्ट्रीय कार्यालय तक सभी जगह हलचल देखी गई। शुक्रवार को भी भोपाल से लेकर दिल्ली तक पाठक के इस्तीफे की अटकलें लगती रही। पार्टी सूत्रों के मुताबिक मध्यप्रदेश के 500 करोड़ के हवाला मामला में किसी भी व्यक्ति को नहीं छोड़ा जाएगा। कानून के दायरे में ही सब कार्रवाई होगी। इसके लिए ईडी अपना काम करेगा। इधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को कहा है कि सिर्फ आरोप के आधार पर किसी पर कार्रवाई नहीं की जा सकती है।


गौरतलब है कि कटनी में हवाला कांड उजागर करने वाले एसपी गौरव तिवारी को हटाने के बाद यह पूरा मामला चर्चाओं में आ गया था। गौरव तिवारी को छिंदवाड़ा का एसपी बनाया गया है, वहीं तिवारी की जगह शशिकांत शुक्ला को कटनी एसपी बनाया गया है।


सागर में भी छाया मुद्दा
कटनी हवाला कांड का मामला सागर में गर्माया था। इस दौरान पार्टी नेताओं ने इस मामले को संगठन के सामने भी उठाया था। इसके साथ ही राष्ट्रीय नेतृत्व तक अपनी बात पहुंचाई थी। इसके पीछे मंत्री संजय पाठक का आंतरिक विरोध था। क्योंकि वे कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए और मंत्री तक बना दिए गए। जबकि पाठक से सीनियर नेता अब भी मंत्री बनने की कतार में हैं। 


भाजपा सांसद ने किया एसपी का बचाव
कटनी एसपी गौरव तिवारी के बचाव में भाजपा सांसद प्रहलाद पटेल खुलकर आ गए हैं। उन्होंने गौरव तिवारी के तबादले को गलत करार दिया। मीडिया में आ रही खबरों को हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि छह माह में ही उन्हें हटा देना गलत सवाल और परंपरा को जन्म दे रहा है।


कटनी में प्रदर्शन, जेटली को लिखा पत्र
कटनी में दिनभर कई संगठनों के प्रदर्शन के साथ ही आम आदमी पार्टी ने भी भाजपा सरकार को घेरा। वहीं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली को पत्र लिखकर इस मामले की जांच निष्पक्ष एजेंसी से कराने की मांग की।

(एसपी गौरव तिवारी के लिए जनता ने उठाई आवाज।)

पाठक पर इस्तीफे का दबाव
नोटबंदी के बाद देश का सबसे बड़ा हवाला कारोबार उजागर करने वाले कटनी एसपी गौरव तिवारी के तबादले के बाद प्रदेश के मंत्री व विजय राघौगढ़ विधायक संजय पाठक का नाम उजागर हुआ था। इसके दो दिन बाद ही एसपी गौरव तिवारी का तबादला कर दिया गया।


हवाला कारोबार में मंत्री की फर्मों का नाम
सरावगी बंधुओं द्वारा किए गए 500 करोड़ के हवाला कारोबार की जांच में मिले दस्तावेजों में मंत्री संजय पाठक की कंपनी आनंद माइनिंग कार्पोरेशन का नाम भी शामिल है।  यह कंपनी कटनी के सेल्स टैक्स विभाग में मंत्री संजय पाठक और उनके दिवंगत पिता सत्येंद्र पाठक के नाम दर्ज है। इधर एक समाचार पत्र को दिए इंटरव्यू में मंत्री पाठक ने स्वीकार किया है कि यह फर्म उन्हीं की रजिस्टर फर्म है। 

CM बोले- सिर्फ आरोप के आधार पर कार्रवाई नहीं
कटनी में हवाला मामले में नाम आने के बाद मंत्री संजय पाठक को हटाए जाने की अटकलों के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने शनिवार को मीडिया से कहा कि एसपी गौरव तिवारी अच्छे अफसर थे। नए अफसर भी अच्छे हैं। चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में अच्छे पुलिस आफिसर हैं, जिन पर गर्व हैं। मंत्री का नाम हवाला मामले में आने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सिर्फ आरोप के आधार पर कार्रवाई नहीं की जा सकती है।
Show More
Manish Gite
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned