scriptElephant Reserve to be Built Mixing Dudhwa and Pilibhit Reserve | दुधवा और पीलीभीत रिजर्व क्षेत्र को मिलाकर बनेगा हाथी रिजर्व, किसानों को राहत, समय पर मिलेगा मुआवजा | Patrika News

दुधवा और पीलीभीत रिजर्व क्षेत्र को मिलाकर बनेगा हाथी रिजर्व, किसानों को राहत, समय पर मिलेगा मुआवजा

दुधवा और पीलीभीत टाइगर रिजर्व को मिलाकर उत्तर प्रदेश में पहला तराई हाथी रिजर्व बनाया जाएगा। इसे केंद्र सरकार की 'प्रोजेक्ट हाथी' योजना के तहत शुरू किया जाएगा। प्रोजेक्ट को भारत सरकार से सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई है।

लखीमपुर खेरी

Published: May 15, 2022 03:21:23 pm

दुधवा और पीलीभीत टाइगर रिजर्व को मिलाकर उत्तर प्रदेश में पहला तराई हाथी रिजर्व बनाया जाएगा। इसे केंद्र सरकार की 'प्रोजेक्ट हाथी' योजना के तहत शुरू किया जाएगा। प्रोजेक्ट को भारत सरकार से सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई है। अब राज्य सरकार को बाकी के इंतजाम करने हैं। यूपी के मुख्य वन्यजीव वार्डन संजय सिंह ने कहा कि इस हाथी अभ्यारण को तराई हाथी रिजर्व (टीईआर) के रूप में जाना जाएगा। दरअसल, यूपी सरकार ने किसानों को जंगली हाथियों से निजात दिलाने के लिए इस तरह की पहल की है। सरकार का उद्देश्य है कि जंगली हाथियों, उनके आवासों और गलियारों की रक्षा हो।
Elephant Reserve File Photo
Elephant Reserve File Photo
तराई हाथी रिजर्व बनने से हाथियों और इंसानों के बीच का संघर्ष तो कम होगा ही, साथ ही इन हाथियों को रहने का एक स्थाई स्थान भी मिलेगा। किसी भी दुर्घटना पर समय पर मुआवजा भी मिल सकेगा। इसके बनने से पीलीभीत, लखीमपुर खीरी के भारत-नेपाल क्षेत्रों में रहने वाले किसानों और ग्रामीणों की रक्षा होगी।
यह भी पढ़ें

गेहूं के निर्यात पर सरकार ने तत्काल प्रभाव से लगाया प्रतिबंध, ये है बड़ा कारण, यूपी अधिकारियों ने कहा पश्चिम में होगी ज्यादा परेशानी

टाइगर रिजर्व की तरह होंगे कानून

पीलीभीत तराई का इलाका वन्यजीवों के लिए अनुकूल माना जाता है। यहां लगातार वन्यजीवों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है। संजय सिंह ने कहा कि हाथी रिजर्व में टाइगर रिजर्व के कानून लागू होंगे। टीईआर का निर्माण तीन हजार वर्ग किलोमीटर में होगा जिसमें 149 हाथी, जिनमें नर, मादा व बछड़ों सहित कुल 25 पालतू हाथी हैं। दुधवा पार्क प्रशासन इस प्रस्ताव को केंद्र की मंजूरी मिलने से खासा उत्साहित है। बता दें कि तराई हाथी रिजर्व बनने के बाद यहां हर साल बड़ी संख्या में आने वाले नेपाली हाथियों को बेहतर माहौल मिलेगा। यही नहीं हाथियों को इलाज जैसी बेहतर सुविधाएं समय पर मिल सकेंगी और उनकी अच्छे से देखभाल हो सकेगी। इसके अलावा रिजर्व इलाके के सौंदर्यीकरण का काम भी बेहतर ढंग से हो सकेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

किडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, सरेंडर वाले दिन ही ली शपथ, नीतीश बोले-मुझे जानकारी नहींदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल आज लॉन्च करेंगे ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, 2024 पर नजरसुप्रीम कोर्ट ने 'रेवड़ी कल्चर' के खिलाफ सभी पक्षों से मांगे सुझाव, 22 अगस्त तक दिया वक्तशिवमोगा तनाव पर कर्नाटक BJP नेता केएस ईश्वरप्पा का विवादित बयान- मुस्लिम यहां शांति से रहे या पाकिस्तान चले जाएंकेरल कोर्टः यौन उत्पीड़न की शिकायत पहली नजर में नहीं टिकेगी, जब महिला ने 'यौन उत्तेजक' पोशाक पहनी होTrain Accident: महाराष्ट्र के गोंदिया में रेल हादसा, पैसेंजर ट्रेन ने मालगाड़ी को मारी टक्कर; दो यात्री घायलमहागठबंधन सरकार बनने के बाद आज पटना में नीतीश कुमार से मिलेंगे राजद सुप्रीमो लालू यादव, इन मुद्दों पर होगी बातElon Musk News : ट्विटर से डील रद्द करने वाले एलन ने अब Twitter पर ही किया एक और कंपनी खरीदने का ऐलान और फिर मारी पलटी!
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.