भाजपा को झूठा व धोखेबाज तो कांग्रेस को बताया त्याग और बलिदान की पार्टी, धर्म गुरु बालदास ने और क्या कहा, पढि़ए खबर...

- कार्यक्रम घण्टाघर ओपन थिएटर में हुआ आयोजित

By: Shiv Singh

Published: 15 Nov 2018, 05:33 PM IST

कोरबा. सतनामी समाज के धर्मगुरू बालदास को गुरू घासीदास याद आए। उन्होंने मंच से जनता को संबोधित करते हुए कहा कि उनके आशीर्वाद के बिना प्रदेश में कांग्रेस की सरकार नहीं बन सकती है। आप सभी याद रखें कि यह गुरू घासीदास की अवतरण भूमि है। इसलिए समाज को एकजुट होना होगा। ठीक एक दिन पहले घण्टाघर के इसी मंच पर भाजपा के स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ ने भगवान श्री राम का नाम लेकर वोट मांगे थे।

गुरूवार को बतौर स्टार प्रचारक कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय समन्वयक हरनाम सिंह और प्रदेश के सतनामी समाज के ख्यातिलब्ध धर्मगुरू बालदास कोरबा विधानसभा से कांग्रेसी प्रत्याशी जयसिंह अग्रवाल के पक्ष में प्रचार करने के लिए कोरबा के प्रवास पर रहे। कार्यक्रम घण्टाघर ओपन थिएटर में आयोजित हुआ। हाल ही भाजपा से कांग्रेस में आए गुरू बालदास ने मंच से जनता को संबोधित करते हुए कहा कि सतनामी समाज के लिए जयसिंह ने अच्छा कार्य किया है। जैसा कि लोग बताते हैं उससे ऐसा लगता है कि वह बाबा घासीदास के अच्छे समर्थक हैं। कांग्रेस पार्टी त्याग और बलिदान की पार्टी है। जोकि हमेशा सभी वर्गांे को साथ लेकर चलती है। सबको समान अवसर प्रदान किया जाता है, तो दूसरी तरफ जो भारतीय जनता पार्टी है। उसका मूल उद्देश्य है झूठ, मक्कारी, प्रताडि़त, धोखा व छलावा करना। खासतौर से सतनामी समाज को कांग्रेस पार्टी द्वारा अधिकार और सम्मान बाबाजी के नाम से दिया गया है।

Read More : ग्रामीण को पैसे देते पकड़ाया नूर, तो सफाई में कहा पैसे का चुनाव से कोई संबंध नहीं, ये भी कहा...

इंदिरा गांधी ने ही हमारी मां मिनीमाता को सम्मान दिया था। कांग्रेस ने सदैव ही सतनामी व आदिवासी समाज के साथ पिछड़े वर्गों के उत्थान के लिए कार्य किया है। इतिहास को याद दिलाते हुए बालदास ने दिग्विजय सिंह और अर्जुन सिंह व मोतीलाल वोरा के कार्यकाल को भी याद कराया और कहा कि उनके द्वारा भी सतनामी समाज के लिए बेहतर कार्य किए गए थे।

भाजपा को झूठा व धोखेबाज तो कांग्रेस को बताया त्याग और बलिदान की पार्टी, धर्म गुरु बालदास ने और क्या कहा, पढि़ए खबर...

अर्जुन सिंह ने ही १८ दिसंबर को बाबा गुरू घासीदास के नाम पर सार्वजनिक अवकाश घोषित किया था। विश्वविद्यालय की भी स्थापना की गई, यह बड़ी उपलब्धि रही, लेकिन बीजेपी की सरकार ने पिछले १५ वर्षांे में हमारे साथ छलावा किया है। मुझे जेल भी पड़ा था, यह एक षडय़ंत्र था, इसलिए समाज को दगा देने वालों को वोट नहीं देना है। पुराने इतिहास से पिछले १५ सालों की तुलना करके सोच समझ के निर्णय लो अभी मौका है और मौके से चूकना समाज के साथ धोखा है। मंच पर महापौर रेणु अग्रवाल, पंजाब से आए एमके शर्मा, शहर व ग्रामीण अध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद, उषा तिवारी, श्याम सुंदर सोनी सहित कांग्रसी मौजूद रहे।

Shiv Singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned