ICICI-Videocon Loan Case: ED ने चंदा कोचर को जारी किया समन, दीपक कोचर को भी किया तलब

  • दीपक कोचर और उनके भाई राजीव को 30 अप्रैल को मामले के जांच अधिकारी के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है।
  • चंदा कोचर समेत अन्य को पिछले सप्ताह ही भेजा गया था समन।
  • निजी और आधिकारिक वित्तीय जानकारी से जुड़े कुछ दस्तावेज लाने को भी कहा गया है।

By: Ashutosh Verma

Published: 23 Apr 2019, 01:52 PM IST

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय ( ईडी ) ने बैंक कर्ज धोखाधड़ी से जुड़े धनशोधन मामले में आईसीआईसीआई बैंक ( icici bank ) की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी ( CEO ) चंदा कोचर ( Chanda Kochhar ) और उनके पति दीपक कोचर ( Deepak Kochhar ) को समन जारी कर अगले हफ्ते यहां तलब किया है। ईडी के अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

यह भी पढ़ें - जानिए अंतरराष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतों में तेजी से कैसे पड़ता है आपके जेब पर असर

पीएमएलए के बयान दर्ज करने को कहा

अधिकारियों ने कहा कि चंदा कोचर को 3 मई को तलब किया गया है जबकि दीपक और उनके भाई राजीव को 30 अप्रैल को मामले के जांच अधिकारी के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है। उन्हें धनशोधन निवारण अधिनियम ( PMLA ) के तहत बयान दर्ज करने के लिए भी कहा गया है। उन्होंने बताया कि चंदा कोचर समेत अन्य को पिछले हफ्ते समन भेजा गया है।

यह भी पढ़ें - हेमा मालिनी, जया प्रदा से लेकर राहुल गांधी तक, ऐसे पैसे बचाते हैं आपके नेता

1 मार्च को ईडी ने की मुंबई कार्यालय में पूछताछ

अधिकारियों ने कहा कि जांच अधिकारी को जांच आगे बढ़ाने के लिए उनकी जरूरत है। इसके अलावा उन्हें निजी और आधिकारिक वित्तीय जानकारी से जुड़े कुछ दस्तावेज लाने को भी कहा गया है। बैंक कर्ज मामले में एक मार्च को छापेमारी के बाद भी प्रवर्तन निदेशालय ने चंदा कोचर और उनके पति से ईडी के मुंबई कार्यालय में पूछताछ की थी। ईडी ने चंदा कोचर , उनके परिवार और वीडियोकॉन समूह के वेणुगोपाल धूत के मुंबई और औरंगाबाद ठिकानों पर छापेमारी की थी।

यह भी पढ़ें - Jet Airways को जीवनदान दे सकती है एअर इंडिया, महाराजा को अंतरराष्ट्रीय व घरेलू रूटों पर होगा फायदा

दोनों पर कर्ज अनियमित्तता का आरोप

प्रवर्तन निदेशालय ने इस साल की शुरुआत में चंदा कोचर , उनके पति दीपक कोचर , धूत और अन्य के खिलाफ आईसीआईसीआई द्वारा वीडियोकॉन समूह को 1,875 करोड़ रुपये के कर्ज को मंजूरी देने के मामले में कथित अनियमितताओं और भ्रष्टाचार की जांच के लिए पीएमएलए के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया था।

 

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

Show More
Ashutosh Verma Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned