यूपी में सियासी हलचल तेज, ओम प्रकाश राजभर बोले- बीजेपी डूबती हुई नैया, एनडीए में नहीं होंगे शामिल

बीजेपी 'भारतीय झूठ पार्टी', बीजेपी हमारी पार्टी खत्म करना चाहती, चुनाव के समय पिछड़ों की आती है याद, मुख्यमंत्री बाहर से लाकर बनाते हैं।

By: Neeraj Patel

Published: 11 Jun 2021, 12:57 PM IST

 

लखनऊ. दिल्ली में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुलाकातों के बीच सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कहा है कि वह बीजेपी का हाथ फिर से नहीं थामेंगे। यानी एनडीए में फिर शामिल नहीं होंगे। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "भाजपा डूबती हुई नैया है, जिसको इनके रथ पर सवार होना है हो जाये पर हम सवार नहीं होंगे। हम जिन मुद्दों को लेकर समझौता किये थे साढ़े चार साल बीत गया एक भी काम पूरा नहीं हुआ।

राजभर ने बुलाई पार्टी की बैठक

यूपी में सियासी सरगर्मी के बीच ओम प्रकाश राजभर ने लखनऊ में अपनी पार्टी की बैठक बुलाई। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने पार्टी बैठक को संबोधित किया। यह बैठक उस समय बुलाई गयी जब सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओपी राजभर से बीजेपी के नेताओं की बात चल रही है। इस काम में भारतीय जनता पार्टी ने पूर्वांचल के कुछ बड़े नेताओं को लगाया है। इस बीच यूपी की सियासत लगातार गर्म बनी हुई है। दो दिन पहले ही पूर्व कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद बीजेपी में शामिल हुए हैं।

ये भी पढ़ें - यति नरसिंहानंद सरस्वती ने देश के प्रधानमंत्री पद को लेकर दी ये चेतावनी

2019 में दिया था इस्तीफा

राजभर ने 2019 मई में योगी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था। यह योगी सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्याण-दिव्यांग जन कल्याण मंत्री थे। इस्तीफे के समय उन्होंने आरोप लगाया था कि बीजेपी उनकी पार्टी को खत्म करना चाहती है। उत्तर प्रदेश की सियासत में राजभर पूर्वांचल में राजभर समुदाय और दलित और पिछड़े वर्गों का जाना माना चेहरा हैं। यूपी के उत्तर पूर्व हिस्से में उनका खासा दबदबा माना जाता है। पूर्वी यूपी की जनसंख्या का 20 फीसदी हिस्सा इसी वर्ग से आता है, जबकि यूपी में 3 फीसदी जनसंख्या राजभर समुदाय से है।

BJP
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned