नारी सुरक्षा के लिए हुआ 'मिशन शक्ति' का आगाज, हर थाने में होगी महिला हेल्प डेस्क, नौ दिनों तक चलेगा अभियान

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने अश्विन मास की शुक्ल पक्ष यानी शारदीय नवरात्र के दिन 'मिशन शक्ति' की शुरुआत की है। प्रदेश में महिलाओं व बालिकाओं के सम्मान और उनकी सुरक्षा के लिए शुरू किया गया यह अभियान नौ दिनों तक चलेगा।

By: Karishma Lalwani

Published: 17 Oct 2020, 12:02 PM IST

लखनऊ. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने अश्विन मास की शुक्ल पक्ष यानी शारदीय नवरात्र के दिन 'मिशन शक्ति' की शुरुआत की है। प्रदेश में महिलाओं व बालिकाओं के सम्मान और उनकी सुरक्षा के लिए शुरू किया गया यह अभियान नौ दिनों तक चलेगा। इसके बाद अप्रैल तक हर महीने यह अभियान एक-एक सप्ताह के लिए चलाया जाएगा, जिसके लिए अलग-अलग थीम निर्धारित की जाएगी। अभियान की शुरुआत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने राजधानी लखनऊ से की। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बलरामपुर की पुलिस लाइन में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मिशन का शुभारंभ किया। इसके पहले उन्होंने जिले के देवीपाटन शक्तिपीठ तुलसीपुर में रात्रि विश्राम के बाद सुबह मां पाटेश्वरी का दर्शन किया।

अपर मुख्य सचिव महिला कल्याण, बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार एस. राधा चौहान ने शुक्रवार को विशेष अभियान ‘मिशन शक्ति’ के सफल क्रियान्वयन के संबंध में सभी जिला प्रोबेशन अधिकारियों, महिला कल्याण एवं जिला कार्यक्रम अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा महिलाओं, बालिकाओं व बच्चों की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलंबन के संदर्भ में एक व्यापक कार्ययोजना बनाई गई है। अभियान के तहत महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर लोगों को जागरुक किया जाएगा। मिशन के तहत प्रदेश की 24 करोड़ जनता तक पहुंचकर उन्हें महिलाओं व बच्चों से संबंधित मुद्दों पर जागरूक किए जाने का लक्ष्य रखा गया है। ‘मिशन शक्ति’ के तहत नियमित अंतराल पर विभिन्न चरणों में ‘थीम वार’ साप्ताहिक कार्यक्रम चलाए जायेंगे।

ये भी पढ़ें: आज से फिर से पटरी पर दौड़ेगी तेजस एक्सप्रेस, नवरात्र का खाना, 10 लाख बीमा सहित यात्रियों को मिलेगी इन चीजों की सुविधा

जागरुकता पर विशेष जोर

मुख्यमंत्री योगी ने 'मिशन शक्ति' अभियन को सफल बनाने का निर्देश दिया था। योगी ने कहा था कि हमें नवरात्र का वास्तविक संदेश आत्मसात करना होगा। सशक्त स्त्री, समृद्ध समाज का आधार है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश की एक-एक बालिका और महिला की सुरक्षा, गरिमा और सशक्तिकरण सुनिश्चित करने का संकल्प लेते हुए 'मिशन शक्ति' को सफल बनाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि महिला सुरक्षा, गरिमा और सशक्तीकरण को 'जनांदोलन' बनाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि अभियान के पहले चरण में जागरूकता पर हमारा सर्वाधिक जोर होगा।

हर थाने में महिला हेल्प डेस्क

अभियान में शामिल हर विभाग की कार्ययोजना होगी। महिलाओं को जागरूक करने के लिए नवरात्र के दौरान बने पूजा पंडालों में लघु फिल्म व गांव-गांव में नुक्कड़ नाटकों का सहारा लिया जाएगा। यही नहीं हर थाने में महिला हेल्प डेस्क बनाने के भी निर्देश दिए गए हैं। सभी थानों पर एंटी रोमियो स्क्वॉयड को शोहदों के खिलाफ अभियान भी चलाने को कहा गया है। मिशन शक्ति अभियान अप्रैल 2021 तक चलेगा।

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned