script काल के गाल में समा गया हंसता खेलता परिवार, नहर में गिरी कार, मां और मासूम बेटी की डूबने से मौत | car falls into canal mother and daughter die due to drowning in khargone district | Patrika News

काल के गाल में समा गया हंसता खेलता परिवार, नहर में गिरी कार, मां और मासूम बेटी की डूबने से मौत

locationखरगोनPublished: Nov 26, 2023 08:41:30 am

Submitted by:

Faiz Mubarak

हादसे का शिकार परिवार दर्शन करने ओंकारेश्वर जा रहा था। इसके पहले ही हादसे में पत्नी और बेटी की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि कार चालक पिता किसी तरह तेरकर बाहर निकल आया, जिससे उसकी जान बच गई।

accident news
काल के गाल में समा गया हंसता खेलता परिवार, नहर में गिरी कार, मां और मासूम बेटी की डूबने से मौत

मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में शनिवार देर शाम दिल दहला देने वाले सड़क हादसे में एक परिवार काल के गाल में समा गया। बता दें कि यहां नहर में कार गिरने से 28 वर्षीय मां और उसकी 7 साल की बेटी की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि कार चालक पिता किसी तरह कार का गेट खोलकर बाहर निकल आया, जिससे उसकी जान बच गई। बताया जा रहा है कि हादसे का शिकार हुआ परिवार दर्शन के लिए ओंकारेश्वर जा रहा था। इसके पहले ही हादसे में पत्नी और बेटी की दर्दनाक मौत हो गई।

बता दें कि ये ह्रदय विदारक घटना जिले के अंतर्गत आने वाले बड़वाह में घटी है। बताया जा रहा है कि जामनिया में रहने वाले आकाश ठाकुर अपनी पत्नी और बेटी को अपनी कार से ओंकारेश्वर मंदिर दर्शन करने जा रहे थे। इसी दौरान बड़वाह में पंचवटी होटल के सामने कार अनियंत्रित होकर नहर में जा गिरी। इस दौरान नहर में पानी का बहाव काफी तेज होने के चलते चालक पति किसी तरह दरवाजा खोलकर पानी में तैरते हुए बाहर आ गया। लेकिन उसकी पत्नी और बेटी कार में ही फंसे रह गए। उसने कुछ देर दरवाजा खोलकर उन्हें बाहर निकालने की भी प्रयास किया लेकिन वो असफल रहा। कुछ लोगों ने पानी में उतरकर कार को बहने से रोकने के लिए रस्सी भी बांधी, लेकिन पानी के तेज बहाव के चलते रस्सी भी टूट गई, जिससे कार में पानी भर गया और डूबने से दोनों मां-बेटी की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें- चीतों के घर में आ गया टाइगर : कूनो नेशनल पार्क में दिखा बाघ! वीडियो वायरल


मामले की जांच में जुटी पुलिस

accident news

वहीं घटना की जानकारी लगते ही एसडीओपी अर्चना रावत, एसआई पूजा सोलंकी समेत अन्य पुलिसकर्मी और गोताखोर मौके पर पहुंचे। तब तक कार घटनास्थल से करीब 100 मीटर तक आगे बह चुकी थी। इसके बाद गोताखोरों ने दरवाजा खोलकर उन्हें बाहर निकाला। लेकिन जबतक कार में फंसी मां-बेटी को निकाला गया, तबतक उनकी सांसे थम चुकी थीं। फिर भी तसल्ली के लिए दोनों को बड़वाह सिविल अस्पताल ले जाया गया। जहां में डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।

ट्रेंडिंग वीडियो