script हल्द्वानी हिंसा के बाद सीएम धामी का बड़ा एक्‍शन, जहां था अवैध मदरसा वहां बनेगा थाना | CM Pushkar Dhami big action after Haldwani violence police station will be built where there was illegal madrassa | Patrika News

हल्द्वानी हिंसा के बाद सीएम धामी का बड़ा एक्‍शन, जहां था अवैध मदरसा वहां बनेगा थाना

locationलखनऊPublished: Feb 12, 2024 06:16:32 pm

Submitted by:

Aman Pandey

Haldwani Violence: उत्तराखंड के हल्द्वानी में हिंसा की वजह बने अवैध मदरसे की जगह अब पुलिस थाना बनेगा। इसकी घोषणा उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने की है। उन्होंने कहा कि उपद्रवियों और दंगाइयों के लिए स्पष्ट संदेश है कि देवभूमि की शांति से खिलवाड़ करने वाले को छोड़ा नहीं जाएगा।

CM Pushkar Dhami big action after Haldwani violence police station will be built where there was illegal madrassa
CM Pushkar Singh Dhami Big Action: हल्द्वानी में हिंसा की वजह बने अवैध मदरसे की जगह अब पुलिस थाने का निर्माण होगा। पुष्कर सिंह धामी ने ने सोमवार को एक वीडियो ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी।
उन्होंने एक्स पर लिखा, 'बनभूलपुरा, हल्द्वानी में जिस जगह से अवैध अतिक्रमण हटाया गया वहां पर अब पुलिस थाने का निर्माण किया जाएगा। उपद्रवियों और दंगाइयों के लिए हमारी सरकार का यह स्पष्ट संदेश है कि देवभूमि की शांति से खिलवाड़ करने वाले किसी भी व्यक्ति को छोड़ा नहीं जाएगा, ऐसे उपद्रियों के लिए उत्तराखंड में कोई स्थान नहीं है।'
हरिद्वार में सीएम ने की घोषणा

हरिद्वार के ऋषिकुल मैदान में 'नारी शक्ति महोत्सव' को संबोधित करते हुए पुष्कर सिंह धामी ने कहा यह जो बनभूलपुरा है, एक बगीचे में अतिक्रमण था। उस अतिक्रमण में कई एकड़ भूमि निकली है। वह भूमि जहां पर आगजनी हुई है, जहां पथराव हुआ है। जहां उपद्रव किया गया है। जहां पुलिसकर्मियों के साथ कानून को तोड़ा गया। पत्रकार भाइयों को भी आग में झोंकने का काम किया। मैं मां गंगा के पवित्र तट से घोषणा करता हूं कि उस स्थान पर पुलिस का थाना बनाया जाएगा।'
8 फरवरी को हुई थी हिंसा
बता दें कि हल्द्वानी के बनभूलपुरा में मलिक के बगीचे में अवैध मदरसा और नमाज स्‍थल बना हुआ था। प्रशासन ने 8 फरवरी को बुलडोजर से अवैध ध्वस्त कर दिया था। कार्रवाई के बाद हिंसा भड़क गई थी। भीड़ ने पुलिस और प्रशासन की टीम पर हमला कर दिया था। हिंसा में पांच लोगों की मौत हो गई। राज्य सरकार ने उपद्रवियों के खिलाफ सख्त ऐक्शन का आदेश दिया है। उपद्रवियों की पहचान करके उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है।

ट्रेंडिंग वीडियो