आईपीएस और पीपीएस अफसरों के सिलेबस में शामिल होगा हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे केस

कानपुर जिले के चर्चित हिस्ट्रीशटर विकास केस को सिलेबर से तौर पर पुलिस अकैदमी में आईपीएस और पीपीएस अधिकारियों को पढ़ाया जाएगा।

By: Karishma Lalwani

Published: 31 Oct 2020, 03:51 PM IST

लखनऊ. कानपुर जिले के चर्चित हिस्ट्रीशटर विकास केस को सिलेबर से तौर पर पुलिस अकैदमी में आईपीएस और पीपीएस अधिकारियों को पढ़ाया जाएगा। आईपीएस और पीपीएस अधिकारियों की ट्रेनिंग और पाठ्यक्रम को बेहतर बनाने के लिए कमेटी गठित की गई थी। कमेटी में यह सुझाव सरकार को दिया गया कि विकास दुबे के केस को आईपीएस और पीपीएस के कोर्स में शामिल किया जाए। इसके साथ ही ज्योति हत्याकांड को भी किताबों के सिलेबस में शामिल किया जाएगा।

बेहतर पुलिसिंग में मिलेगी मदद

विकास दुबे के केस को कोर्स में शामिल करने के पीछे तर्क है कि इससे नए बैच के आईपीएस और पीपीएस अफसर इसको पढ़कर बेहतर पुलिसिंग के गुर सीखेंगे। बता दें कि इसी साल दो जुलाई को बिकरू कांड में पुलिस हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने गई थी तभी उसने ताबड़तोड़ हमला कर आठ पुलिस वालों को मार दिया था। इस पूरे प्रकरण में पुलिस की तरफ से दबिश और जांच की कई खामियों का खुलासा हुआ था। पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे फरार हो गया और करीब एक हफ्ते के बाद उसे मध्य प्रदेश से पकड़ा गया। कानपुर लाते वक्त पुलिस एनकाउंटर में उसे ढेर कर दिया गया।

ये भी पढ़ें: ट्रेन की चपेट में आने से सात मवेशियों की मौत, एक जख्मी

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned