अपहरण मामले में निर्दलीय विधायक अमन मणि त्रिपाठी भगोड़ा घोषित, गिरफ्तारी वारंट जारी

सुनवाई के दौरान बार-बार अनुपस्थित होने पर लखनऊ की एक अदालत ने उत्तर प्रदेश के महारजगंज जिले से नौतनवा के निर्दलीय विधायक अमन मणि त्रिपाठी (MLA Aman Mani Tripathi) को भगोड़ा साबित कर दिया है

By: Karishma Lalwani

Updated: 12 Feb 2021, 12:45 PM IST

लखनऊ. सुनवाई के दौरान बार-बार अनुपस्थित होने पर लखनऊ की एक अदालत ने उत्तर प्रदेश के महारजगंज जिले से नौतनवा के निर्दलीय विधायक अमन मणि त्रिपाठी (MLA Aman Mani Tripathi) को भगोड़ा साबित कर दिया है। कोर्ट ने विधायक अमन मणि के खिलाफ अरेस्ट वारंट भी जारी किया है। दरअसल, अमन मणि त्रिपाठी वारंटी के बावजूद तारीखों से मुकदमे की कार्यवाही के लिए अदालत में उपस्थित नहीं हो रहे थे। उनपर फिरौती के लिए एक व्यापारी के अपहरण का मामला दर्ज है। आरोप के मुताबिक अमन मणि त्रिपाठी अपने कुछ साथियों के साथ गोरखपुर के ऋषि पांडेय नाम के व्यापारी का किडनैप कर लिया था। उन्होंने व्यापारी के साथ रास्ते में मारपीट की थी और रंगदारी न देने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी।

गोरखपुर के व्यापारी को किडनैप, मारपीट और जान से मारने की धमकी देने के मामले में अमन मणि और उसके साथियों के खिलाफ लखनऊ के गौतमपल्ली पुलिस स्टेशन में 6 अगस्त 2014 को मामला दर्ज किया गया था। जबकि लखनऊ में पुलिस ने अमन मणि त्रिपाठी के खिलाफ 28 जुलाई, 2017 को चार्जशीट दाखिल की थी। मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट की तारीखों पर अमन मणि की तरफ से बीमारी का हवाला देकर हाजिरी माफी की अर्जी लगाई जा रही थी। जिस पर कोर्ट ने कार्रवाई करते हुए अमन मणि को भगोड़ा घोषित करते हुए गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है। मामले की अगली सुनवाई चार मार्च को होगी।

ये भी पढ़ें: रैगिंग में सिगरेट पीने से मना करने पर सीनियर्स से जूनियर का किया यौन शोषण, एफआईआर दर्ज

ये भी पढ़ें: छह बच्चों के पिता ने पत्नी की दिया तीन तलाक, मायके छोड़ने के बाद की दूसरी शादी

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned