कृषि मंत्री ने कहा किसानों के माफ होंगे कर्ज और मिलेगा बोनस

abhishek jain

Publish: Sep, 17 2017 07:29:40 (IST) | Updated: Sep, 17 2017 07:53:18 (IST)

Kota, Rajasthan, India
कृषि मंत्री ने कहा किसानों के माफ होंगे कर्ज और मिलेगा बोनस

बारां. प्रदेश में पिछले दिनों से किसान आंदोलनों के बीच कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने कहा कि किसानों के 50000 तक के कर्ज माफ होंगे।

बारां. प्रदेश में पिछले दिनों से किसान आंदोलनों के बीच कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने बारां में बड़ा बयान दिया है। उन्होंने पत्रिका को बताया कि प्राथमिक स्तर पर राज्य में केसीसी के माध्यम से ऋण लेने वाले लघु व सीमान्त कृषकों के पचास हजार रुपए तक के कर्ज माफ होंगे। इसके अलावा अन्य किसानों के बारे में भी निर्णय किया जाएगा।

 

 

इसके लिए बनी हाईपावर कमेटी की राय के आधार पर सरकार की ओर से यह निर्णय किया जाएगा। कृषि मंत्री ने पत्रिका को यह भी बताया कि मूंग, उड़द, सोयाबीन और मूंगफली की समर्थन मूल्य पर 92 केन्द्रों पर खरीद जल्द शुरू होगी। साथ ही दो सौ रुपए बोनस भी दिया जाएगा।

Read More: अंधविश्वास का खेल : एमबीएस के सोनोग्राफी रूम में आत्मा लेने पहुंचे लोग, टोना-टोटका किया

रविवार को कृषि मंत्री ने ने कहा कि सीकर में किसान आंदोलन के बाद मंत्री समूह ने किसानों से वार्ता की, इसमें 50 हजार रुपए तक कर्ज माफी पर सहमति बनी। सरकार की ओर से इसके बाद एक हाई पावर कमेटी बनाई गई। यह कमेटी निर्धारण करेगी कि किस-किस श्रेणी के कृषकों के कर्ज माफ हों।

राज्य में 40 लाख लघु व सीमान्त किसान है। सरकार की कोशिश है कि प्राथमिक स्तर पर सभी लघु व सीमान्त कृषक, जिन्होंने केसीसी के माध्यम से लोन लिया है एवं ओवरड्यू हैं, उनके 50 हजार रुपए तक के कर्ज माफ हों। अन्य किसानों के बारे में भी कमेटी की राय के आधार पर केबीनेट में निर्णय किया जाएगा।

Read More: चित्रों में दिखाया कोटा का विकास

 

समर्थन मूल्य पर खरीद

कृषि मंत्री ने कहा कि मूंग, उड़द, सोयाबीन व मूंगफली जिंसों की सरकार की ओर से 92 केन्द्रों पर खरीद शुरू की जाएगी। इसके लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित करने के अलावा सरकार की ओर से दो-दो सौ रुपए बोनस भी दिया जाएगा। खरीद राजफेड व कॉपरेटिव के माध्यम से खरीद होगी।

Read More: मोबाइल मांगा और हो गए चम्पत

 

पहली बार मंडी शुल्क वसूली नहीं

कृषि मंत्री ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार इस साल किसानों से मंडी शुल्क नहीं वसूला जाएगा। उक्त चारों जिंसों पर मंडी शुल्क माफ किया गया है। सरकार ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned