scriptAkhilesh yadav said Jayant and I are farmer sons | UP Assembly Election 2022 : "मैं और जयंत किसान के बेटे,चुनाव भाजपा के लिए राजनैतिक पलायन सिद्ध होगा'' | Patrika News

UP Assembly Election 2022 : "मैं और जयंत किसान के बेटे,चुनाव भाजपा के लिए राजनैतिक पलायन सिद्ध होगा''

UP Assembly Election 2022 : सपा रालोद गठबंधन और भाजपा में इस समय पहले चुनाव में जोरदार टक्कर है। भाजपा को गठबंधन से कड़ी चुनौती मिल रही है। वहीं अखिलेश और जयंत इस समय किसानों की सहानभूति बटोरने में लगे हुए हैं।

मेरठ

Published: January 29, 2022 10:58:47 am

UP Assembly Election 2022 : मेरठ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व की सरकारों ने जा बजट अपना पूरे पांच साल में पेश किया उतना तो आज गन्ना किसानों के खाते में भाजपा सरकार डाल चुकी है। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस बयान पर सपा रालोद गठबंधन की ओर से पत्रकार वार्ता कर रहे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और जयंत चौधरी ने करारा उत्तर दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सिर पर लाल टोपी और हाथ में लाल पोटली लेकर अपने बराबर में बैठे रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी की ओर देखते हुए कहा कि हम किसान के बेटे हैं। किसानों के लिए आखिरी दम तक लड़ाई लड़ेगे। हम अन्न का मोल समझते हैं इसलिए ही अपने साथ लाल पोटली को अपनी जेब में लेकर हमेशा चलते हैंं।
UP Assembly Election 2022 :
UP Assembly Election 2022 :
उन्होंने लाल पोटली हाथ में लेकर कहा कि गठबंधन की सरकार बनने के बाद गन्ना किसानों का भुगतान 15 दिन के भीतर होगा। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा को हराने और प्रदेश से भगाने के लिए वे अन्न का संकल्प लेकर अपने साथ चलते हैं। अखिलेश ने मुजफ्फरनगर से लेकर लखनऊ तक ग्रीन एक्सप्रेस बनाने का वादा किया। उन्होंने कहा कि यहां के लोगों को लखनऊ जाने में काफी परेशानी उठानी होती है। इस ग्रीन एक्सप्रेस के बनने से यहां के लिए लखनऊ पहुंचाना आसान होगा। गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि वे जिस विभाग के मंत्री हैं जरा देश के कानून व्यवस्था की स्थिति को देखे। देश में कानून व्यवस्था बहुत बत्तर हालत में है।
यह भी पढ़े : UP Assembly Elections 2022 : हस्तिनापुर से मुख्यमंत्री योगी की ललकार,दंगे के आरोपी जिन्न की तरह बंद

रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि हमारे प्रत्याशी को चुनाव प्रचार की अनुमति नहीं मिल रही है। हमारे प्रत्याशी अपने विधानसभा क्षेत्र में वीडियो वैन चलाने के लिए अनुमति मांग रहे हैं। लेकिन नहीं दी जा रही है। उन्होंने कहा कि जबकि भाजपा प्रत्याशी अपने क्षेत्र में चुनाव प्रचार वैन में वीडियो चला रहे है और पूरे प्रदेश में घूम रहे हैं। उन्होंने निर्वाचन आयोग से इसकी शिकायत करने की बात कही। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि यह चुनाव भाजपा का प्रदेश से राजनैतिक पलायन सिद्ध होगा। मैं और जयंत किसान के बेटे हैं और जब किसान के बेटे मैदान में उतरते हैं तो कार्पोरेट नेताओं को जनता नकार देती है। अखिलेश यादव ने कहा कि हमने गठबंधन इसलिए किया है कि चौधरी चरण सिंह की विरासत को आगे बढ़ाए और किसानों को उनका हक दिलवाए। भाजपा सरकार ने किसानों को उनकी दोगुना आय की बात की थी लेकिन आज किसान समय से फसल नहीं बो सकता न बेच सकता है। इन्हीं किसानों को खत्म करने के लिए भाजपा तीन कृषि कानून लाई। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों के साथ ऐसा क्यों किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.