बजट आने से पहले बाजार हुआ धड़ाम, करीब 7 लाख करोड़ का हुआ नुकसान

  • रिकॉर्ड लेवल पर पहुंचने के बाद सेंसेक्स 1800 से ज्यादा अंकों तक गिरा
  • निफ्टी में तीन दिन में देखने को मिल चुकी है 500 से ज्यादा अंकों की गिरावट
  • बाजार निवेशकों को भी हो चुका है 7 लाख करोड़ रुपए तक का नुकसान

By: Saurabh Sharma

Updated: 25 Jan 2021, 05:05 PM IST

नई दिल्ली। सेंसेक्स के 50 हजार अंकों के पार करने के बाद शेयर बाजार का मूड ऐसा बिगड़ा कि अभी तक सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। 21 जनवरी से अब तब शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ। अगर बात आज की करें तो सेंसेक्स में करीब 531 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ। जबकि निफ्टी 50 में 133 अंकों की गिरावट आई। आज देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस के शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिली और 5 फीसदी का लोअर सर्किट लग गया। जबकि कंपनी के तिमाही नतीजे काफी शानदार देखने को मिले थे।

सेंसेक्स और और निफ्टी में मुनाफावसूली जारी
21 जनवरी को जब बाजार 50 हजार अंकों को पार किया था, उसी दिन से बाजार ने बैक गियर लगाना शुरू किया। तब से अब तक बाजार उल्टी ही दिशा में दौड़ रहा है। सोमवार को बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 530.95 अंकों की गिरावट के साथ 48,347.59अंकों पर बंद हुआ। जबकि रिकॉर्ड लेवल से सेंसेक्स 1836.8 अंक नीचे आ चुका है। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 133 अंकों की गिरावट के साथ 14,238.90 अंकों पर बंद हुआ। जो कि 21 जनवरी के रिकॉर्ड लेवल से 514.65 अंक फिसल चुका है।

तीन दिन में बाजार धड़ाम

दिन सेंसेक्स निफ्टी 50 मार्केट कैप
21 जनवरी 50,184.01 अंक 14,753.55 अंक 199 लाख करोड़
25 जनवरी 48,347.59 अंक 14,238.90 अंक 192 लाख करोड़
नुकसान 1,836.81 अंक 514.65 अंक 7 लाख करोड़

आईटी और ऑयल सेक्टर में बड़ी गिरावट
सेक्टोरल इंडेक्स में बड़ी गिरावट देखने को मिली। बीएसई आईटी 346.01 और तेल और गैस 313 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुए। बीएसई मिड-कैप 214.53 और बीएसई स्मॉल कैप 211.25 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुए। वहीं विदेशी निवेशकों का इंडेक्स सीएनएक्स मिडकैप 203.80 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ। बीएसई ऑटो 193.09, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स 174.40, कैपिटल गुड्स 133.62, बीएसई टेक 132.24, बीएसई एफएमसीजी 97.95, बीएसई पीएसयू 78.53 और बैंक एक्सचेंज में 9.02 अंकों की गिरावट देखने को मिली। वहीं बैंक निफ्टी 31.15 अंकों की मामूली बढ़त के साथ बंद हुआ। वहीं बीएसई हेल्थकेयर 198.02 अंकों की बड़ी तेजी देखने को मिली। बीएसई मेटल 21.61 अंकों की तेजी के साथ बंद हुआ।

यह भी पढ़ेंः- दुनिया की सबसे मूल्यवान आईटी कंपनी बनने के बाद फिर से पिछड़ गई टीसीएस

बढ़त और गिरावट वाले शेयर
ग्रासिम इंडस्ट्रीज के शेयरों में आज 6.55 फीसदी की तेजी देखने को मिली है। जबकि यूपीएल 3.74 फीसदी, सिपला 3.53 फीसदी, हीरो मोटोकॉर्प 2.96 फीसदी और एक्सिस बैंक 2.16 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुए हैं। वहीं दूसरी ओर आज रिलायंस के शेयरों में 5 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ बंद हुए। रिलायंस का शेयर आज 5.30 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ। इंडसइंड बैंक 4.94 फीसदी, एचसीएल टेक्नॉलजी 3.89 फीसदी, टाटा मोटर्स 3.53 फीसदी और आयशर मोटर्स 3.47 फीसदी की गिरावट देखने को मिली।

निवेशकों को भारी नुकसान
जब सेंसेक्स 50 अंकों को क्रॉस कर गया था तब बीएसई का मार्केट 199 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया था। तब से अब तक बीएसई के मार्केट कैप में 7 लाख करोड़ रुपए की गिरावट आ चुकी है। आज बीएसई का मार्केट कैप 1,92,26,221.53 करोड़ पर पहुंच गया है। अब आप अंदाजा सकते हैं कि निवेशकों को इस दौरान 7 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned