डेंगू के बाद अब मरीजों में स्क्रब टाइफस की पुष्टि, 12 की मौत और 74 मरीज अस्पताल में भर्ती

सीएमओ डॉ. रचना गुप्ता ने डीएम नवनीत चहल को भी इस स्थिति से अवगत कराया है।

By: Nitish Pandey

Published: 31 Aug 2021, 02:29 PM IST

मथुरा. उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के कुछ गांव में बुखार की वजह से अब तक बच्चों सहित कई लोगों की जान जा चुकी है। मौतों के बाद हरकत में आए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जब गांवों में बुखार से पीड़ित लोगों के सैम्पल लिए गए हैं तो उनमें डेंगू, मलेरिया, जापानी बुखार के अलावा स्क्रब टाइफस नामक बीमारी के दस्तक देने की पुष्टि हुई। इससे स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है।

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश में अवैध संबंध के कारण हर रोज बेखौफ होकर गिराई जा रही लाशें

मथुरा में बुखार से 12 की मौत

जिले के फरह ब्लॉक के कोंह गांव में 26 मरीजों में स्क्रब टाइफस की पुष्टि होने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में कैंप किए हुए है। इसके साथ ही इसी गांव में डेंगू के 62 और पिपरौठ गांव में 11 केस मिले हैं, जबकि सकरवा में एक मरीज में डेंगू की पुष्टी हुई है। जिले में बुखार से मरने वालों की संख्या भी बढ़कर 12 पर पहुंच गई है।

डेंगू और जापानी बुखार के मरीज भी बढ़े

मथुरा के फरह ब्लॉक के कोह गांव में रहस्यमय बुखार के चलते एक सप्ताह के भीतर ही 6 बच्चों की मौत हो गई। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने गांव में कैंप लगाकर बुखार से पीड़ित लोगों की जांच और उन्हें दवाएं उपलब्ध कराई। फरह ब्लॉक के गांव कोह, पिपरौठ, जचौंदा आदि क्षेत्रों में मलेरिया एवं डेंगू के केस मिले हैं। मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है। कोह में एक मरीज जेई (जापानी बुखार) का भी मिल चुका है।

स्क्रब टायफस मरीज मिलने से हड़कंप

अब मथुरा में नई बीमारी ने दस्तक दे दी है। इसका नाम स्क्रब टायफस है जोकि जीवाणु जनित संक्रमण बताया गया है। कोह गांव में कुछ लोगों में स्क्रब टायफस के लक्षण मिले हैं। टीम द्वारा पिछले दिनों जांच के लिए सैंपल लिए गए थे, जिसमें इसकी पुष्टि हुई है। यह रिपोर्ट मुख्यालय से स्वास्थ्य विभाग को प्राप्त हुई है। सीएमओ डॉ. रचना गुप्ता ने डीएम नवनीत चहल को भी इस स्थिति से अवगत कराया है।

मरीजों के इलाज में लगाई गई हैं टीमें

कंट्रोल रूम प्रभारी डॉ. भूदेव सिंह ने बताया कि बीमारी को लेकर कुछ रिपोर्ट्स आई हैं। एक नई बीमारी स्क्रब टायफस के लक्षण कुछ लोगों में मिले हैं। कोह गांव से इसके सैंपल लिए गए थे। ट्रेसिंग के साथ सुधार कार्य जारी है। डेंगू केस भी मिले हैं। विभाग की टीमें इन क्षेत्रों में उपचार के लिए लग गई हैं। रविवार को डेंगू के 40 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। अब तक कोंह में 62 डेंगू मरीज मिल चुके हैं। जबकि फरह के ही पिपरौठ गांव में डेंगू के 11 मरीज मिले है। इसके अलाव सकरावा में एक मरीज समेत जिले में 74 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है।

लखनऊ और दिल्ली से टीम पहुंची मथुरा

रविवार को निजी हास्पिटल में बुखार से पीड़ित बुजर्ग महिला और जचौंदा के युवक की जयपुर में मौत हो गई। जिले में बुखार से मरने वालों की संख्या अब 12 हो गई है। कोंह में स्क्रब टाइफस नामक बीमारी से पीड़ित 26 मरीजों के मिलने से स्वास्थ्य विभाग ने अफरा-तफरी मच गई। कोंह के बाद अब लखनऊ और दिल्ली की टीम ने जचौंदा गांव डेरा जमा लिया है।

BY: Nirmal Rajpoot

यह भी पढ़ें : कोरोना के बाद अब जिले में डेंगू बना चुनौती, मिल चुके हैं तीन केस

Nitish Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned