जियो के आरोपों पर एयरटेल का करारा जवाब, टावरों के नुकसान में भूमिका को नकारा

  • एयरटेल ने दूरसंचार विभाग के सचिव अंशु प्रकाश को लिखे एक पत्र में आरोपों को बताया निराधार
  • एयरटेल ने कहा, जियो की शिकायत का कोई सबूत नहीं, ना ही जियो के सामने खड़ी मुश्किलों में उसका हाथ है

By: Saurabh Sharma

Updated: 03 Jan 2021, 10:28 AM IST

नई दिल्ली। टेलीकॉम प्रमुख भारती एयरटेल ने टावरों को हाल ही में नुकसान पहुंचाए जाने के मामले में रिलायंस जियो के आरोपों को बेबुनियाद बताया है। दूरसंचार विभाग के सचिव अंशु प्रकाश को लिखे एक पत्र में एयरटेल ने प्रतिस्पर्धी कंपनी रिलायंस जियो के आरोपों को बेबुनियाद व बेतुका करार दिया है। एयरटेल ने दूरसंचार नेटवर्क के साथ ही बर्बरता की घटनाओं की निंदा भी की है।

यह भी पढ़ेंः- पेट्रोलियम कारोबार में किस गड़बड़ी की वजह से लगा रिलायंस और मुकेश अंबानी पर जुर्माना

आरोपों को बताया बेतुका
पत्र में कहा गया है कि जियो का यह आरोप कि टावरों के साथ तोडफ़ोड़ कर ग्राहकों को एयरटेल में स्विच करने पर मजबूर करने के लिए एयरटेल किसान आंदोलन के पीछे खड़ी है, अपने आपमें बेतुका है। एयरटेल ने कहा कि जियो की शिकायत का कोई सबूत नहीं है कि उसके समक्ष खड़ी हो रही दिक्कतों में एयरटेल का कोई हाथ है।

यह भी पढ़ेंः- देश की लिस्टेड कंपनियों में भारत सरकार से ज्यादा लगा है टाटा का रुपया, चौंकाने वाले आंकड़े सामने आए

जियो ने लगाया था आरोप
दरअसल, जियो की ओर से यह आरोप लगाया गया था कि भारती एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया के चैनल भागीदारों द्वारा किसानों के विरोध प्रदर्शन की आड़ में उसके टावरों के साथ तोडफ़ोड़ करने के प्रयास किए जा रहे हैं। हालांकि अब एयरटेल ने इन आरोपों का खंडन करते हुए स्पष्ट किया है कि जियो के टावरों को हुए नुकसान में एयरटेल की कोई भूमिका नहीं है।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned