आजम खां का बड़ा बयान, विपक्ष से कहा इसके लिए एक साथ सांसद दें इस्तीफा, पहला नाम होगा मेरा

आजम खां का बड़ा बयान, विपक्ष से कहा इसके लिए एक साथ सांसद दें इस्तीफा, पहला नाम होगा मेरा
Azam Khan

Abhishek Gupta | Updated: 04 Jul 2019, 09:25:15 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

आजम खां (Azam Khan) का कहना है कि लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में उन्हें हराने के लिए प्रशासन ने भाजपा की पूरी मदद की।

लखनऊ. लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) जीतने के बाद विपक्ष आने वाले चुनाव बैलट पेपर (Ballot Paper) से कराने का मांग पर अडिग है। यूपी में लोकसभा चुनाव के बाद खाली हुई 11 व भाजपा (BJP) पूर्व विधायक अशोक सिंह चंदेल (Ashok Singh Chandel) को अजीवन कारावास की सजा सुनाई जाने के बाद खाली हुई एक विधानसभा सीट पर उपचुनाव (UP Vidhan Sabha By Election) होने हैं। और इन चुनावों के भी विपक्ष चाहता है कि बैलट पेपर का तरीका ही अपनाया जाए। समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) से सांसद आजम खां (Azam Khan) ने इस मामले में ताजा बयान दिया है और इसको लेकर मुहिम छेड़ने की बात कही है। इन दिनों भाजपा नेता जया प्रदा (Jaya Prada) द्वारा लगाए जा रहे अरोपों से घिरे आजम खां ने यूपी प्रशासन पर भी बड़ा आरोप लगाया है। उनका कहना है कि लोकसभा चुनाव में उन्हें हराने के लिए प्रशासन ने भाजपा की पूरी मदद की। विधानसभा उपचुनाव में भी ऐसा ही होने वाला है। आपको बता दें कि आजम खां रामपुर सदर सीट से विधायक थे।

ये भी पढ़ें- किसानों के लिए योगी सरकार का बड़ा फैसला, होगा मुनाफा

Azam Khan

प्रशासन हद में रहे- आजम
समाजवादी पार्टी के लोकसभा सांसद आजम खां ने बुधवार को एक बयान में आरोप लगाते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव में हमें हराने के लिए प्रशासन ने पूरा जोर लगाया। जल्द ही उत्तर प्रदेश की 12 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं। उसमें भी प्रशासन लोकसभा चुनाव की तरह भाजपा की मदद करना चाहते हैं। आजम खां ने आगे प्रशासन को हिदायत दी और कहा कि वह अपनी हद में रहे।

ये भी पढ़ें- भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष के नाम पर लग सकती है मुहर, जेपी नड्डा लखनऊ में कर सकते हैं ऐलान

एक साथ विपक्ष के सभी सांसद दें इस्तीफा-
आजम खां ने बैलट पेपर से उपचुनाव कराने की बात पर जोर दिया और सुझाव देते हुए कहा कि यदि विपक्ष सही मायनों में है और लोकतंत्र को बचाना चाहता है तो बैलेट पेपर से चुनाव कराने के लिए एक साथ संसद की सदस्यता से इस्तीफा दे। उन्होंने कहा कि संसद की सदस्यता से इस्तीफा देने वालों में सबसे पहला नाम मेरा होगा। आपको बता दें कि सपा व बसपा के साथ अन्य विपक्षी दल लोकसभा चुनाव बैलेट पेपर से कराने की मांग कर रहे थे, लेकिन चुनाव आयोग ने उनकी मांग को खारिज कर दिया था।

ये भी पढ़ें- शिक्षामित्रों को लेकर सुप्रीम कोर्ट सख्त, यूपी सरकार को जारी किया नोटिस

Vote

इन सीटों पर होना हैं उपचुनाव-

  1. लखनऊ कैंट
  2. फिरोजाबाद की टूंडला सीट
  3. चित्रकूट की मानिकपुर सीट
  4. हमीरपुर सदर सीट
  5. सहारनपुर की गंगोह सीट
  6. अंबेडकर नगर की जलालपुर विधानसभा सीट
  7. प्रतापगढ़ सदर सीट
  8. बाराबंकी की जैदपुर विधानसभा सीट
  9. रामपुर सदर सीट
  10. बहराइच की बलहा (सु.) सीट
  11. हाथरस की इगलास सीट
  12. कानपुर की गोविंदनगर सीट
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned