यूपी के बागपत जिले में 50 दलित परिवरों ने दी इस्लाम धर्म अपनाने की चेतावनी, प्रशासन में मचा हड़कंप

ऊंची जाति की प्रताड़ना से परेशान होकर उठाने जा रहे ये कदम

Iftekhar Ahmed

21 Jul 2018, 04:03 PM IST

बागपत. उत्तर प्रदेश के बागपत में योगी सरकार में दलितों का है बुरा हाल। अपने बुरे हालात से परेशान होकर 50 से ज्यादा दलित परिवरों ने धर्म परिवर्तन और पलायन करने की चेतावनी दी है। ऊंची जाति के लोगों के उत्पीड़न से परेशान और पुलिस की लापरवाही के चलते दलितों ने धर्म परिवर्तन करने की चेतावनी दी है। सैकड़ों दलितों ने गांव में पंचायत कर हिन्दू धर्म छोड़कर इस्लाम अपनाने की बात कही है। आरोप है कि गांव के ऊंची जाति के लोग उनके खिलाफ फर्जी मुकदमे दर्ज कराते हैं। दलित समाज के कई युवकों को दबंग ऊंची जाति के लोगों ने रेप और छेड़छाड़ जैसे फर्जी मुकदमे करवाकर जेल भिजवा दिया है। पुलिस पर भी दलितों ने आरोपियों का सहयोग करने का आरोप लगाया है। इन लोगों का आरोप है कि पुलिस पैसे लेकर ज्यादती करने वालों से साठगांठ करती है और दलितों को जेल में डाल देती है।

दरअसल, ये पंचायत सिंघावली अहीर थाना के फतेहपुर गांव में हुई है। जहां पुलिस और ऊंची जाति के लोगों के उत्पीड़न से परेशान दलित समाज के लोगों ने इस्लाम धर्म स्वीकार करने का एेलान कर दिया है। उत्पीड़न से परेशान दलितों ने पंचायत बुलाई। पंचायत में दलित समाज के सेकड़ों लोग पहुंचे, जिन्होंने पुलिस पर सुनवाई न करने और उत्पीड़न का आरोप लगाया है। कई बार उच्च अधिकारियों से भी मिले हैं, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई। पंचायत में निर्णय लिया गया कि अगर उनका उत्पीड़न बन्द नहीं हुआ और उनके समाज के युवकों पर दर्ज मुकदमे वापस नहीं लिए गए तो वो लोग सामूहिक धर्म परिवर्तन कर लेंगे। एसपी बागपत जयप्रकाश से लिखित शिकायत करते हुए दलितों ने उत्पीड़न की बात कही है। पुलिस और दबंगों पर नकेल कसने की मांग उठाई है। हालांकि, इस पूरे मामले में सपी ने पूरे मामले की जांच कराने की बात कही है। साथ ही कहा कि छेड़छाड़ के आरोपी के समर्थन में पंचायत कर धर्म परिवर्तन की चेतावनी देना भी गलत है। उन्होंने निष्पक्ष जांच करने के बाद कार्रवाई की बात कही है।

Show More
Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned