कोरोना के ताप से बिगड़ी बाजार की तबीयत, निवेशकों को 4 मिनट में 6 लाख करोड़ रुपए का नुकसान

  • सेंसेक्स 1755 अंकों की गिरावट के साथ खुला सेंसेक्स
  • निफ्टी 50 में देखने को मिल रही है 517 अंकों की गिरावट
  • टेलीकॉम कंपनियों और ऑयल कंपनियों के शेयर डूबे

By: Saurabh Sharma

Updated: 19 Mar 2020, 01:31 PM IST

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस का बढ़ता प्रकोप, सुप्रीम कोर्ट की टेलीकॉम कंपनियों की फटकार और क्रूड ऑयल के दाम ऑल टाइम लो पर चले जाने की वजह से शेयर बाजार भारी गिरावट के साथ खुला है। निवेशकों को 4 मिनट के अंतराल में 6 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हो गया है। यही कारण है बाजार के दोनों प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी 6 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। टेलीकॉम कंपनी भारती इंफ्राटेल के शेयर17 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। वहीं बीपीसीएल के शेयरों में 12 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिल रही है। क्रूड ऑयल के दाम ऑल टाइम लो पर चले जाने से रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 7 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है। सभी सेक्टर्स लाल निशान पर कारोबार कर रहे हैं।
सेंसेक्स

बाजार लाल, निवेशक बेहाल
आज शेयर बाजार में बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है। बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 1814.80 अंकों की गिरावट के साथ 27054.71 अंकों को पर कारोबार कर रहा है। जानकारों की मानें तो सेंसेक्स 27 हजार का स्तर तोड़ सकता है। वहीं निफ्टी 50 भी 8 हजार से नीचे आते हुए 531.65 अंकों की गिरावट के साथ 7937.15 अंकों पर कारोबार कर रही है। जानकारों के अनुसार आज निफ्टी के लिए 8 हजार के स्तर पर कायम रहने की बड़ी चुनौती होगी। छोटी और मझौली कंपनियों के इंडेक्स में बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है। बीएसई स्मॉल कैप 717.61, बीएसई मिड-कैप 727.59 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। वहीं विदेशी निवेशकों का इंडेक्स सीएनएक्स मिडकैप 888.30 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है।

सेक्टोरल इंडेक्स में बड़ी गिरावट
आज बैंकिंग, ऑटो और ऑयल सेक्टर में बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है। बीएसई ऑटो 810.41 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। वहीं बैंक एक्सचेंज में 2005.59 और बैंक निफ्टी में 1679.90 अंकों की गिरावट देखने को मिल रही है। तेल और गैस 798.80 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। भारती इंफ्राटेल के शेयरों में बड़ी गिरावट आने के बाद कंज्यूमर ड्यूरेबल्स सेक्टर में 1622.79 अंकों की गिरावट देखने को मिल रही है। कैपिटल गुड्स 563.66, बीएसई एफएमसीजी 448.31, बीएसई हेल्थकेयर 504.70, बीएसई आईटी 560.61, बीएसई मेटल 361.66, बीएसई पीएसयू 240.75, बीएसई टेक 298.40 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं।

भारती इंफ्राटेल के शेयरों में बड़ी गिरावट
आज लगातार दूसरे दिन भारती इंफ्राटेल के शेयरों में बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है। मौजूदा समय में भारती इंफ्राटेल 15.78 फीसदी की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। बजाज फाइनेंस के शेयरों में 12.78 फीसदी, ओएनजीसी 10.93 फीसदी, इंडसइंड बैंक 10.83 फीसदी, भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन 10.43 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है। क्रूड ऑयल के दाम में लगातार गिरावट आने से रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 7 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिल रही है। वहीं दूसरी ओर एनटीपीसी 4.97 फीसदी और पॉवर ग्रिड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया के शेयरों में 3.12 फीसदी की तेजी देखने को मिल रही है।

4 मिनट में गंवा दिए 6 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा
वहीं आज की गिरावट की वजह से शेयर बाजार के निवेशकों को महज चार मिनट में 6 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हो चुका है। वास्तव में बीएसई के मार्केट कैप के हिसाब से निवेशकों का नुकसान और फायदा तय होता है। बुधवार को बीएसई का मार्केट कैप 1,13,53,329.30 करोड़ रुपए पर बंद हुआ था। जब मार्केट खुला और 9 बजकर 20 मिनट पर बीएसई का मार्केट कैप 1,07,40,394.68 करोड़ रुपए पर आ गया। दोनों दिनों के अंतर को देखें तो 612934.62 करोड़ रुपए देखने को मिल रहा है। यही निवेशकों का नुकसान है। अगर बात 37 दिनों की करें तो निवेशकों को 50 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हो चुका है।

Coronavirus Impact
Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned