Coronavirus: 10 रुपये की चाय से दूर भागेगा कोरोना, मेरठ का चायवाला कर रहा दावा

Highlights

  • कोरोना की वजह से लोगों में खौफ
  • भूरा अपनी चाय को बता रहा रामबाण
  • मेरठ कचहरी परिसर में बिक रही चाय

 

By: sanjay sharma

Updated: 18 Mar 2020, 05:38 PM IST

मेरठ। कोरोना वायरस को लेकर एक तरफ जहां लोग भयभीत हैं वहीं दूसरी ओर ये कुछ लोगों के लिए वरदान बनकर आया है। मेरठ कचहरी में एक चायवाला भी कोरोना के नाम पर चाय बेंच रहा है। यह चायवाला आजकल चर्चा में बना हुआ है। इसका कारण उसकी चाय है। जिसके लिए वह दावा करता है कि उसकी चाय पीने से कोरोना वायरस नहीं हो सकता है। डीएम कार्यालय के बाहर चाय बेचने वाला भूरा कोरोना से बचाने वाली चाय कहकर अपनी लेमन टी बेच रहा है। भूरे का कहना है कि वह यही आवाज़ लगाते हुए कलेक्ट्रेट में घूमता है कि उसकी चाय जो पिएगा कोरोना उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकेेगा। भूरा का दावा है कि उसकी चाय में लौंग, इलायची, नींबू, काली मर्च और कई अन्य पदार्थ मिलाए गए हैं। वह दिनभर में करीब 200 चाय बेच लेता है।

भूरा चायवाला गत कई वर्षों से कचहरी और कलेक्ट्रेट परिसर में नींबू की चाय बेचता है। कलेक्ट्रेट परिसर में शायद ही कोई ऐसा अधिवक्ता और अधिकारी हो, जो भूरा चायवाले को न जानता हो और उसकी बनाई हुई चाय न पी हो। चायवाले भूरा का कहना है कि डीएम भी पीकर उसके चाय की तारीफ कर चुके हैं। आमतौर पर शांति से चाय बेचने वाला भूरे, जब एकाएक कोरोना वायरस से बचाने वाली चाय की आवाज़ लगाकर चाय बेचने लगा, तो शुरुआत में तो लोग थोड़ा आश्चर्य में पड़े लेकिन जब चाय पी लिए तो तारीफ किए बगैर न रह सके।

लोग जैसे ही कोरोना वायरस से बचाने वाली इस चाय के बारे में सुनते हैं, वे इस चाय को पीने के लिए आकर्षित होते हैं। चाय की कीमत भी मात्र 10 रुपए है। लिहाज़ा लोग फौरन ही 10 रुपए का नोट भूरे चायवाले को दे देते हैंं। वहीं इस बारे में जब सीएमओ डा. राजकुमार से बात की गई तो उन्होंने इस बारे में अनभिज्ञता जाहिर की है। वहीं जब डीएम अनिल ढीगरा से बात करने के लिए फोन किया गया तो उनका फोन नहीं उठा।

sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned