सीएम योगी का प्रियंका गांधी पर पलटवार, कहा सुर्खियों में बने रहने के लिए कर रहे ऐसा

सीएम योगी का प्रियंका गांधी पर पलटवार, कहा सुर्खियों में बने रहने के लिए कर रहे ऐसा

Karishma Lalwani | Updated: 30 Jun 2019, 01:14:20 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

प्रियंका के बयान पर सीएम योगी ने कहा सुर्खियों में बने रहने के लिए कर रहे ऐसा

लखनऊ. उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के ट्वीट पर पलटवार किया। प्रियंका गांधी द्वारा यूपी में अपराध को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनका बयान अंगूर खट्टे होने जैसा है। प्रियंका की पार्टी यूपी में चुनाव हार गई। इसलिए सुर्खियों में बने रहने के लिए वे दिल्ली, इटली या इंग्लैड में बैठे वे बयानबाजी कर रहे।

 

प्रियंका ने किया ये ट्वीट

प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में अपराध की घटनाओं पर ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पूरे उत्तर प्रदेश में अपराधी खुलेआम मनमानी करते घूम रहे हैं। एक के बाद एक अपराधिक घटनाएं घटित हो रही हैं। मगर उत्तर प्रदेश की भाजपा सराकर के कान में जूं तक नहीं रेंग रही। उन्होंने सवाल किया कि क्या उत्तर प्रदेश सरकार ने अपराधियों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है?


प्रियंका गांधी पर पलटवार कर सीएम योगी ने कहा कि उनकी पार्टी चुनाव हार गई इसलिए वे सुर्खियों में बने रहने के लिए इस तरह की टिप्पणी कर रही हैं।

यूपी पुलिस ने भी दिया जवाब

प्रियंका (Priyanka Gandhi) के अपराध नियंत्रण पर सवाल उठाने पर यूपी पुलिस (UP Police) ने उन्हें जवाब दिया। यूपी पुलिस ने उन्हें दो साल के आंकड़े गिना कर कहा कि राज्य में डकैती, लूट एवं अपराध की घटनाओं में अप्रत्याशित रूप से कमी आई है। यूपी पुलिस के मुताबिक पिछले दो सालों में 81 क्रिमिनल मारे गए और 9225 क्रिमिनल्स गिरफ्तार हुए। वहीं रासुका में प्रभावी कार्यवाही कर लगभग 2 अरब की सम्पत्ति जब्त की गयी है।

विपक्ष में बैठने लायक नहीं मिली सीटें

यूपी सरकार में बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जयसवाल ने प्रियंका के बयान को हास्याप्रद बताया है। उन्होंने कहा कि जनता जनार्दन से कुछ नहीं छिपता। उन्हें विपक्ष में बैठने लायक सीटें नहीं मिलीं इसलिए वे ऐसी बात कर रही हैं।

ये भी पढ़ें: एक्शन में सीएम योगी, बागपत और मेरठ के अधिकारियों को किया बर्खास्त

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned