script 108, 102 एंबुलेंस कर्मचारी बोले- मोबाइल नंबर से हो रहा है करोड़ों का घोटाला | scam worth crores is being done through mobile numbers | Patrika News

108, 102 एंबुलेंस कर्मचारी बोले- मोबाइल नंबर से हो रहा है करोड़ों का घोटाला

locationमऊPublished: Feb 01, 2024 03:14:10 pm

Submitted by:

Abhishek Singh

भ्रष्टाचार को लेकर एंबुलेंस कर्मचारी संघ ने दिया जिलाधिकारी को ज्ञापन, बोले फर्जी आधार और मोबाइल नंबर से हो रहा है करोड़ों का घोटाला

ambulesh.jpg
एंबुलेंस चालक
जीवनदायनी स्वास्थ्य विभाग 108, 102 एंबुलेंस कर्मचारी संघ उत्तर प्रदेश के कर्मचारी कलेक्ट्रेट पहुंचे और एंबुलेंस भ्रष्टाचार बंद करो का नारा लगाते हुए प्रदर्शन किया। एंबुलेंस सेवा देने वाले संस्था EMRI ग्रीन हेल्थ सर्विस पर गंभीर आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।
कर्मचारी संघ के अभिषेक मिश्रा ने बताया कि 108,102 एंबुलेंस जैसी महत्वपूर्ण सेवा में EMRI ग्रीन हेल्थ सर्विस के द्वारा व्यापक रूप से भ्रष्टाचार किया जा रहा है। जिसकी व्यापक पैमाने पर जांच कर कार्रवाई की जानी चाहिए। कंपनी लगातार अपने कर्मचारियों पर दबाव बनाकर फर्जी मरीजों की संख्या दिखाकर बिल भुगतान प्राप्त कर रही है।
फर्जी आधार संख्या और मोबाइल नंबर दर्ज कर हर महीने करोड़ का भुगतान प्राप्त किया जा रहा है। इस वजह से मरीज को सेवा नहीं मिल पा रहा है और शासन स्तर पर व्यापक मामले में करोड़ों रुपए का पलीता भी लगाया जा रहा है। एंबुलेंस में ऑक्सीजन सिलेंडर और जीवन रक्षक दावों का अभाव है किसी भी एंबुलेंस में मानक के अनुसार उपकरण मौजूद नहीं है। कर्मचारियों को समय पर डीजल भी नहीं दिया जाता है.एंबुलेंस में मानक अनुरूप उपकरण तो मौजूद नहीं है वहीं कर्मचारियों को समय पर डीजल नहीं दिया जाता है लगभग एंबुलेंस पर स्टेफनी गायब है जिस वजह से आए दिन लोगों को एंबुलेंस सेवा न मिलने से जान गंवानी पड़ रही है।
इस पूरे मामले में जहां एंबुलेंस कर्मचारी संघ ने व्यापक पैमाने पर जांच कर कार्रवाई करने की मांग करी है वहीं अब मामला भ्रष्टाचार से जुड़ा होने के कारण जनपद के अधिकारियों और स्वास्थ्य विभाग के भी कान खड़े हो गए हैं।

एंबुलेंस संघ के प्रदेश अध्यक्ष हनुमान पांडेय ने कहा कि हम लोग ज्ञापन देने आए हैं जिलाधिकारी को। इस समय एंबुलेंस में काफी भ्रष्टाचार हो रहा है जो बड़े स्तर पर हो रहा है इसकी शिकायत हम लोगों ने डिप्टी सीएम बृजेश पाठक से किए थे जांच भी हुई थी जांच में हर जिले में करोड़ों करोड़ों रुपए का घोटाला भी सामने आया था। लेकिन अब तक उस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। इस संबंध में डिप्टी सीएम बृजेश पाठक से पुनः हम लोग अवगत कराए हैं इस की जांच कर कर उचित कार्रवाई करें अन्यथा हम लोग आंदोलन करेंगे।

ट्रेंडिंग वीडियो