जनसंख्या नियंत्रण कानून किसी धर्म विशेष के खिलाफ नहीं : आदित्यनाथ

UP Law Commission chairman said - उत्तर प्रदेश में अब दो से अधिक बच्चे वाले अभिभावकों की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। यूपी में दो से अधिक बच्चे वालों की सुविधाओं में कटौती होगी, सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित किया जा सकता है।

By: Mahendra Pratap

Published: 20 Jun 2021, 05:21 PM IST

लखनऊ. Not Against Any Religion उत्तर प्रदेश में अब दो से अधिक बच्चे वाले अभिभावकों की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। यूपी में दो से अधिक बच्चे वालों की सुविधाओं में कटौती होगी, सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित किया जा सकता है। उत्तर प्रदेश कानून आयोग अध्यक्ष आदित्यनाथ मित्तल ने कहाकि, हमारे यहां जनसंख्या बढ़ रही है। इस कारण सभी समस्याएं पैदा हो रही हैं। जो लोग जनसंख्या नियंत्रण करने में अपना सहयोग दे रहे हैं उन्हें ही सरकारी सुविधाएं और सरकारी संसाधन मिले, उन्हें राज्य सरकार की सभी सुविधाओं का लाभ मिलता रहे।

भाजपा सरकार की दमनकारी नीतियों से लोकतंत्र खतरे में : अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश कानून आयोग अध्यक्ष आदित्यनाथ मित्तल ने कहाकि, जनसंख्या बढ़ने से अस्पताल, अनाज और बेरोजगारी जैसी समस्याएं बढ़ती हैं। इसलिए जरूरी है कि इस समस्या पर ध्यान दिया जाए। हम किसी धर्म विशेष के खिलाफ नहीं हैं पर हम चाहते हैं कि जनसंख्या नियंत्रण में मदद करने वालों को योजनाओं का लाभ मिले।

दरअसल, राज्य विधि आयोग ने जनसंख्या नियंत्रण के लिए योजनाएं बनानी शुरू कर दी हैं। आयोग इसका मसौदा तैयार कर राज्य सरकार को सौंपेगा। यह बयान इसी परिप्रेक्ष्य में दिया गया है।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned