Religious news: करवा चौथ की तर्ज पर महिलाओं ने अखंड सौभाग्य के लिए रखा ये व्रत, देखें वीडियो

- रानी पूजे राज भाग का, मां पूज्या सुहाग भाग्य से...। इस मंत्र के साथ रविवार को सिंधी समाज की महिलाओं ने तीजा माता की विशेष पूजन किया।

- गुरूनानक वार्ड स्थित पं. दिनेश शर्मा के निवास पर विधि-विधान से पूजन अर्चन हुई। सिंधी समाज का प्रमुख त्योहार तीजड़ी धूमधाम से मनाया गया।

- सभी सिंधी समाज की महिलाओं ने उपवास रखा। सभी अपने पति की लंबी उम्र व अखंड सौभाग्य के लिए व्रत रखकर पूजन किया और पति सहित परिवार के खुशहाली के लिए कामना की।

By: balmeek pandey

Published: 19 Aug 2019, 12:34 PM IST

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. रानी पूजे राज भाग का, मां पूज्या सुहाग भाग्य से...। इस मंत्र के साथ रविवार को सिंधी समाज की महिलाओं ने तीजा माता की विशेष पूजन किया। गुरूनानक वार्ड स्थित पं. दिनेश शर्मा के निवास पर विधि-विधान से पूजन अर्चन हुई। सिंधी समाज का प्रमुख त्योहार तीजड़ी धूमधाम से मनाया गया। सभी सिंधी समाज की महिलाओं ने उपवास रखा। सभी अपने पति की लंबी उम्र व अखंड सौभाग्य के लिए व्रत रखकर पूजन किया और पति सहित परिवार के खुशहाली के लिए कामना की। एक दूसरे को तिलक कर अखंड सौभाग्य की कामना माता तीजा (गौरी) से किया। पं. कविता शर्मा द्वारा तीजा माता की पूजा कराकर कथा सुनाई गई। पर्व को लेकर सिंधी समाज की महिलाओं द्वारा दो दिन से तैयारियां चालू कर दी गई थीं। त्योहार को लेकर बाजार में शॉपिंग का भी क्रेज दिखा। सोलह श्रंगार कर महिलाएं पूजन के लिए पहुंची। जयश्री शर्मा ने बताया कि सुबह आसुर करते हैं और तीज के दिन फलाहार करते हैं और शाम को चांद निकलने के बाद ही व्रत तोड़ते हैं। पूरे दिन में बहुत ही श्रद्धा भाव के त्यौहार को मनाते हैं।

 

जाम से कराह रही इस शहर की जनता, अंडरपाथ निर्माण में सामने आई निगम की बड़ी बेपरवाही, तीन साल पहले बना था प्रस्ताव

 

झूला झुलाकर सुनी कथा
तीजड़ी पर्व पर दिनभर तीजा माता की विशेष पूजा हुई। सुबह तीजा माता को झूला पर बैठाकर पूजन किया। जल और दूध से अघ्र्य देकर जल ग्रहण किया। इसके बाद शाम को कथा सुनकर प्रसाद ग्रहण किया। वहीं त्योहार को लकर सोशल मीडिया में भी बधाई का क्रेज दिखा। महिलाओं ने सेल्फी और फोटो ग्रुपों डालकर पर्व को सेलीब्रेट किया।

इनकी रही उपस्थिति
तीजड़ी पर्व के दौरान कविता शर्मा, बेबी शर्मा, वृंदा शर्मा, रीता चांदवानी, प्रिया चांदवानी, पूनम बसरानी, नीलम जगवानी, नेहा टेहलानी, मीता टहलानी, सोनिया जसूजा, पूनम आहूजा, सौम्या, सुनीता, जया सहित बड़ी संख्या में महिलाओं की उपस्थिति रही। सोनिया तेजवानी, वर्षा जोतवानी, राजकुमारी जोतवानी, डॉ. पूनम बजाज, गीता तनवानी, विनीता तनवानी, नीलम तनवानी, कविता तनवानी, ऋचा तनवानी, पुष्पा तनवानी, पूनम तनवानी, दीपा तनवानी आदि की उपस्थिति रही

 

शिक्षक के तबादले पर बोले बच्चे: मास्साब के स्थानांतरण से स्कूल आने का नहीं करता मन, कलेक्टर ने कही ये बात

 

कटायेघाट में भी हुआ आयोजन
झूलेलाल चालीहां महोत्सव के अंतर्गत कटायेघाट में भी पर्व मनाया गया। श्रद्धालुओं ने जल देवता की पूजा अर्चना की। सुहागिन महिलाओं ने जल में दीपदान कर अपने पति की दीर्घायु के लिए मंगल कामना की। अशोक रोहरा ने बताया कि सिंधी समाज में यह वृत करवा चौथ का समानार्थी है, रात्रि में चंद्रमा को अघ्र्य देकर ही वृत को छोड़ा जाता है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned