Quick Read: बाढ़ पीड़ितों को दिए जाएंगे खाद्य सामग्री के पैकेट

नदियों के जलस्तर में वृद्धि को देखते हुए बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए बाढ़ राहत खाद्य सामग्री के दो पैकेट पीड़ितों को उपलब्ध कराए जाएंगे। बाढ़ राहत खाद्य सामग्री की आपूर्ति के लिए टेंडर प्रक्रिया को अंतिम रूप दिया जा चुका है। इसका सैंपल भी आपदा प्रबंधक प्राधिकरण को उपलब्ध करा दिया गया है।

By: Karishma Lalwani

Published: 12 Jul 2021, 05:31 PM IST

बाढ़ पीड़ितों को दिए जाएंगे खाद्य सामग्री के पैकेट

गोरखपुर. नदियों के जलस्तर में वृद्धि को देखते हुए बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए बाढ़ राहत खाद्य सामग्री के दो पैकेट पीड़ितों को उपलब्ध कराए जाएंगे। बाढ़ राहत खाद्य सामग्री की आपूर्ति के लिए टेंडर प्रक्रिया को अंतिम रूप दिया जा चुका है। इसका सैंपल भी आपदा प्रबंधक प्राधिकरण को उपलब्ध करा दिया गया है। दोनों पैकेट के ऊपर प्रथम एवं द्वितीय पैकेट लिखा होगा और उत्तर प्रदेश शासन के लोगों के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फोटो भी छपी रहेगी। रोहिन नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है तो राप्ती नदी भी चेतावनी बिन्दु को पार कर गई है। रविवार को नदियों के जलस्तर में कुछ खास बदलाव दर्ज नहीं किया गया। अभी तक कोई बाढ़ पीड़ित नहीं है। बाढ़ राहत शिविरों या बंधे पर किसी को नहीं रखा गया है। ऐसी स्थिति आने पर उनकी सहायता के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। एक व्यक्ति को राहत सामग्री देने पर 1738 रुपये का खर्च आ रहा है।

कैंट स्टेशन पर पीएम मोदी करेंगे एलईडी स्क्रीन का उद्घाटन

वाराणसी. कैंट स्टेशन पर उतरते ही देसी व विदेशी सैलानियों को अति प्राचीन नगरी काशी के नामचीन धार्मिक स्थल और संस्कृति की झलक दिखेगी। यहां मुख्य परिसर में स्मार्ट सिटी योजना के तहत 8.64×4.8 वर्ग मीटर बड़ा एलईडी स्क्रीन (प्रोजेक्टर) लगाया गया है। इसके जरिए स्‍मार्ट सिटी योजना के प्रचार और प्रयासों की जानकारी से भी लोगों को अवगत कराया जाएगा। इस स्‍क्रीन का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों किया जाएगा। 15 जुलाई को संभावित प्रधानमंत्री के दौरे में इस योजना की सौगात मिलेगी। लखनऊ मंडल मुख्यालय की ओर से योजना का ब्यौरा पीएमओ को उपल्ब्ध कराया जा चुका है। इस बाबत ऊपर से निर्दश आते ही योजना को अमली जामा पहनाना शुरू कर दिया जाएगा। हालांकि, परिसर में इसके लिए तैयारियां पूरी हो चुकी हैं और निर्णय आने के बाद रेलवे की ओर से शीघ्र तैयारियां पूरी कर ली जाएंगी।

पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि पर कांग्रेस का प्रदर्शन

कानपुर. देश में पेट्रोलियम पदार्थों की वृद्धि के विरोध में रविवार को शहर कांग्रेस कमेटी ने खड़खड़ा यात्रा निकाली। उत्तर की ओर से डिप्टी पड़ाव चौराहा और दक्षिण कांग्रेस की ओर से शास्त्रीनगर चौक से यह यात्रा शुरू की गयी। उत्तर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नौशाद आलम मंसूरी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता डिप्टी पड़ाव पर एकत्रित हुए। विधायक सुहैल अख्तर अंसारी ने खड़खड़ा की कमान संभाली और शहर अध्यक्ष के साथ वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ता भी सवार हो गए। घंटाघर, मालरोड और बड़ा चौराहा होते हुए यात्रा कलेक्ट्रेट पर समाप्त हो गयी। शहर अध्यक्ष ने कहा कि पेट्रोल के दाम आसमान छू रहे हैं। ऐसे में सरकार ने कोई ठोस कदम नहीं उठाया इसलिये अब और मुखर होकर आंदोलन किया जाएगा। उधर, कानपुर दक्षिण के अध्यक्ष डा. शैलेंद्र दीक्षित के नेतृत्व में युवक कांग्रेस कमेटी कानपुर दक्षिण द्वारा एक खड़खड़ा यात्रा का आयोजन किया गया।

रिंग रोड के पास संदिग्ध हालत में मिला शव

वाराणसी. वाराणसी के जंसा थाना के सजोई गांव के पास संदिग्ध हाल में एक युवक की मौत हो गई। सिर से काफी खून बहने से आशंका व्यक्त की गई कि युवक की गोली मारकर हत्या की गई लेकिन मौके पर पहुंची फॉरेंसिक टीम ने जांच के बाद गोली से इनकार कर दिया। सुबह ग्रामीणों की सूचना पाकर जंसा थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भिजवाया। उससे पहले गोली मारकर हत्या किए जाने की सूचना पर पुलिस हलकान हुई। पुलिस के अनुसार, सोमवार की सुबह संजोई गांव के ग्रामीण रिंग रोड के पास गए तो औंधे मुंह पड़े एक युवक का शव देख शोर मचाने लगे। युवक के दाहिने तरफ सिर से काफी खून बहा था। आशंका जताई गई कि रिंग रोड के पास किसी वाहन के धक्के से या फिर ओवर ब्रिज से नीचे गिरने से युवक की मौत हुई होगी।

पूर्व प्रधान के घर में अंबला

सुलतानपुर. कोवताली देहात थाना क्षेत्र के उतुरी गांव निवासी देव यादव पूर्व प्रधान का आरोप है कि उनका परिवार दोपहर तीन बजे घर के सामने बैठा था। अचानक देव की मां रानी देवी के गुहार की आवाज सुनाई पड़ी। इसी बीच घर के बाहर 60-70 लोग अर्से पुरानी बनी बाउंड्री को गिरा रहे थे। दीवार के पूरब में रविंद्र सिंह कोटेदार का घर है, जो कि परिवार से चुनावी रंजिश रखते हैं व गुंडई के बल पर मेरी भूमि पर कब्जा करना चाह रहे हैं। हाल में सम्पन्न हुए जिला पंचायत व ब्लाक प्रमुख दूबेपुर के चुनाव में भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में सहयोग किया था। सहयोग के बाद से रंजिश शुरू हो गई। इसी को लेकर गांव के 60-70 लोगों ने हमला बोलकर पिस्टल व रायफल से फायरिंग शुरू कर दी। घर के अंदर भी छत से कूछ कर फायरिंग के साथ बम बाजी भी की। सूचना पर पहुंची कोतवाली देहात पुलिस पहुंची तो मौके से कई कारतूस व बम भी बरामद किया।

पुलिस की कार्यशैली के खिलाफ लोगों ने खोला मोर्चा, चौकी इंचार्ज को जादूगर बताकर पहनाया माला

श्रावस्ती. यूपी के श्रावस्ती जिले में पुलिस की कार्यशैली का विरोध करने के लिए लोगों ने एक अनोखा तरीका निकाला। स्थानीय लोगों ने चौकी इंचार्ज को जादूगर बताकर उनका माल्यार्पण भी किया और एक अनोखे तरीके से विरोध जताया। लोगों ने बताया कि जमुनहा चौकी इंचार्ज को शराब को नशे की गोलियों में बदलने का जादू आता है। जिले के मल्हीपुर थाना क्षेत्र के जमुनहा इलाके के चौकी इंचार्ज ने देर रात जमुनहा निवासी लल्लन नाम के एक युवक को 30 शीशी नेपाली शराब के साथ पकड़ा था। जिसकी जानकारी क्षेत्रवासियों को भी थी। मगर पुलिस चौकी इंचार्ज ने सुबह शराब की जगह नशे की गोलियां बरामद होना बताकर उसका चालान एनडीपीएस में कर दिया और उसे जेल भेज दिया जिस कारण इलाकाई लोगों मे काफी आक्रोश दिखा। लोगों ने विरोध जताने के लिए एक अनोखा तरीका अपनाया। लोगों ने अपनी नाराजगी जताने के लिए चौकी इंचार्ज को जादूगर बताते हुए माला पहनाई। जमुनहा क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य हरीश जायसवाल' उर्फ हरीश गांधी ने कहा कि जमुनहा चौकी इंचार्ज ने जो कला दिखाई है उसके लिए हम लोगों ने उन्हें जादूगर कर खिताब दिया है और माला भी पहनाई है।

ये भी पढ़ें: Quick Read: यूपी में सांप काटने पर होने वाली मौत आपदा घोषित, मृतक के परिवार को 4 लाख की आर्थिक मदद

ये भी पढ़ें: Quick Read: 10 जुलाई से जमकर बरसेंगे बदरा, आकाशीय बिजली का अलर्ट

pm modi
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned