राजस्थान में सर्दी का सितम, छाया घना कोहरा, कांप उठा कोटा

100 मीटर तक रही विजिबिलिटी

बीते 24 घंटे में 18.7 एमएम बारिश दर्ज

By: shailendra tiwari

Published: 09 Jan 2021, 07:43 PM IST

कोटा. लगातार तीन दिन से हो रही बारिश के बाद शहर शनिवार को घने कोहरे में लिपटा रहा। बारिश, कोहरा व ठंडी हवा से शहर कांप उठा। हाड़कंपाने वाली सर्दी से जनजीवन प्रभावित हो रहा है। सर्दी से बचने के लिए आमजन के लिए अलाव ही सहारा बने हुए हैं।

दरअसल, पूर्वी राजस्थान में एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो गया है। इस कारण बीते तीन दिन से लगातार बारिश हो रही है। शुक्रवार देर रात भी बारिश हुई, जो शनिवार सुबह 8 बजे तक जारी रही। उसके बाद शहर घने कोहरे में लिपट गया। विजिबिलिटी 100 मीटर तक पहुंच गई। इससे चालकों को सफर करने में काफी परेशानी हुई।

हैडलाइट ऑनकर यात्रा करनी पड़ रही है। उसके बाद दिन सूर्यदेव के दर्शन नहीं हुए। बादल छाए रहे। ठंडी हवा चलती रही। लोग कांप उठे। हाड़कंपाने वाली सर्दी के कारण कम ही लोग घरों से बाहर निकल पाए। लोग रजाइयों व कम्बल में दुबकने को मजबूर रहे।

18.7 एमएम बारिश दर्ज
मौसम विभाग के अनुसार, अधिकतम तापमान 17.6 व न्यूनतम तापमान 15.6 डिग्री सेल्सियस रहा। विजिबिलिटी 100 मीटर रही। बीते 24 घंटे में 18.7 एमएम बारिश दर्ज की गई। 1 से9 जनवरी तक कुल 54.0 एमएम यानी 2 इंच बारिश हो चुकी है।


ऐसे बनता है कोहरा...

फॉग यानी कोहरा तब बनता है जब हवा में मौजूद जल वाष्प ठंडी होकर हवा में जम जाते हैं और पानी की बूंदे हवा में तैरती हैं। यह एक सफेद चादर की तरह पूरी हवा को ढक देती है। जिसे सामान्य भाषा में फॉग या कोहरा कहते हैं। फॉग की वजह से विजिबिलिटी यानी देखने की क्षमता भी बेहद कम हो जाती है।

खेतों में भरा पानी
बारिश के कारण शहर के आसपास व ग्रामीण क्षेत्रों में खेतों में पानी भर गया। किसानों का कहना है कि बारिश के कारण खेतों में नमी हो रही है। इससे चना व धनिया की फसल में नुकसान है।


आगे यह रहेगा

जयपुर मौसम केन्द्र निदेशक आर.एस. शर्मा ने बताया कि हाड़ौती में दो दिन और घना कोहरा छाया रहेगा। उसके बाद भी लगातार तापमान में गिरावट रहेगी।

Show More
shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned