UP Panchayat Poll Live: मैनपुरी में फर्जी वोट डालने को लेकर बवाल, मारपीट व जमकर फायरिंग

यूपी पंचायत चुनाव (UP Panchayat Poll Live) के दूसरे चरण में सोमवार को उत्तर प्रदेश के लखनऊ, वाराणसी समेत यूपी के 20 जिलों में वोटिंग शुरू हो गई है। इन जिलों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं। बड़ी संख्या में पीएसी और अर्ध सैनिक बलों को भी तैनात किया गया है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. मैनपुरी के थाना औछा ईसई मांझाी पार्टी के प्राथमिक विद्यालय मतदान केन्द्र पर फर्जी वोट डालने को लेकर भूतपूर्व प्रधान प्रत्याशी सुनील श्रीवास्तव की कुछ लोगों से कहासुनी हो गई। इसके बाद यहां ईंट पत्थर चले और दोनों पक्षों में जमकर फायरिंग हुई। सुनील श्रीवास्तव को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया।


ललितपुर में विकासखंड तालबेहट के अंतर्गत ग्राम पंचायत थाना गांव पोलिंग स्टेशन पर बैलेट पेपर से प्रत्याशी का नाम और चुनाव चिन्ह गायब होने के बाद हंगामा हो गया। इन सबके चलते चुनाव करीब डेढ़ घंटे प्रभावित रहा। जब सही बैलट पेपर पोलिंग बूथ पर पहुंच गया तब मतदान शुरू किया गया। अधिकारियों की लापरवाही मामला तालबेहट विकासखंड से जुड़ा हुआ है।


प्रतापगढ़ में दो उम्मीदवारों का मतदान एक ही बैलेट पेपर पर करवा दिया गया। 10 बजे तक काफी लोगों ने मतदान भी कर दिया। प्रतापगढ़ के रानीगंज तहसील अंतर्गत राजस्व गांव शाहपुर के प्राथमिक विद्यालय द्वितीय पोलिंग बूथ संख्या 134 पर वार्ड संख्या 7, 8 और 13 का वोट पड़ रहा है। वार्ड 7 और 8 बीडीसी प्रथम (उत्तरी) में आता है, जबकि वार्ड 13बीडीसी द्वितीय में आता है। उत्तरी में सात जबकि दक्षिणी में पांच प्रत्याशी हैं। बावजूद इसके बूथ पर बीडीसी के दो बैलेट पेपर की जगह एक ही पर दोनों का चुनाव कराया जा रहा था, जिसपर कोडिंग दक्षिणी की थी।


उधर चित्रकूट जिले के पहाड़ी ब्लाक के बसहर गांव में तो मतपत्र से कुछ बीडीसी प्रत्याशियों के सिंबल ही गायब थे, जिसके चलते सुबह 11.30 बजे तक वोटिंग ही शुरू नहीं हो सकी। इस संबंध में आरओ पहाड़ी आशुतोष के मुताबिक मतपत्र भेजने की कार्रवाई की जा रही है। जल्द वोटिंग शुरू हो जाएगी।


पंचायत चुनाव के मद्देनजर महराजगंज से लगने वाली भारत-नेपाल की सोनौली सीमा रविवार की रात से लेकर सोमवार को मतदान खत्म होने तक सील कर दी गई। सोमवार की सुबह केवल गंभीर रूप से बीमार मरीज को जांच के बाद ही प्रवेश दिया गया। उधर सीमावर्ती कस्बा बेलहिया में रविवार की रात करीब 100 लोग भारत में आने से रोका गया।


इटावा जिले के भरईपुर में 95 साल की मधु देवी ने अपेन बेटे और बहू के साथ मतदान केन्द्र पहुंचकर वोट डाला तो 81 वर्षीय सारवती भी बेटे के साथ वोट डालने पहुंचीं।

 

पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के लिये वोटिंग जारी है। सुबह 11 बजे तक मुजफ्फरनगर में 11 बजे तक सबसे अधिक 25.20 जबकि लखनऊ 24.9 प्रतिशत वोटिंग हुई। ललितपुर में 22.40 प्रतिशत वोटिंग हुई, जबकि इटावा में 22.8, सुल्तानपुर में 21.5, कन्नौज में 20,चित्रकूट में 19.40 और गोंडा में 14.40 पतिशत मतदान हुआ। उधर गौतमबुद्घ नगर में 11 बजे तक 13.05 प्रतिशत मतदान की खबरें हैं।

 

प्रतापगढ़ के कुण्डा ब्लॉक के मानिकपुर थानान्तर्गत कुशाहिल डीह मतदान केंद्र पर पुलिस कर्मियों पर फर्जी मतदान करने का आरोप लगा है। आक्रोशति ग्रामीणों द्वारा पुलिसकर्मी को घेरकर वीडियो बनाने की कोशिश करने पर दूसरे कर्मियों पर उन्हें रोकने का आरोप। प्रतापगढ़ के मानिकपुर थाना क्षेत्र के ऐमाएस्मों ऊंचेगांव में मतदाता सूची के दो पन्ने गायब होने से वोट डालने पहुंचे ग्रामीणाें में आक्रोशँ बूथ के बाहर लगे चुनाव आयोग मुर्दाबाद के नारे। मानिकपुर के जाखामई पोलिंग स्टेशन पर निर्वर्तमान प्रधान पर फजी वोटिंग का आरोप लगाकर हंगामा किया गया। यहां फर्जी एजेंट पास लेकर पोलिंग सेंटर में घुसने का आरोप है। प्रतापगढ़ के लक्ष्मणपुर विकासखण्ड के अजगरा बूथ पर वार्ड संख्या 17 के स्थान पर वार्ड संख्या 15 के मतपत्र से वोटिंग करवाए जाने की प्रत्याशी खुशबू सिंह ने की शिकायत। उधर लालगंज तहसील के बूथ संख्या 73 अ व 74 ब पर अलग ही मामला सामने आया। क्षेत्र पंचायत सदस्य के 5 प्रत्याशी चुनाव मैदान में, लेकिन बैलेट पेपर में आय 4 ही चुनाव निशान। एक चुनाव निशान न होने से नाराजगी के बाद लाइन में लगे मतदाताओं ने रोक दिया मतदान।


प्रतापगढ़ में फर्जी वोटिंग को लेकर प्रधान पद के दो प्रत्याशियों के भिड़ने, लाठी-डंडा चलने और पथराव की खबरें हैं। बताया जा रहा है कि प्रत्याशी समर्थकों पर महिलाओं की आंखों में लाल मिर्च पाउडर डालने और लाइन में लगे वोटरों से मारपीट का आरोप है। यहां आधे घंटे मतदान बाधित रहा। मतदान केन्द्र के भीतर तोड़फोड़ की बात भी कही जा रही है। पुलिस ने पहुंचकर मामले को कंट्राेल में किया।

 

अमरोहा के धनोरा क्षेत्र के गांव धनारी खुर्द में सुबह करीब 8:15 बजे मोतीलाल (65) की वोट डालने के बाद मतदान केंद्र पर ही मौत हो गई, जिसके बाद वहां हड़कम्प मच गया। सूचना पाकर सेक्टर महिस्ट्रेट मौके पनर पहुंच गए। निजी चिकित्सक ने मौत की पुष्टि की दी। मौत का कारण हार्ट अटैक माना जा रहा है। उधर सुल्तानपुर में नगर कोतवाली के रामनगर में देा प्रत्याशियों के बीच टकराव के बाद पहुंची पुलिस ने एक युवक को हिरासत में ले लिया। पीलीभीत में पुलिस ने बिना मास्क लगाए खड़े पांच लोगों को पकड़कर उनके खिलाफ मुकदमा कायम कर दिया।


महाराजगंज के मुंडेरा कला गांव में मतदान के बूथ के पास पैसे बांटने के आरोप को लेकर दो प्रत्याशियों के बीच धक्का-मुक्की हुई, जिसे मौके पर पहुंचकर पुलिस ने संभाल लिया।

 

सुबह नौ बजे तक एटा में 11.08 प्रतिशत, इटावा में 11 प्रतिशत, ललितपुर में 10.50, अमरोहा में 10.11 और चित्रकूट में 9.12 फीसद वोटिंग हुई। इस दौरान जगह-जगह सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती दिखीं।


प्रतापगढ़ के कोहड़ौर के शिवपुर में वोटिंग के दौरान झड़प हुई, जिसके बाद पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में ले लिया। राजमलपुर में दो घंटे बूथ बंद रहने के चलते वहां भीड़ जुट गई और नारेबाजी की गई। प्रतापगढ़ के हथिगवां थानाक्षेत्र के पुरनेमऊ बूथ पर पोलिंग पार्टी के न पहुंचने से एक घंटे तक मतदान नहीं शुरू हो सका।

चित्रकूट की राजापुर तहसील के प्राथमिक विद्यालय रगौली में मतदाताओं ने पुलिसकर्मियों पर मारपीट का आरोप लगाया। इससे कुछ देर वोटिंग रुकी रही। राजधानी लखनऊ के बख्शी का तालाब गांव टिकारी में आठ बजे तक मतदान शुरू न होने से ग्रामीणें में नाराजगी रहीँ महाराजगंज के करमहा में बूा संख्या-81 पर वार्ड नंबर 14 और 15 पर बैलेट पेपर न होने के चलते वहां डेढ़ घंटे तक वोटिंग प्रभावित रही। उधर वाराणसी में भी वोटिंग के लिये लोगों की कतार देखी गई।

 

 

मैनपुरी के बेवर थानान्तर्गत नंदुलिया गांव में फर्जी मतदान की शिकायत को लेकर मामूली विवाद हुआ। हालांकि पुलिस ने तुरंत इसपर कंट्रोल कर लिया। लखीमपुर के पलिया में ग्राम पंचाचत पढुआ में बैलेट पेपर से बीडीसी पद के प्रत्याशी का चुनाव निशान गायब होने के चलते हुए हंगामे से भी मतदान मामूली रूप से बाधित हुआ।

 

 

कोरोना संक्रमण को मद्देनजर रखते हुए मतदान केन्द्रों पर हाथ धोने के लिये साबुन व पानी से लेकर हैंड सेनेटाइजर, मास्क, पीपीई किट आदि का इंतजाम किया गया है। सुबह सात बजे से लेकर शाम छह बजे तक वोट डाले जाएंगे। यूपी के 20 जिलों में 20,929 मतदान केन्द्रों के 52,595 मतदेय स्थलों पर वोटिंग हो रही है। मतदान के लिये सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं। 57 कंपनी पीएसी और 10 कंपनी अर्ध सैनिक बलों को लगाया गया है। सुरक्षा के लिये ड्रोन कैमरों की मदद ली जा रही है। गौतमबुद्घ नगर में डीएम ने पंचायत चुनाव की वोटिंग को लेकर वहां सोमवार को अवकाश घोषित कर दिया है।


UP Panchayat Election के दूसरे चरण की वोटिंग में सोमवार को जिन जिलों में वोट डाले जा रहे हैं उनमें लखनऊ, सुल्तानपुर, गोंडा, मुजफ्फरनगर, बागपत, गौतमबुद्धनगर, बिजनौर, अमरोहा, बदायूं, एटा, मैनपुरी, कन्नौज, इटावा, ललितपुर, चित्रकूट, प्रतापगढ़, लखीमपुर खीरी, महराजगंज, वाराणसी और आजमगढ़ शामिल हैं। दूसरे चरण में 2,23,000 से अधिक सीटों पर 3.48 लाख से अधिक प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला 3 करोड़ 23 लाख से अधिक मतदाता करेंगे।


यूपी पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं। मतदान शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिये 57 कंपनी पीएसी और 10 कंपनी केंद्रीय अर्ध सैनिक बल की तैनाती की गई है। इनके अलावा 694 निरीक्षक, 8428 उप निरीक्षक, 16214 मुख्य आरक्षी के अलावा 59,005 सिपाही तैनात किये गए हैं। 66444 होमगार्ड, 2605 पीआरडी के जवान और 9712 रिक्रूट आरक्षियों को भी चुनाव वाले जिलों में ड्यूटी पर तैनात किया गया है। निगरानी के लिये ड्रोन कैमरों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned