Quick Read: दो दिन बाद होगी झमाझम बारिश, इन जिलों में अलर्ट जारी

26 व 27 जुलाई को प्रदेश के विभिन्न अंचलों में फिर भारी बारिश के आसार बन रहे हैं। 24 व 25 जुलाई को राज्य के अलग-अलग हिस्सों में कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें तो कहीं हल्की से सामान्य बारिश का सिलसिला जारी रहेगा।

By: Karishma Lalwani

Published: 24 Jul 2021, 02:48 PM IST

यूपी में दो दिन बाद झमाझम बारिश

लखनऊ. 26 व 27 जुलाई को प्रदेश के विभिन्न अंचलों में फिर भारी बारिश के आसार बन रहे हैं। 24 व 25 जुलाई को राज्य के अलग-अलग हिस्सों में कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें तो कहीं हल्की से सामान्य बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार, मैनपुरी, शिकोहाबाद, शाहजहांपुर के तिलहर में पांच-पांच, झांसी के मउरानीपुर, मैनपुरी के भोगांव में चार-चार, रायबरेली के डलमऊ, बहराइच के नानपारा, कन्नौज के छिबरामऊ, एटा, बरेली के नवाबगंज, ललितपुर, शाहजहांपुर, खीरी के मोहम्मदी, बहराइच, अम्बेडकरनगर के अकबरपुर, सीतापुर के महमूदाबाद, हमीरपुर, अलीगढ़ के इग्लास, हमीरपुर के राठ, शाहजहांपुर के जलालाबाद, पीलीभीत के बीसलपुर, जालौन में बारिश होगी।

भतीजे ने चाचा का गला रेत

गोरखपुर. तंत्रमंत्र करके माता-पिता की जान लेने के संदेह में भतीजे ने चाकू से गला रेतकर चाचा की हत्या कर दी। सिर को धड़ से अलग करने के बाद आरोपित अपने साथियों संग बाइक से फरार हो गया। जमरु गांव निवासी शंकर यादव और हरिनारायण यादव सगे भाई थे। दो माह पहले शंकर यादव की बीमारी से मौत हो गई। उससे कुछ ही दिन पहले उनकी पत्नी की भी मौत हो गई थी। शंकर के बेटे चंद्रकेश यादव को संदेह था कि चाचा हरिनारायण यादव ने तंत्रमंत्र कर दिया जिसकी वजह से उसके पिता और मां की मौत हो गई। उसके बाद से चंद्रकेश ने चाचा को मारने के लिए पीछा करना शुरू कर दिया। हरि नारायण यादव साइकिल से बगल के गांव मिश्रौलिया गए थे। गांव के बाहर बाइक लेकर अपने दो साथियों संग खड़े चंद्रकेश ने उनके आते ही घेर कर सिर पर चाकू से हमला करने के बाद जमीन पर लेटा दिया। उसके बाद गला रेतकर सिर को धड़ से अलग कर दिया।

गूंगे नौकर ने मालिक को पीटा, पिटाई के बाद बोलने लगा

कानपुर. कोतवाली क्षेत्र के गांव भूड़ा में 43 वर्षीय संतोष कुमार के घर पर धर्मेंद्र नाम का नौकर करीब तीन साल से रह रहा था, वह गूंगा होने के कारण कभी किसी से बोलता नहीं था। ग्रामीणों ने कभी उसे किसी से बात करते नहीं देखा था। शुक्रवार की रात संतोष कुमार दरवाजे पर और पास में ही पड़ोसी के घर आए रिश्तेदार कानपुर देहात बरौली निवासी 75 वर्षीय प्रताप सिंह भी सो रहे थे। रात में करीब 11:30 बजे धर्मेंद्र ने अचानक संतोष पर मुगरी से प्रहर करना शुरू कर दिए, शोर सुनकर जागे प्रताप ने बीच बचाव का प्रयास किया तो उनपर भी नौकर ने जानलेवा हमला कर दिया। शनिवार की सुबह कोतवाली प्रभारी टीपी वर्मा उपनिरीक्षक पंकज यादव ने गांव पहुंचकर घटना की पड़ताल की। ग्रामीणों ने बताया कि आरोपित धर्मेंद्र तीन साल से संतोष के घर पर नौकर है। वह कभी बोलता नहीं था और इशारे में लोगों से बात किया करता था। हत्या के बाद ग्रामीणों ने जब उसे पीटा तो वह बोलने लगा।

बिजली निगम के अकाउंटेंट और बाबू बर्खास्त

गोरखपुर. नगरीय विद्युत वितरण खंड द्वितीय बक्शीपुर में कुछ साल पहले बिजली के 78 बिलों में संशोधन कर निगम को राजस्व की क्षति पहुंचाने वाले कर्मचारियों पर गाज गिर ही गई। बक्शीपुर के अकाउंटेंट रामधनी चौधरी को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। वर्तमान में सलेमपुर में कार्यालय सहायक वीरेंद्र चौधरी की को भी बर्खास्त किया गया है। बक्शीपुर में लिपिक रह चुके नितिन नारायण श्रीवास्तव को पदावनत करते हुए उनकी सेवा प्रारंभ के समय के वेतनमान पर फिर से बहाल किया गया है। नितिन पर 78000 रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। नितिन देवरिया जिले के गौरी बाजार में कार्यकारी सहायक के रूप में कार्यरत हैं। बक्शीपुर के तत्कालीन अधिशासी अभियंता आरसी पांडेय पर भी कार्रवाई हुई है। हालांकि पूर्वांचल विद्युत वितरण खंड क्षेत्र में उनकी तैनाती न होने के कारण अभी कार्रवाई की जानकारी नहीं हो सकी है। आरसी पांडेय वर्तमान में अधीक्षण अभियंता के पद पर प्रमोट हो चुके हैं।

पांच माह की मासूम बच्ची और मां की मौत

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी स्थित रोहनिया थाना के दरेखू गांव में शुक्रवार शाम पांच माह की बच्ची और मां की संदिग्ध परिस्थितियों में कमरे के अंदर मौत हो गई। मायके वालों ने ससुराल पक्ष पर मां और बच्ची को जलाकर मारने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। उधर, परिजनों के अनुसार करंट लगने से बहू और पांच माह की बच्ची की मौत हुई है। इस दौरान पहुंची पुलिस ने मां और बच्ची का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा। फोरेंसिक टीम ने भी घटनास्थल की जांच पड़ताल की। दरेखू निवासी श्याम बिहारी सिंह के पुत्र अभिषेक सिंह की शादी 2019 में भदोही के सुधवल निवासी प्रतीक्षा (25) के साथ हुई थी। प्रतीक्षा व उसकी पांच माह की मासूम बच्ची वान्या थी। घर पर सास मंशा देवी व ननद महिमा थी। शाम को जब पति अभिषेक घर पहुंचा तो पत्नी प्रतीक्षा का कमरा अंदर से बंद था। आवाज देने पर दरवाजा नहीं खुला तो तोड़ा गया और देखा कि पत्नी व बच्ची मृत अवस्था में पड़े थे। इसके बाद सूचना पाकर मायके पक्ष से प्रतीक्षा की छोटी बहन शीतल और फुफेरे भाई बृजरेश्वर और चचेरे भाई दीपक भी पहुंचे। आरोप लगाया कि प्रतीक्षा और उसकी पांच माह की बच्ची को जलाकर मरा गया। बाल और चेहरे सब झुलसे हुए थे।

ये भी पढ़ें: Quick Read: पीड़िता की पहचान उजागर करने पर होगी एफआईआर

ये भी पढ़ें: Quick Read: पारिवारिक विवाद में पति ने पत्नी की काट दी नाक

mausam
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned