पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव: मतगणना के दिन भी जारी रही हिंसा

Ashutosh Kumar Singh

Publish: May, 17 2018 10:20:23 PM (IST)

Kolkata, West Bengal, India
पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव: मतगणना के दिन भी जारी रही हिंसा

जगह-जगह हिंसक झड़प, फायरिंग, बमबाजी, मारपीट

कोलकाता

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के नामांकन के दिन से शुरू हुआ हिंसा का दौर गुरुवार को मतगणना के दिन भी जारी रहा। मतगणना के दिन भी कई जगहों पर फायरिंग, बमबाजी व मारपीट की घटना घटी। हिंसक झड़प में एक थाना प्रभारी व कुछ पुलिसकर्मी समेत विपक्षी पार्टियों के कई कार्यकर्ता घायल हुए हैं। हालांकि किसी के मारे जाने अथवा गंभीर रूप से घायल होने की घटना नहीं घटी है।
---

मतगणना के दिन हुई कुछ बड़ी वारदात एक नजर में

उत्तर 24 परगना-
राजरहाट थाना क्षेत्र के पाथरघाटा ग्राम पंचायत के मतगणना केंद्र पर मतगणना के दौरान भाजपा प्रत्याशियों और उनके काउंटिंग एजेंट के साथ मारपीट और मतगणना केंद्र से बाहर निकाल देने का मामला सामने आया है। चांदपुर ग्राम पंचायत के मतगणना केंद्र पर कांग्रेस के काउंटिंग एजेंट के साथ मारपीट और मतगणना केंद्र में प्रवेश करने से रोके जाने का आरोप सामने आया है। दोनों जगह आरोप तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों पर लगा है।

हाबरा ग्राम पंचायत के अंतर्गत श्री चैतन्य कॉलेज में मतगणना के दौरान तृणमूल कांग्रेस के कथित समर्थकों ने भाजपा, माकपा और कांग्रेस के समर्थकों और काउंटिंग एजेंटो के साथ मारपीट की। इसके विरोध में विपक्षी दलों के समर्थकों ने श्री चैतन्य कॉलेज संलग्न ३५ नं. राजमार्ग पर सडक़ जाम कर विरोध प्रदर्शन किया।
--------

दक्षिण 24 परगना-
पाथरप्रतिमा ग्राम पंचायत अंतर्गत महेंद्रपुर मतगणना केंद्र पर माकपा के काउंटिंग एजेंट अमित मंडल के साथ मारपीट की गई और उनका सर फोड़ दिया गया।माकपा समर्थकों ने घटना के लिए तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों को जिम्मेदार ठहराया है।

कैनिंग थाना क्षेत्र के बंकिम सरदार कॉलेज में मतगणना के दौरान अवैध रुप से केंद्र में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे कथित तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों को रोकने पर उन लोगों ने केंद्र पर तैनात पुलिस कर्मियों और वॉलेंटियर के साथ मारपीट की। साथ ही बमबारी भी की। मारपीट के दौरान कई पुलिस कर्मी और वॉलेंटियर घायल हो गए। उन्हें नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में उन्हें भर्ती कराया गया है।
-------

हुगली-
सिंगुर थाना क्षेत्र के बोड़ाई-पहलमपुर ग्राम पंचायत अंतर्गत आंटपाड़ा गांव में तृणमूल कांग्रेस और निर्दलीय प्रत्याशी के समर्थकों के बीच झड़प में दोनों पक्षों के12 लोग घायल हुए हैं। आरोप है कि निर्दलीय प्रत्याशी संजय कोले के विजय जुलूस में शामिल लोगों ने स्थानीय तृणमूल कांग्रेस के प्रत्याशी के घर पर हमला किया। जिसके बाद दोनों पक्ष आपस में भिड़ गए। घटना में पुलिस ने दोनों पक्षों के ४ लोगों को गिरफ्तार किया है।

-------

---------------------------------------
पुरुलिया-

जिले के काशीपुर इलाके में मतगणना केंद्र के बाहर विपक्षी पार्टियों के समर्थकों पर तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के हमला करने का आरोप सामने आया है। हमले में कांग्रेस जिलाध्यक्ष कार्तिक मालाकार व माकपा समर्थक दीवान माझी के घायल होने की खबर है।
---------------------------------------

बीरभूम-
मल्लारपुर मतगणना केंद्र के समीप विजय जुलूस के निकालने पर पुलिस ने भाजपा समर्थकों पर लाठीचार्ज किया। मल्लापुर ग्राम पंचायत की 13 सीटों पर भाजपा प्रत्याशियों ने जीत हासिल की है, उसी की खुशी में यह रैली निकाली गई थी।

-------
नदिया-

करीमपुर 2 नं. ब्लॉक के नंदनपुर ग्राम पंचायत के मतगणना केंद्र पर भाजपा को विजय घोषित करने पर तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों पर मतगणना केंद्र में घुसकर फर्जी वोट डालने का आरोप सामने आया। इसका विरोध करने पर भाजपा के समर्थकों पर तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के हमले के भी आरोप है। दोनों दलों के संघर्ष के दौरान पुलिस की एक गाड़ी में आग लगाई गई और दो मोटरसाइकिलों में तोडफ़ोड की गई। तनाव रोकने के लिए पुलिस ने हवा में ६ राउंड गोलियां चलाई। एक युवक के पैर में गोली लगी है, उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
कृष्णगंज पंचायत अंतर्गत शिवनावास मतगणना केंद्र पर मतगणना के दौरान फर्जी वोट डाले जाने का मामला सामने आया है। आरोप तृणमूल कांग्रस के समर्थकों पर लगाया है। इसके साथ ही तृणमूल कांग्रस के समर्थकों पर मतगणना केंद्र के बाहर बमबारी कर हिंसा फैलाने का आरोप भी लगाया गया है।

हांसखाली में मतगणना केंद्र पर विपक्षी दलों के प्रत्याशी और काउंटिंग एजेंटो के प्रवेश पर पाबंदी लगाने का आरोप सामने आया है। विपक्षी दलों के समर्थकों ने आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगाया हे। उनका यह भी आरोप है कि पुलिस के सामने सारी घटना के बावजूद कोई कारवाई नहीं की गई।
जिले के फूलिया मतगणना केंद्र पर कथित तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने बैलट पेपर चोरी करने की कोशिश की। सीसीटीवी की मदद से पुलिस ने बैलेट पेपर बरामद किए और मतगणना दोबारा शुरु हुई।

------
मालदह-

जिले के इंग्लिशबाजार थाना क्षेत्र के मालदह जिला स्कूल में मतगणना के दौरान स्कूल के बाहर एकत्रित विभिन्न दलों के समर्थकों को वहां से हटाने के आरोप में तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने अतीरिक्त पुलिस अधिक्षक(ग्रामीण) दीपक सरकार का घेराव कर विरोध प्रदर्शन किया।
--------

दक्षिण दिनाजपुर-
गंगारामपुर मतगणना केंद्र पर भाजपा के प्रत्याशी एवं काउंटिंग एजेंट को प्रवेश करने से रोका गया। उनके साथ मारपीट की गई। भाजपा ने आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगाया है। भाजपा समर्थकों ने घटना के विरोध में ५१२ नं. राजमार्ग पर प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

जिले के हरिरामपुर पंचायत अंतर्गत अब्दुल गनी कॉलेज में मतगणना शुरु होने से पूर्व ही कुछ असामाजिक तत्वों ने बैलेट पेपर छीनकर सडक़ पर फेंक दिए। घटना की खबर पाकर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और स्थिति काबू में की।
बालूरघाट कॉलेज स्थित मतगणना केन्द्र में भाजपा के जिला अध्यक्ष को प्रवेश से कथित तृणमूल समर्थकों ने रोका। इसको लेकर दोनों पार्टियों के समर्थकों में मारपीट हुई। स्थिति को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा।

-------
उत्तर दिनाजपुर-

चोपड़ा में मतगणना केंद्र पर तृणमूल कांग्रेस और विपक्षी दलों के एजेंटो के बीच संघर्ष को रोकने पहुंचे थाना प्रभारी पार्थसारथी मजूमदार घायल हो गए। घटना में कई और पुलिस कर्मी भी घायल हुए हैं। आरोप है कि तृणमूल कांग्रेस के समर्थक अन्य दलों के एजेंट व प्रत्याशियों को मतगणना केंद्र में प्रवेश नहीं करने दे रहे थे। इसका विरोध करने पर सत्ताधारी और विपक्षी दलों के समर्थकों में संघर्ष छिड़ गया। संघर्ष के दौरान तोड़-फोड़, मारपीट, गोलीबारी और बमबारी भी हुई।

-------
जलपाईगुड़ी-

राजगंज पंचायत अंतर्गत मतगणना केंद्र पर भाजपा प्रत्याशी के साथ मारपीट कर बैलेट पेपेर छीनने का मामला सामने आया है। भाजपा समर्थकों के अनुसार तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने इस घटना को अंजाम दिया है। उन्होंने इसे लेकर प्रशासन की सुरक्षा व्यवस्था पर भी उंगली उठाई।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned