जानिए क्या है फोटो को जिंदा करने वाला टूल Deep Nostalgia, ऐसे काम करता है यह

  • इन दिनों सोशल मीडिया पर Deep Nostalgia AI टूल वायरल हो रहा है।
  • इस टूल के जरिए पुरानी तस्वीरों को ऐसा बना दिया जाता है, जिसे देख कर लगता है कि फोटो में एक्सप्रेशन आ गए।

By: Mahendra Yadav

Published: 05 Mar 2021, 05:51 PM IST

वक्त के साथ नई—नई टेक्नोलॉजी आ रही है। अब इन दिनों सोशल मीडिया पर Deep Nostalgia AI टूल वायरल हो रहा है। इस टूल के जरिए किसी तस्वीर को जिंदा कर सकते हैं। इसमें पुरानी तस्वीरों को ऐसा बना दिया जाता है, जिसे देख कर लगता है कि फोटो में एक्सप्रेशन आ गए। दरअसल ये एक टूल है जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड है। इस AI टूल की मदद से मृतकों की फोटो को बोलते हुए देख सकते हैं। ये AI टूल एक डीपफैकरी है जो किसी भी फोटो को जिंदा कर देता है। महात्मा गांधी और भगत सिंह से लेकर कई महान लोगों की तस्वीरों को इस टूल से एनिमेट किया जा रहा है।

दिवंगतों की फोटोज को कर रहे एनिमेट
लोग अपने दिवंगत फैमिली मेंबर्स की तस्वीरें भी इस टूल से एनिमेट करके शेयर कर रहे हैं। उदाहरण के तौर पर अगर आपके पास किसी करीबी की फोटो है जो अब इस दुनिया में नहीं हैं तो आप इस टूल का इस्तेमाल कर उनकी फोटो को जिंदा कर सकते हैं। ट्विटर पर ये ट्रेंड अब काफी वायरल हो रहा है

क्या है Deep Nostalgia टूल?
Deep Nostalgia एक AI आधारित डीपफेकरी है, जो पुरानी फोटो में एक्सप्रेशन देकर उसे जिंदा कर देता है। यह एक ऑनलाइन कंपनी माय हैरिटेज कर रही है। यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर फोटो को जिंदा कर रही है। कंपनी की वेबसाइट पर यूजर्स को एक पोट्रेट फोटो अपलोड करना होता है। यह टूल फेशियल मूवमेंट्स का इस्तेमाल करता है और एआई की मदद से तस्वीर को एक्सप्रेशन देता है।

फोटोज से छोटी-छोटी डिटेल्स कलेक्ट करता है टूल
ये टूल फोटोज से छोटी छोटी डीटेल्स कलेक्ट करता है। जैसे आप ब्लिकं कैसा करते हैं, स्माइल किस तरह से करते हैं और आपका जेस्चर क्या है। इन डिटेल्स के आधार पर ये टूल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यानी एआई के जरिए अपना काम करता है। जब फोटो अपलोड हो जाती तो ये टूल सबसे पहले उसे एनलार्ज करता है। इसके बाद आपको एक जिफ फाइल मिलेगी, जिसमें आपको अपलोड की गई फोटो एनिमेटेड दिखती है। यहां डीप लर्निंग का इस्तेमाल किया गया है।

रिजल्ट चौंकाने वाले
इसके बाद तस्वीर का जो रिजल्ट सामने आता है, वह चौंकाने वाला होता है। इसमें आपने अपने करीबी की जो फोटो अपलोड की थी, वह एनिमेटेड होने के बाद उस फोटो में लिप्स, आंख मूव करते दिखाई देते हैं। सोशल मीडिया यूजर्स इस फीचर का खूब इस्तेमाल कर रहे हैं। वे अपने पूर्वजों की पुरानी तस्वीरों को इस टूल की मदद से एनिमेट कर रहे हैं।

कुछ लोगों को लग रहा डर
कुछ लोग मजे से इस टूल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो कुछ लोग इससे डर भी रहे हैंं। उनका कहना है कि ये तो महज एक उदाहरण है। सोचिए आगे डीप फेक से क्या मुमकिन है ये भी सोचना होगा। हालांकि Deep Nostalgia को शुरू करने वाली वेबसाइट MyHeritage का कहना है कि यूजर्स द्वारा अपलोड की गई तस्वीरों को कंपनी थर्ड पार्टी को नहीं देता है। हालांकि कुछ लोगों का कहना है कि तस्वीरें अपने आप में एक डेटा है और इनका गलत इस्तेमाल भी किया जा सकता है। बता दें कि टेलीग्राम पर भी एक टूल की मदद से महिलाओं और युवतियों की तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया था।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned