Railway: इस रेल लाइन में फैक्चर ट्रैक से धड़धड़ाते हुए गुजरीं ट्रेनें, दो युवाओं की तत्परता से टला बड़ा हादसा, देखें वीडियो

Balmeek Pandey

Updated: 18 Aug 2019, 04:06:31 PM (IST)

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. बीना रेलखंड पर शनिवार को दो युवाओं की तत्परता से बड़ा रेल हादसा टला है। दरअसल बकलेहटा रेलवे स्टेशन के पास ट्रैक फैक्चर था और उसी के ऊपर से धड़ाधड़ ट्रेनें गुजर रहीं थींं। खेत जा रहे युवकों की नजर ट्रैक पर पड़ी। दोनों ने तत्परता दिखाई और रेल अधिकारियों को सूचना दी। सूचना के बाद ट्रैक में सुधार कार्य शुरू हुआ। सुधार कार्य के दौरान कॉशन ऑर्डर से ट्रेनों को धीमी गति ने निकाला गया। जानकारी के अनुसार शनिवार की सुबह 10.30 बजे बकलेहटा निवासी रामनारायण राय व गोलू कुशवाहा खेत जा रहे थे। जैसे ही बकलेहटा स्टेशन के पास खंभा नंबर 1197/21 के पास पहुंचे तो देखा कि रेल लाइन टूटी हुई है। कटनी की ओर से आ रही एक गाड़ी को दोनों युवकों ने रोकने का प्रयास किया, लेकिन पायलट ने ध्यान नहीं दिया और ट्रेन नहीं रुकी। धड़धड़ाते हुए ट्रेन टूटे ट्रैक से गुजर गई। रामनारायण ने तत्काल ही सलैया चीफ पीडब्ल्यूआइ को इसकी जानकारी दी। जिसमें पीडब्ल्यूआइ ने इंजीनियर मेंटेनेंस कंट्रोलर को सूचना दी। कंट्रोलर ने बकलेहटा स्टेशन प्रबंधक सहित अन्य अधिकारियों को रेल ट्रैक में सुधार के लिए निर्देश दिए। हैरानी की बात तो यह रही कि रेल अमले को सुबह साढ़े 10 बजे ट्रैक फैक्चर होने की सूचना मिल गई थी, लेकिन शाम साढ़े चार बजे तक सुधार नहीं हो पाया। इस ट्रैक से बिलासपुर-भोपाल एक्सप्रेस कम पैसेंजर सहित कई ट्रेनें निकलीं।

 

Railway: यात्रीगण कृपया ध्यान दें... 24 ट्रेनें पहले से हैं रद्द, कई का मार्ग बदला, अब आज से 16 और हो गईं कैंसिल, कई का बदल गया मार्ग

 

एक पैसेंजर व 10 मालगाडिय़ां रहीं प्रभावित
ट्रैक में फैक्चर के कारण कटनी-बीना रेल लाइन का अप ट्रैक बकलेहटा स्टेशन के समीप प्रभावित रहा। 10 बजकर 40 मिनट से 4 बजकर 37 मिनट तक एक कटनी-बीना पैसेंजर व 10 मालगाडिय़ां प्रभावित रहीं। सभी ट्रेनें सुधार कार्य के दौरान कॉशन ऑर्डर में निकाली गईं। 30 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ट्रेनें निकाली गईं। लाइन के फैक्चर होने की सूचना के बाद कटनी से बीना की ओर जा रही सभी गाडिय़ां रोक दी गईं थीं। लगभग आधा घंटे ट्रैक बंद रहा। जिसमें 7 मालगाडिय़ां प्रभावित हुईं।

 

Education: तबादले की खबर सुन शिक्षक के साथ लिपटकर फूट-फूटकर रोने लगे बच्चे, मास्साब भी हुए भावुक, देखें वीडियो

 

बड़ा हादसा टला
मौके पर पहुंचे रेल अधिकारियों का कहना था कि रेलपांत पर न सिर्फ क्रेक था बल्कि पूरी तरह अलग हो गई थी। क्लंप लॉक भी एक अलग हो गया था। युवाओं की तत्परता के चलते बड़ा हादसा टला है। यदि कुछ समय के लिए और ट्रैक से ट्रेनें स्पीड में दौड़ती तो रेललाइन पूरी तरह चटक जाती और ट्रेन डिरेल हो जाती।

 

Organic agriculture: इस जिले के विद्यार्थी 60 घंटे में सीखेंगे जहरमुक्त कृषि, लेंगे इस विशेष खेती का मंत्र

 

इनका कहना है
जैसे ही मेरे को ट्रैक फैक्चर होने की जानकारी लगी तत्काल पीडब्लूआइ को जानकारी दी गई। पी डब्लूआइ ने तत्काल की सुधार कार्य चालू कराया।
मुन्नर लाल वर्मा, स्टेशन प्रबंधक बकलेहटा।

ट्रैक में फैक्चर की सूचना के बाद सुधार कार्य के लिए टीम मौके पर पहुंच गई थी। 30 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ट्रेनें वहां से निकाली गईं। रिपेयर का देरशाम तक चालू था।
प्रसंन्न कुमार, एरिया मैनेजर कटनी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned