कैशलेस ट्रांजेक्शन पर डिस्काउंट देकर कर देते थे अकाउंट खाली, करोड़ो का चूना लगा चुका था ये गिरोह

कैशलेस ट्रांजेक्शन पर डिस्काउंट देकर कर देते थे अकाउंट खाली, करोड़ो का चूना लगाने वाला अंतरराजीय गिरोह गिरफ्तार

By: Faiz

Published: 20 Jan 2020, 08:44 PM IST

खंडवा/ मध्य प्रदेश की खंडवा पुलिस ने एक ऐसे अंतर्राजीय चोर गिरोह को दबोचा है, जो आपके खाते खाते के पैसे पलक झपकते ही गायब करने में माहिर था। पुलिस गिरफ्त में आए बदमाश देशभर में प्रदर्शनी लगाकर लोगों के साथ ठगी किया करते थे। उन्होंने अब तक खंडवा, बुरहानपुर, सतना, इंदौर, भोपाल, उज्जैन, रतलाम, दिल्ली, लखनऊ जैसे शहरों में कई बार प्रदर्शनी लगाकर लोगों के साथ ठगी की वारदात को अंजाम दिया।

 

पढ़ें ये खास खबर- हिमालय की हवाओं से ठिठुरा प्रदेश, 22 जनवरी को कई इलाकों में हो सकती है बारिश


ऐसे करते थे लोगों के साथ फ्रॉड

अकसर आपने देखा होगा शहर के मैदानों या बड़े हॉलों में प्रदर्शनियां लगती है, जिन प्रदर्शनियों में जाकर लोग संबंधित चीजे खरीदते हैं। ये चोर भी ऐसी ही प्रदर्शनियां लगाते थे।इन प्रदर्शनी में आने वाले ग्राहकों को सामान की खरीदी के बाद ये चोर बड़ी ही चतुराई से कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए एटीएम भुगतान की बात करते थे। कैशलेस ट्रांजेक्शन करने वाले ग्राहक को सामान पर छूट या कोई उपहार भी दिया करते थे। लिहाजा कैशलेस ट्रांजेक्शन के दौरान अपने खास एटीएम स्कीमिंग डिवाइस मशीनों से उनके एटीएम का क्लोन बना लिया करते थे। इसके बाद मौका देखकर उन ग्राहकों के खाते से पैसे उड़ा दिया करे थे। ग्राहक ये भी नहीं समझ पाते थे कि, आखिरकार पैसे चुराए किसने।

crime news

सैकड़ों एटीएम कार्ड क्लोन और डिवाइस मिले

खंडवा में पिछले साल नवंबर में एक साथ दर्जनों लोग पुलिस में एटीएम ठगी की शिकायत करने पहुंचे। पुलिस ने जांच में पाया कि, उन सभी लोगों का कनेक्शन उन दिनों शहर में लगी सेल में किये कार्ड से ट्रांजेक्शन से था। मामले को गंभीरता से लेते हुए खंडवा एसपी ने एक टीम बनाई। टीम ने उस प्रदर्शनी से संबंधित लोगों को ढूंढकर उनकी पड़ताल की। इसके बाद कार्ड क्लोन करके लोगों के खाते से पैसे उड़ा लेने वाले इस अंतरराजीय गिरोह का पर्दाफाश करते हुए इसके दो साथियों को उज्जैन में लगे सेल से गिरफ्तार किया। पुलिस पूछताछ में पकड़े गए गिरोह के दोनो सदस्यों ने कई कार्ड क्लोनिंग के ऐसे तरीकों के बारे में बताया, जिसे जानकर पुलिस के होश उड़ गए। इन लोगों के पास से सैकड़ों एटीएम कार्डों के क्लोन और डिवाइस मिले, जिनके जरिए अब तक ये लोग करोड़ों रुपयों की ठगी कर चुके हैं। खंडवा पुलिस ने ठगी के शिकार इन लोगों से चर्चा कर इनकी पहचान भी करवाई।

 

पढ़ें ये खास खबर- व्यापम घोटाला : सवालों के घेरे में आई पुरानी जांच, रोजाना हो रहे हैं चौंकाने वाले खुलासे


इन शहरों में दिया वारदातों को अंजाम

पुलिस के मुताबिक, ये कोई मामूली चोर नहीं है, ये बड़े ही शातिराना तरीके से ग्राहक के एटीएम कार्ड का क्लोन बना लेते थे, जिसके कुछ दिन बाद ये खातों से पैसे उड़ा लिया करते थे, ताकि ग्राहक का शक प्रदर्शनी में किये ट्रांजेक्शन की ओर ना जाए। इन चोरों ने अब तक न सिर्फ खंडवा में बल्कि इसके अलावा भोपाल, इंदौर, बुरहानपुर, रतलाम, उज्जैन, सतना, लखनऊ और दिल्ली में भी ग्राहकों के साथ ठगी की वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस का मानना है कि, आगामी पूछताछ में इनके तार और भी कई शहरों में फैसे हो सकते हैं, जिनका खुलासा आगे हो सकता है।

 

पढ़ें ये खास खबर- ऐसा हुआ चमत्कार जब पेड़ से धुआं निकलते देख काटी टहनियां, तो निकलने लगीं आग की लपटें


इन बातों का रखें ध्यान

ठगी के शिकार हुए लोगों को जब पता लगा कि, उनके साथ ठगी प्रदर्शनी के इन दुकानदारों द्वारा की गई है, तो उनके कान खड़े हो गए। कई लोगों ने तो प्रदर्शनियों से खरीदारी करने की भी तौबा कर ली है। बहरहाल, ये जरूरी नहीं कि, हर प्रदर्शनी में आपके खाते से पैसे उड़ाने वाले ठग हों। प्रदर्शनियों में अकसर उन चीजों का बाजार लगता है, जिसे बड़ी मेहनत से बनाया जाता है। प्रदर्शनी में अपना सामान बेचने आए लोग बहुत मेहनती होते हैं। इस तरह प्रदर्शनियों से किनारा करना किसी गरीब के पेट पर लात मारने के समान भी हो सकता है। फिलहाल, जरूरत है हमेशा सजग रहने की। तकनीक के साथ जुड़ना कतई गलत नही, लेकिन कुछ सावधानी रखते हुए आप अपने साथ घटने वाली घटना से बच सकते हैं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned