कांग्रेस ने संगठन में किया बड़ा फेरबदल, सभी जिलों में बदल गये प्रभारी, पूर्वी-पश्चिमी जोन इंचार्ज की जिम्मेदारी इनके पास

- कांग्रेस ने पूरे उत्तर प्रदेश को दो मंडलों और छह उपमंडलों में बांटकर उपाध्यक्ष स्तर के पदाधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी है
- पूर्वी जोन को अवध, पूर्वांचल और बुंदेलखंड में मंडल में और पश्चिमी जोन को आगरा, मेरठ, बरेली और देवीपाटन मंडल में बांटा गया है
- उत्तर प्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने घोषित की संगठन पदाधिकारियों की लिस्ट

लखनऊ. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का पूरा फोकस उत्तर प्रदेश पर है। पार्टी अभी से 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। प्रदेश अध्यक्ष बदलने के बाद अब कांग्रेस का फोकस जिलों में संगठन को मजबूत करने पर है। पार्टी ने पूरे यूपी को दो मंडलों और छह उपमंडलों में बांटकर उपाध्यक्ष स्तर के पदाधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी है। पूर्वी जोन को अवध, पूर्वांचल और बुंदेलखंड में मंडल में और पश्चिमी जोन को आगरा, मेरठ, बरेली और देवीपाटन मंडल में बांटा गया है। हर जोन में शामिल जिलों के लिए भी सचिव स्तर के पदाधिकारी को जिलेवार प्रभारी बनाया गया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने प्रदेश उपाध्यक्ष वीरेन्द्र चौधरी को पूर्वी यूपी जोन और उपाध्यक्ष पंकज मलिक को पश्चिमी जोन की जिम्मेदारी सौंपी है। इसके अलावा फ्रंटल संगठनों की जिम्मेदारी ललितेश पति त्रिपाठी और दीपक कुमार को सौंपी गई है।

पूर्वी जोन की कमान वीरेन्द्र चौधरी को
पूर्वी जोन की जिम्मेदारी प्रदेश उपाध्यक्ष वीरेन्द्र चौधरी को सौंपी है। अवध जोन में संगठन का काम देख रहे राकेश सचान लखनऊ, अंबेडकर नगर, सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, कौशांबी, उन्नाव, भदोही, बाराबंकी, अयोध्या, प्रयागराज, हरदोई, अमेठी व रायबरेली में संगठन का काम देखेंगे। वहीं, पूर्वांचल जोन में शामिल बस्ती, संत कबीरनगर, सिद्धार्थनगर, महराजगंज, वाराणसी, मऊ, आजमगढ़, गाजीपुर, चंदौली, जौनपुर, बलिया, सोनभद्र, मिर्जापुर, देवरिया व कुशीनगर का काम महासचिव विश्व विजय सिंह को सौंपा गया है। इसी तरह बुंदेलखंड जोन की जिम्मेदारी महासचिव ध्रव राम जोशी संभालेंगे। इस जोन में ललितपुर, जालौन, झांसी, चित्रकूट, हमीरपुर, महोबा, फतेहपुर व बांदा को रखा गया है।

पश्चिमी जोन का प्रभार पंकज मलिक को
उपाध्यक्ष पंकज मलिक को पश्चिमी जोन की जिम्मेदारी सौंपी गई है। उनके अंडर में आगरा, बरेली व मेरठ समेत तीन जोन रहेंगे। आगरा जोन के संगठन का काम महासचिव योगेश दीक्षित देखेंगे। उनके पास मथुरा, फिरोजाबाद, एटा, इटावा, हाथरस, आगरा, कासगंज, कानपुर व कानपुर देहात, कन्नौज, औरैया, फर्रूखाबाद व मैनपुरी जिले की जिम्मेदारी है। वहीं, महासचिव वीरेन्द्र सिंह गुड्डू को मेरठ जोन का प्रभारी बनाया गया है। उनके जिम्मे गाजियाबाद, मेरठ, हापुड़, अलीगढ़, सहारनपुर, बुलंदशहर, गौतमबुद्धनगर, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, शामली व बागपत जिले शामिल हैं। युसुफ अली तुर्क को बरेली और देवीपाटन मंडल की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इनमें श्रावस्ती, बहराइच, गोंडा, बरेली, शाहजहांपुर, रामपुर, अमरोहा, मुरादाबाद, संभल, बलरामपुर, पीलीभीत, बदायूं, सीतापुर व लखीमपुर जिले शामिल हैं।

यह भी पढ़ें : यूपी में अपनी सियासी जमीन मजबूत करने में जुटे सभी दल, यह है सपा-बसपा, बीजेपी और कांग्रेस का प्लान

Hariom Dwivedi
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned