कोरोना वैक्सीन की अफवाह फैलाना पड़ेगा महंगा, शासन ने अपनाया सख्त रुख

- अफसरों को निर्देश, पहले अफवाह फैलाने वालों को समझाएं नहीं मानें तो सख्त कार्रवाई करें

By: Mahendra Pratap

Updated: 18 Jun 2021, 10:45 AM IST

लखनऊ. corona vaccine rumor कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने जिस तरह से जनता को अपने जाल में लपेटा वह उनकी बुरी यादों में बस गया है। संभावना है कि कोरोना की तीसरी लहर भी आने वाली है। योगी सरकार इसे निपटने के लिए टीकाकरण पर जोर दे रहा है। एक जुलाई से गांव—गांव में कोरोना वैक्सीनेशन होगा। पर कुछ लोग कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर तरह-तरह की अफवाहें फैला रहे हैं। जिस वजह से जनता टीकाकरण करने से कतरा रही है। इस मामले पर सख्त रुख अपनाते हुए सरकार ने इन लोगों के लिए एक रणनीति बनाई है। जिसमें अफसरों को निर्देश दिया गया है कि पहले अफवाह फैलाने वालों को समझाएं नहीं मानें तो सख्त कार्रवाई करें।

Good News : यूपी के 16 जिलों में नहीं मिला एक भी कोरोना संक्रमित

टीकाकरण अभियान में बाधा, अफसरों को निर्देश :- सभी जिलों के जिलाधिकारियों व मुख्य चिकित्साधिकारियों के साथ-साथ पुलिस अधिकारियों को गुरुवार को भेजे गए निर्देश में शासन ने कहा है कि तमाम जिलों से मिली सूचना के अनुसार शहरी क्षेत्रों में छिटपुट तो ग्रामीण क्षेत्रों में अनेक स्थानों पर टीके को लेकर कुछ शरारती तत्व अफवाहें फैलाकर टीकाकरण अभियान में बाधा डालना चाहते हैं। इसे किसी भी दशा में स्वीकार नहीं किया जा सकता।

समझाएं नहीं तो सख्त कार्रवाई करें :- देशहित में टीकाकरण बेहद जरूरी है। अफवाहें फैलाने वालों को तत्काल चिन्हित कर उन्हें समझाया जाए कि यह टीकाकरण उन सबके लिए जरूरी है और इससे लोग कोरोना से सुरक्षित हो सकेंगे। इसके बाद भी अगर लोग बाधा उत्पन्न करें तो उनसे सख्ती से निपटा जाए। निर्देश में यह भी कहा गया है कि अगर समझाने के बाद भी अफवाहें फैलाने वाले नहीं मानें तो उनके विरुद्ध महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाए।

दिसम्बर तक पूरे यूपी का टीकाकरण :- योगी सरकार की नई योजना में जुलाई माह में रोजाना 10 लाख लोगों का टीकाकरण किया जाएगा। सरकार 31 अगस्त तक 10 करोड़ व दिसंबर तक सभी प्रदेशवासियों के टीकाकरण का लक्ष्य तय कर रखा है।

अफवाहें फैलाने के तरीके :-
-टीका से मौत
-मर्दों को यह नपुंसक
-औरतें बांझ
-चर्म रोग
-गंभीर बीमारियां
-आदमी अंधा
- लकवा

सरकार के प्रयास :-
-टीके लगाने के लिए लगातार कार्यक्रम
-फोकस वैक्सीनेशन
- टीमें गठित कर गांव गांव वैक्सीनेशन
- बुलावा पर्ची भेज कर टीकाकरण
- कार्यालयों व संस्थाओं में भी कैंप लगाकर टीकाकरण

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned