Reliance Rights Issue की Share Market में धमाकेदार Entry, 690 रुपए पर Share हुआ List

  • RIL Shares से अलग Reliance PP के नाम से List हुए नए शेयर
  • Reliance PP का Listing के लिए 646 रुपए प्रति शेयर रखा गया था Base Price

By: Saurabh Sharma

Updated: 15 Jun 2020, 01:50 PM IST

नई दिल्ली। पहले जियो के जरिए एक लाख करोड़ रुपए का निवेश और रिलायंस राइट्स इश्यू की लिस्टिंग ( Reliance Rights Issue Listing ) के जरिए कमाई। 2020 का यह लॉकडाउन और कोरोना से लिपटा हुआ समर मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani ) को काफी भा रहा है। पहले बात राइट्स इश्यू की करें तो आज शेयर बाजार ( Share Market ) में उसकी शानदार एंट्री हुई। राइट्स इश्यू शेयर 690 रुपए पर लिस्ट हुआ। जबकि उसका बेस प्राइस 646 रुपए रखा गया था। इस राइट्स इश्यू के शेयरों में रिलायंस इंडस्ट्रीज ( Reliance Industries Shares ) के शेयरों से बाहर रखा गया है। इन्हें रिलायंस पीपी ( Reliance PP ) का नया नाम दिया जो मार्केट में लिस्ट हो चुके हैं। इसके लिए एक अलग आईएसआईएन नंबर IN9002A01024 भी जारी हुआ है। आपको बता दें कि आरआईएल के 53,124 करोड़ रुपए का राइट्स इश्यू 3 जून को बंद हुए थे।

Good News : इस साल Onion Price में नहीं होगा इजाफा, Govt ने बनाया कुछ इस तरह का Plan

शानदार मिला था रिस्पांस
जब रिलायंस राइट्स इश्यू को लाया गया था तब यह करीब 1.5 गुना अधिक सब्सक्र्राइब हुआ था। इस इश्यू की रिटेल का हिस्सा 1.22 गुना भरा गया था। राइट्स इश्यू के तहत शेयरधारकों को आरआईएल ने 15 शेयरों पर एक शेयर दिया था। जिसके तहत शेयर का दाम 1257 रुपए घोषित किया था। आवेदन करने के साथ शेयरधारकों को 25 फीसदी यानी 314.25 रुपए भी चुकाने थे, बाकी रकम को 2 किस्तों में देना है। अब राइट्स इश्यू जारी होने के बाद मुकेश अंबानी की रिलायंस तमें हिस्सेदारी 49.14 फीसदी हो गई है। मुकेश अंबानी की फैमिली ने राइट्स में 28,286 करोड़ रुपए डाले हैं।

9 दिनों में 5 रुपए से ज्यादा महंगे हो गए Petrol और Diesel के दाम, जानिए आपके शहर में कितनी हो गई कीमत

एक लाख्ख करोड़ रुपए का हासिल किया विदेशी निवेश
रिलायंस इंडस्ट्री की जियो प्लेटफॉर्म के माध्यम से मुकेश अंबानी ने काफी विदेशी निवेश जुटाया है। बीते दो महीनों में जियो प्लेटफॉर्म के जरिए मुकेश अंबानी ने 1.04 लाख करोड़ रुपए हासिल किए हैं। इस दौरान विदेशी निवेश के तहत 10 डील हुई हैं। जिसमें फेसबुक जैसी बड़ी कंपनी से लेकर आबूधाबी की दो कंपनियों, जनरल अटलांटिक, सिल्वर लेक, विस्टा आदि कंपनियों की ओर से निवेश किया गया है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned