योगी मंत्रिमंडल विस्तार में ये मंत्री ले सकते हैं शपथ, इनके नामों पर हुई चर्चा

योगी मंत्रिमंडल विस्तार में ये मंत्री ले सकते हैं शपथ, इनके नामों पर हुई चर्चा

Karishma Lalwani | Updated: 20 Aug 2019, 02:18:02 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- योगी कैबिनेट के मंत्रीमंडल विस्तार बुधवार को

- अच्छी पर्फार्मेंस वाले मंत्रियों का हो सकता है प्रमोशन

- खराब पर्फार्मेंस वाले मंत्रियों की होगी छुट्टी

लखनऊ. योगी मंत्रीमंडल के विस्तार की तारीख का ऐलान हो चुका है। बुधवार 21 अगस्त को मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। राजभवन में होने वाले मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर नए मंत्रियों की लिस्ट राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को भेजू जा चुकी है। योगी कैबिनेट के मंत्रिमंडल में एक दर्जन से ज्यादा मंत्री शामिल होंगे। इनमें अच्छई पर्फार्मेंस वाले मंत्रियों को प्रमोशन मिलने की अटकले हैं। वहीं नॉन पर्फार्मिंग मंत्रियों की छुट्टी लगभग तय है। साथ ही कई मंत्रियों को संगठन भेजा जा सकता है।

करीब एक दर्जन से ज्यादा चेहरे मंत्रिमंडल में शामिल होंगे। इनमें बीजेपी संगठन में मजबूत पकड़ रखने वाले अशोक कटारिया का नाम तय माना जा रहा है। इसके अलावा विद्यासागर सोनकर (एमएलसी), विजय बहादुर पाठक (एमएलसी), बुक्कल नवाब (एमएलसी), उदयभान सिंह (फतेहपुर सीकरी), कपिल देव अग्रवाल( मुजफ्फरनगर), अनिल शर्मा (बुलंदशहर), पंकज सिंह (गौतमबुद्धनगर), संजीव राजा (अलीगढ़), नीलिमा कटियार (कानपुर), दल बहादुर कोरी (राय बरेली), आशीष पटेल (अपना दल एस/अनुप्रिया पटेल के पति और एमएलसी) के नाम को लेकर चर्चा है। चार स्वतंत्र प्रभार वाले मंत्रियों को प्रमोट भी किया जा सकता है। इनमें महेंद्र सिंह, सुरेश राणा, अनिल राजभर और उपेंद्र तिवारी का नाम शामिल है। वहीं, मंत्री धर्मपाल सिंह और अनुपमा जायसवाल के विभाग बदलने की बात कही जा रही है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ बीजेपी आलाकमान से मिलकर सूबे के चार मंत्रियों के कामकाज पर नाराजगी जता चुका है। इसके अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद भी कई मंत्रियों और उनके विभागों के कामकाज के तरीके से खुश नहीं हैं।

इससे पहले मंत्रिमंडल का विस्तार सोमवार को होना था। लेकिन अरुण जेटली के खराब स्वास्थय का कारण बताकर मंत्रिमंडल विस्तार को रोक दिया गया। वहीं, दूसरा कारण कुछ नामों पर असहमति भी बताया जा रहा था। योगी आदित्यनाथ नॉन परफॉर्मिंग मंत्रियों को हटाना चाहते हैं जबकि राजनीति और जातीय संतुलन को देखते हुए संगठन ज्यादा काट-छांट नहीं चाहता। वहीं, बेजेपी के सहयोगी दलों की तरफ से भी कैबिनेट में नामों में दबाव है।

इन मंत्रियों ने दिया है इस्तीफा

सीटों के अनुपात के अनुसार योगी आदित्यनाथ कैबिनेट में मंत्रियों की संख्या 60 तक हो सकती है। योगी कैबिनेट में 47 मंत्री थे, जिनमें से तीन, रीता बहुगुणा जोशी, डॉक्टर एस पी सिंह बघेल और सत्यदेव पचौरी सांसद निर्वाचित होने के बाद मंत्री पद से इस्तीफा दे चुके हैं।

ये भी पढ़ें: योगी मंत्रिमंडल में शामिल होंगे आधा दर्जन नये मंत्री, इनकी हो सकती है छुट्टी, इनका नाम लगभग फाइनल

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned