Alert: दो अप्रैल की घटना से सबक लेते हुए इस बार यूपी के इस शहर में पुलिस आैर प्रशासन है मुस्तैद

Alert: दो अप्रैल की घटना से सबक लेते हुए इस बार यूपी के इस शहर में पुलिस आैर प्रशासन है मुस्तैद

Sanjay Kumar Sharma | Publish: Sep, 06 2018 10:04:24 AM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

तब दलित समाज के लोग सड़कों पर उतरे थे, इस बार सवर्णों को है भारत बंद

 

मेरठ। केंद्र सरकार के एससी-एसटी एक्ट में संशोधन को लेकर सवर्णों ने भारत बंद का निर्णय लिया है। जिसके तहत देश के कई राज्यों में गुरुवार को बंद का आह्वान किया गया है। इन राज्यों में मध्यप्रदेश और राजस्थान प्रमुख है। पड़ोसी राज्यों में आज बंद को देखते हुए उप्र के प्रमुख जिलाें में अलर्ट घोषित किया गया है। इन जिलों मे मेरठ भी है। मेरठ में भारत बंद को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। इसके तहत जिले के सभी थानों को अलर्ट किया गया है। जिले के सभी संवेदनशील स्थानों पर और महानगर में पीएसी तैनात की गई है। मध्यप्रदेश और राजस्थान में करणी सेना व ब्राह्मण समाज के कुछ संगठनों ने छह सितंबर भारत बंद का आह्वान किया है। इसके चलते मेरठ में भी अधिकारियों को अलर्ट जारी किया है।

यह भी पढ़ेंः बड़ी खबर: SC-ST एक्ट के विरोध में इन संगठनों ने किया 6 सितंबर को भारत बंद का ऐलान, मोदी सरकार की बढ़ेगी मुश्किलें

इतने स्थानों पर लगाई पीएसी

मेरठ में 21 अतिसंवेदनशील और 39 संवेदनशील स्थानों पर पीएसी लगाई गई है। जिससे कि किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटा जा सके।

मेरठ में हो चुका है पूर्व में इस एक्ट को लेकर दंगा

बताते चले कि बीती दो अप्रैल को एससी-एसटी एक्ट को लेकर दलित समाज के लोग सड़कों पर उतरे थे। इस दौरान हुई हिंसा में कचहरी के पास चली गोली में एक युवक की मौत हो गई थी और दर्जनों लोग घायल हुए थे। हिंसा में करोड़ों रुपये सरकारी और निजी संपति को भी नुकसान पहुंचा था। हिंसा से संबंधित करीब 100 मुकदमों की जांच पुलिस की क्राइम ब्रांच कर रही है। जिसके चलते केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के खिलाफ संसद में प्रस्ताव लाना पड़ा था।

यह भी पढ़ेंः ST-ST एक्ट के विरोध के बीच भाजपा ने OBC वोट बैंक साधने के लिए किया ये काम

सवर्ण संगठन ने नहीं दिया समर्थन

केंद्र के उसी निर्णय के विरोध में सवर्णो के कुछ संगठनों द्वारा भारत बंद के आहवान से सरकारी मशीनरी के हाथ-पाव फूल गए हैं। हालांकि मेरठ के किसी भी सवर्ण संगठन ने भारत बंद को समर्थन नहीं दिया है। एसपी सिटी रणविजय सिंह ने बताया कि फिर भी एहतियात के तौर पर जिले में अलर्ट जारी किया गया है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned