क्षयरोग मुक्त शहर बनाने में भूमिका निभाएंगे डाकिये, टीबी मरीजों की आधुनिक जांच में मदद करेगा डाक विभाग

जिले के प्रधान डाकघर हजरतगंज में सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल के नेतृत्व में आरएनटीसीपी तथा डाक विभाग की संयुक्त कार्यशाला का आयोजन किया गया।

By: Neeraj Patel

Published: 01 Jul 2019, 06:21 PM IST

लखनऊ. जिले के प्रधान डाकघर हजरतगंज में सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल के नेतृत्व में आरएनटीसीपी तथा डाक विभाग की संयुक्त कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें पोस्टमास्टर जनरल लखनऊ परिक्षेत्र राजकुमार महाराज तथा जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. बीके सिंह की संयुक्त अध्यक्षता में पोस्टमैन व आरएनटीसीपी स्टाफ का संवेदीकरण किया गया। सरकार द्वारा निर्धारित कार्ययोजना के अनुसार बताया गया कि सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों से टीबी की आधुनिक जांच कराने के लिए सैंपल ट्रांसपोर्टेशन का कार्य पोस्टमैन द्वारा आधुनिक लैब तक ट्रांसपोर्ट कराया जाएगा।

क्षयरोगियों को 500 रुपए मिलेंगे हरमाह

डॉ. बीके सिंह ने डाक विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को टीबी का पूर्ण रूप से इलाज संभव है को लेकर जागरुक किया और जांच व उपचार समस्त सुविधाएं कार्यक्रम के अन्तर्गत निशुल्क दी जा रही है। साथ ही बताया कि उपचार ले रहे सरकारी तथा गैरसरकारी सभी क्षयरोगियों को केन्द्र सरकार की निक्षय पोषण योजना के अंतर्गत 500 रुपए प्रतिमाह का भुगतान भी डीबीटी के माध्यम से उनके खाते में किया जाता हैं।

क्षय रोगियों की मदद करेगा डाक विभाग

डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने का कहना है कि डाक विभाग टीबी की आधुनिक जांच कराने के साथ-साथ ऐसे क्षय रोगियों की मदद करेगा। जिनके पास आधार तथा बैंक खाते नहीं हैं। डाक विभाग उनके आधार कार्ड बनवाने तथा बैंक खाते खुलवाने में पूर्ण रूप से सहयोग देगा। साथ ही एसएसपीओ लखनऊ डिविजन शशि कुमार उत्तम ने बताया कि लखनऊ को 2021 तक क्षयरोग मुक्त शहर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के साथ-साथ डाकियों के माध्यम से सामाजिक कार्य दायित्वों का भी निर्वहन किया जाएगा और क्षयरोगी के प्रति समाज में जागरूकता फैलाने के सरकार के लक्ष्य को प्राप्त करने में पूर्ण सहयोग प्रदान करेगा।

इन लोगों ने किया प्रतिभाग

कार्यक्रम में वरिष्ठ क्षयरोग उपचार पर्यवेक्षक अभय चंद्र मित्रा व वरिष्ठ क्षयरोग प्रयोगशाला पर्यवेक्षक डीटीसी लोकेश कुमार वर्मा द्वारा सैंपल पैकेजिंग व ट्रांसपोर्टेशन से संबंधित विस्तृत जानकारी दी गई। कार्यशाला में आरएनटीसीपी के एसटीएलस, लैब टेक्नीशियन तथा डाक विभाग के डाकिए, पोस्टमास्टर स्टेशन अपर निदेशक डाक विभाग लखनऊ तथा सुधीर कुमार सिंह टीबीएचवी, डीटीसी ने कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned