scriptबंगाल: युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती कराने में जुटा था आरोपी | Patrika News
कोलकाता

बंगाल: युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती कराने में जुटा था आरोपी

एसटीएफ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद हबीबुल्लाह पश्चिम बंगाल के पश्चिम और पूर्वी बर्धमान जिले के युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती कराने का प्रयास कर रहा था। हम उसके संपर्क में आए लोगों के बारे में पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं। पकड़े गए पांच अन्य लोगों में गिरफ्तार व्यक्ति का भाई भी शामिल है, जो आतंकी संगठन में शामिल होने की कोशिश कर रहे थे।

कोलकाताJun 24, 2024 / 03:54 pm

Rabindra Rai

बंगाल: युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती कराने में जुटा था आरोपी

बंगाल: युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती कराने में जुटा था आरोपी

एसटीएफ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद हबीबुल्लाह पश्चिम बंगाल के पश्चिम और पूर्वी बर्धमान जिले के युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती कराने का प्रयास कर रहा था। हम उसके संपर्क में आए लोगों के बारे में पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं। पकड़े गए पांच अन्य लोगों में गिरफ्तार व्यक्ति का भाई भी शामिल है, जो आतंकी संगठन में शामिल होने की कोशिश कर रहे थे।
खबर है कि हबीबुल्लाह को कोलकाता लाया जाएगा। एसटीएफ अधिकारियों के अनुसार, वे गुप्त रूप से काम करते थे, ऐसी गतिविधियां भारत और बांग्लादेश दोनों की अखंडता और संप्रभुता को कमजोर कर देंगी। एसटीएफ के अधिकारियों के अनुसार जांच से पता चला कि शहादत आतंकी मॉड्यूल के सदस्य ज्यादातर एक गुप्त मैसेजिंग प्लेटफॉर्म ‘बीआईपी’ के माध्यम से आपस में संवाद करते है।

लैपटॉप, डायरी समेत कुछ अन्य दस्तावेज जब्त

ये आरोपी भारत और बांग्लादेश की संप्रभुता और अखंडता को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से गुप्त रूप से काम कर रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि एसटीएफ ने छात्र का लैपटॉप, डायरी समेत कुछ अन्य दस्तावेज जब्त कर लिए हैं। शहादत-ए-अल-हिकमा बंग्लादेश में एक प्रतिबंधित इस्लामी आतंकी संगठन है।
राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) ने 2016 में जिले के कांकसा इलाके से एक अन्य छात्र को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से संबंध रखने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

गैर कानूनी गतिविधि समेत कई धाराओं के तहत मामला दर्ज

पश्चिम बंगाल पुलिस के विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने शहादत नामक एक नए आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है। यह मॉड्यूल बांग्लादेश के प्रतिबंधित आतंकी संगठन अंसार अल इस्लाम की शाखा है, जो अंतराष्ट्रीय आतंकी संगठन अल-कायदा से जुड़ा है। संगठन के प्रमुख मोहम्मद हबीबुल्लाह को पश्चिम वर्धमान जिले के कांकसा से गिरफ्तार किया गया।
मोहम्मद हबीबुल्लाह के खिलाफ गैर कानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम और भारतीय दंड संहिता की कई धाराओं के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया है। गिरफ्तारी के बाद दुर्गापुर की अदालत ने उसे 14 दिन तक विशेष कार्यबल की हिरासत में भेज दिया।

कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई कर रहा था आरोपी

पुलिस के सूत्रों ने बताया कि गुप्त सूचना पाकर एसटीएफ की टीम ने कांकसा थाना क्षेत्र के मीरपाड़ा स्थित मोहम्मद हबीबुल्लाह शेख के घर पर छापेमारी की और उसे गिरफ्तार कर लिया। यह क्षेत्र आसनसोल-दुर्गापुर पुलिस आयुक्तालय के क्षेत्र में पड़ता है। आमिर उर्फ मोहम्मद हबीबुल्लाह कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई कर रहा है। वह द्वितीय वर्ष का छात्र है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरोपी छात्र को बांग्लादेश के प्रतिबंधित इस्लामी संगठन शहादत-ए-अल-हिकमा से संबंध रखने के आरोप में पानागढ़ स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के बाद आसनसोल-दुर्गापुर पुलिस और एसटीएफ के वरिष्ठ अधिकारियों ने मोहम्मद हबीबुल्लाह शेख को स्थानीय थाने में ले जाकर पूछताछ की। पूछताछ में उससे मिली जानकारी के आधार पर एसटीएफ के अधिकारियों ने उसी जिले के नबाबघाट क्षेत्र से अन्य पांच आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया।

Hindi News/ Kolkata / बंगाल: युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती कराने में जुटा था आरोपी

ट्रेंडिंग वीडियो