बिजली दरों में बढ़ोत्तरी पर मायावती का सरकार पर हमला, दिया बड़ा बयान

महंगाई वैसे ही आम जनता की जेब में आग लगा रही थी, कि अब बिजली की दरों में वृद्धि कर बची खुची कसर पूरी कर दी है।

लखनऊ. महंगाई वैसे ही आम जनता की जेब में आग लगा रही थी, कि अब बिजली की दरों में वृद्धि कर बची खुची कसर पूरी कर दी है। यूपी सरकार ने मंगलवार को नई दरों का एलान कर दिया गया है। बिजली दरों में बढ़ोत्तरी को लेकर प्रदेश सरकार पहले से ही विपक्ष के निशाने पर रही है। और ऐसा ऐलान कर मंगलवार को सरकार एक बार फिर बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) के निशाने पर आ गई है। बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने इसे लेकर अपना रोष व्यक्त किया है और इस फैसले को जनविरोधी बताया है।

ये भी पढ़ें- मुलायम ने किनारे किया भाजपा से मिल रहे सम्मान को, कर दी आर या पार की लड़ाई का ऐलान, तेवर देख सभी हैरान

मायावती की सरकार को नसीहत-

मायावती ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर इसको लेकर चिंतन किया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश बीजेपी सरकार द्वारा बिजली की दरों को बढ़ाने को मंजूरी देना पूरी तरह से जनविरोधी फैसला है। इससे प्रदेश की करोड़ों खासकर मेहनतकश जनता पर महंगाई का और ज्यादा बोझ बढे़गा व उनका जीवन और भी अधिक त्रस्त व कष्टदायी होगा। सरकार इसपर तुरन्त पुनर्विचार करे तो यह बेहतर होगा।

ये भी पढ़ें- सोनिया गांधी का मास्टर स्ट्रोक, यूपी उपचुनाव के लिए इस सांसद के बेटे को दिया टिकट, लखनऊ, बाराबंकी, चित्रकूट के लिए इन्हें बनाया प्रत्याशी

Mayawati

सरकार ने मंगलवार को नई दरों का ऐलान कर दिया है। घरेलू बिजली दरें 12 फीसदी तक बढ़ाई गई हैं जबकि शहरी क्षेत्र में 15 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। औद्योगिक क्षेत्र में 10 फ़ीसदी बढ़ाई गई है। ग्रामीण इलाकों में फिक्स चार्ज 400 से बढ़ाकर 500 किया गया है।

Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned