यूपी में डेल्टा+ की दस्तक हाईअलर्ट, सीएम योगी का पड़ोसी राज्यों से सटे जिलों में जीनोम सिक्वेंसिंग के निर्देश

CM Yogi Order genome sequencing - पड़ोसी राज्यों से सटे जिलों में शुरू होगी जीनोम सिक्वेंसिंग
- थम गई कोरोना की रफ्तार, 20 जिलों में केस शून्य।

By: Mahendra Pratap

Published: 25 Jun 2021, 05:41 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. UP Delta+ Knock high alert यूपी में कोरोना वायरस की दूसरी लहर पर सीएम योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम 9 ने फार्मूला टी-3 से काबू कर लिया है। पर अब कोरोना वायरस का नया वैरियंट डेल्टा प्लस चर्चा में आ गया है। सतर्कता बरतते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी विभागों को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं। साथ ही यूपी की सीमा से लगे मध्य प्रदेश में डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि को देखते हुए निकटस्थ जिलों से सैम्पल लेकर जीनोम सिक्वेंसिंग कराने को कहा है। इसके लिए चिकित्सा विशेषज्ञों की सलाहकार समिति के साथ बैठक कर इस संबंध में आवश्यक रणनीति तय की जाएगी।

यूपी की आज की कोरोना वायरस रिपोर्ट देख सीएम योगी का चेहरा खुशी से खिला

डेल्टा+ के प्रभावी क्षेत्रों की मैपिंग :- सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को लोक भवन में कोविड-19 के प्रबंधन के गठित टीम-09 के साथ समीक्षा बैठक में निर्देश दिया कि कोविड के डेल्टा प्लस वैरिएंट की गहन पड़ताल के लिए अब अधिकाधिक सैम्पल की जीनोम सिक्वेंसिंग कराई जाए। रेलवे, बस, वायु मार्ग से यूपी में आ रहे लोगों के सैम्पल लेकर सिक्वेंसिंग कराई जानी चाहिए। जिलों से भी सैम्पल लिए जाएं। रिजल्ट के अनुसार डेल्टा प्लस के प्रभावी क्षेत्रों की मैपिंग कराई जाए। इससे बचाव के प्रयासों में सुविधा होगी।

केजीएमयू-बीएचयू व्यवस्थाएं उपलब्ध करें :- प्रदेश में जीनोम सिक्वेंसिंग की सुविधा के लिए केजीएमयू और बीएचयू में आवश्यक व्यवस्थाएं उपलब्ध कराई जाएं। पीकू तथा नीकू की स्थापना की कार्यवाही तेजी से पूरी कर ली जाए। बाईपैप मशीन, मोबाइल एक्स-रे मशीन सहित सभी जरूरी मेडिकल उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। इसके लिए निर्माता कम्पनियों से सीधे बात की जाए। सभी जरूरी उपयोगी दवाओं की व्यवस्था भी कर ली जाए। आगामी एक पखवारे में यह सभी काम कर लिए जाएं।

अन्य वैरिएंट से कहीं अधिक खतरनाक :- सीएम योगी ने कहा कि विशेषज्ञों के अनुसार इस बार का वैरिएंट पहले की अपेक्षा कहीं अधिक खतरनाक है। राज्य स्तरीय स्वास्थ्य विशेषज्ञ परामर्श समिति ने इससे बचाव के लिए विस्तृत अनुशंसा रिपोर्ट तैयार की है। रिपोर्ट के अनुसार अब अपेक्षाकृत अन्य आयु के लोगों के, बच्चों पर कहीं अधिक दुष्प्रभाव डालने वाला हो सकता है। विशेषज्ञों के परामर्श के अनुरूप बिना देर किए सभी जरूरी कदम उठाए जाएं।

20 जिलों में शून्य केस :- यूपी में बीते 24 घंटे में 2 लाख 69 हजार 672 कोविड टेस्ट किए गए। इसी अवधि में संक्रमण के 226 नए मामले आये हैं। मुख्यमंत्री योगी ने अफसरों को संबोधित करते हुए कहा कि लगातार कोशिशों से उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर की स्थिति नियंत्रण में है। संक्रमण दर न्यूनतम स्थिति में है। वर्तमान में 3500 से कम कोरोना मरीज उपचाराधीन हैं। 20 जिलों में शून्य केस मिले हैं, जबकि पूरे प्रदेश में सिर्फ 226 नए मामले सामने आए हैं। 50 जिलों में सिंगल डिजिट में केस हैं, जबकि पांच जिलों में 50 से कम केस मिले हैं।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned