शादी के कुछ ही दिन बाद पत्नी की खुली पोल, नहीं थे सर पर एक भी बाल, पति के उड़े होश

गोरखपुर में एक महिला 'बाला' निकली और शादी के कुछ ही दिन बाद जब पति को इसका पता चला तो जानें उसने क्या किया।

By: Abhishek Gupta

Updated: 16 Jul 2021, 06:54 PM IST

लखनऊ. विवाह एक पवित्र रिश्ता है, जो सच्चाई व भरोसे पर टिका होता है। और यदि दोनों गलत साबित हों, तो रिश्ता चलाना बेहद मुश्किल है। उत्तर प्रदेश में दो ऐसे ही मामले सामने आए हैं, जिसमें एक पक्ष को शादी के कुछ ही दिनों बाद ऐसा धोखा मिला, जिसकी उन्होंने कल्पना भी नहीं की होगी। एक की पत्नी उम्रदराज निकली, तो दूसरे की पत्नी के सिर पर बाल नहीं थे। दोनों मामलों में पति ने मुकदमा दर्ज किया व बात तलाक तक भी आ गई है। पत्नियां बेबस हैं और पूछ रही हैं कि आखिर उनकी फरियाद अब कौन सुनेगा।

ये भी पढ़ें- यूपी एटीएस की छानबीन में हुए हैरान करने वाले खुलासे, बातचीत के कोडवर्ड से लेकर मानव बम तक को लेकर आईं यह बातें सामने

पत्नी की गिरी विग, पति हैरान-
लोकप्रिय फिल्म 'बाला' की कहानी तो याद ही होगी जिसमें आयुष्मान खुराना के किरदार को गंजा दिखाया गया है। लेकिन यह सच्चाई छुपाने पर उसे अंत में अपनी पत्नी से तलाक मिल जाता है। कुछ ऐसा ही हुआ है गोरखपुर में जहां 'बाला' एक महिला निकली और शादी के कुछ ही दिन बाद जब पति को इसका पता चला तो बात तलाक तक पहुंच गई। मामला गोरखपुर के पीपीगंज का है, जहां रहने वाले एक युवक की शादी 15 दिन पहले ही हुई थी। नई-नई शादी को लेकर दूल्हा भी खूब उत्साहित था, लेकिन एक दिन उसके होश तब उड़ गए जब पत्नी की विग अचानक निकलकर जमीन पर गिर गई। पता चला कि दुल्हन गंजी है। जिन्हें वह रेशमी बाल समझ रहा था, वह असल में विग थी।

पति ने वापस अपनाने से किया इंकार-
पति ने इसकी जानकारी परिजनों को दी। सभी ने तय किया कि दुल्हन को उसके घर वापस भेज देंगे। कुछ हंगामा के बाद दुल्हन को वापस मायके भेज दिया गया। परिजनों ने बताया कि हमसे झूठ बोलकर रिश्ता जोड़ा गया। दुल्हन के सिर पर एक भी बाल नहीं है, यह बात हमसे छिपाई गई। वहीं, लड़की की मां ने पीपीगंज थाने में तहरीर देकर कार्रवाई की गुहार लगाई। इस पर पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने बुलाया और आपसी सहमति से मामला सुलझाने की बात कही, लेकिन पति व उसके घर वाले उसे वापस ले जाने को राजी नहीं हुए। पुलिस अधिकारी ने बताया कि एक बार फिर अगले सप्ताह दोनों पक्षों को पंचायत करने के लिए बुलाया गया है। अगर समझौते से बात खत्म हो जाती है तो ठीक है, वर्ना केस दर्ज करने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

पत्नी की उम्र बताई गलत-

दूसरा मामला प्रयागराज से है। यहां एक वकील ने अपनी पत्नी, ससुरीजन व शादी करवाने वाले बिचौलियों पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। पति का आरोप है कि उसकी पत्नी की उम्र गलत बताकर उससे शादी कराई गई है। महिला उससे उम्र में बड़ी है। दस्तावेजों में हेरफेर कर उसके साथ धोखा हुआ है। मामला प्रयागराज में कालिंदीपुरम का है। वकील का कहना है कि इसी अप्रैल में लॉकडाउन के दौरान उनकी शादी सुल्तानपुर की एक लड़की से हुई। शादी से पूर्व लड़की की उम्र कम बताई गई थी। बायोडाटा, आधार कार्ड आदि दस्तावेजों में लड़की की जन्मतिथि 1992 लिखी है।

शादी के बाद हुआ संदेह-
शादी के बाद जब पति ने पत्नी का चेहरा देखा तो उसे संदेह हुआ। उसकी उम्र ज्यादा लगी। इस पर पति ने पत्नी से पूछा, तो उसने सब कुछ सच बता दिया। पत्नी ने बताया कि उसका वास्तविक जन्म 1987 का है। साथ ही बताया कि उसके घरवालों ने उसकी हाईस्कूल की मार्कशीट में जन्मतिथि 1989 लिखवाई है। पति का आरोप है कि लड़की को घरवालों ने जो दस्तावेज पेश किए उसमें जन्मतिथि 1992 लिखी थी। जो सीधे-सीधे धोखाधड़ी का मामला है। लड़के के बारे में संस्कारी, पढ़ाई में तेज जैसी बातें बताई गई थी, लेकिन यह सब झूठ है। पत्नी सारे गहने लेकर मायके जा चुकी है। ससुराल वाले वकील कोधमकी दे रहे हैं। कह रहे हैं कि अब शादी हो चुकी है, उम्र से क्या मतलब। अधिवक्ता ने पत्नी, ससुराल वालों के साथ ही शादी कराने वाले कई लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज करा दिया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned